Posted on

भाजपा कार्यकारिणी : मिशन – 2019 के लिए शाह ने गिनाने के लिए काम और हमले के लिए नाम तय किया

गुजरात व हिमाचल प्रदेश विधानसभा चुनाव से ठीक पहले भारतीय जनता पार्टी की कार्यकारिणी में अमित शाह ने अपने अध्यक्षीय भाषण से यह संकेत दे दिया कि मिशन – 2019 के लिए उनका निशाना कौन होंगे. अमित शाह ने अपने अध्यक्षीय भाषण में कांग्रेस के उपाध्यक्ष और संभावित अध्यक्ष राहुल गांधी पर निशाना बोला. देश की दूसरी सबसे बड़ी पार्टी के नेता के रूप में शाह को यह अंदाज है कि उनका मुकाबला राहुल के नेतृत्व व कौशल से ही होना है, इसलिए उन्होंने सीधे राहुल को निशाने पर लिया.
अमित शाह ने कार्यकारिणी की बैठक में न्यू इंडिया की सोच के आधार पर 2019 के चुनाव में बड़ी जीत का खाका पेश किया. इसमें गंदगी, गरीबी, भ्रष्टाचार, आतंकवाद, जातिवाद, सांप्रदायिकता एवं तुष्टीकरण की राजनीति को देश से समाप्त करने की बातों का प्रमुखता से उल्लेख किया. जीएसटी के माध्यम से कर नीति एवं डोकलाम व आतंकवाद के मुद्दे पर कूटनीतिक सफलता का उन्होंने प्रमुखता से उल्लेख किया. यानी अमित शाह ने 2019 के चुनाव में गिनाने के लिए काम और हमले के लिए नाम तय कर लिया है.

दिलचस्प यह कि जब अमित शाह की अध्यक्षता में दिल्ली में भाजपा की कार्यकारिणी की बैठक हो रही है, ठीक इसी दौरान कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी उनके गृह प्रदेश गुजरात के तीन दिन के दौरे पर गये हैं और वहां उन्होंने द्वारकाधीश मंदिर में पूजा-अर्चन कर भाजपा और मोदी सरकार पर जमकर हमला बोला है. अमित शाह ने अमेरिका में राहुल गांधी द्वारा वंशवाद के संबंध में दिये गये बयान पर तीखा हमला बोलते हुए उसे खारिज किया.

Leave a Reply