Posted on

महिला टॉयलेट में घुसे राहुल गांधी, गुजराती न आना पड़ा भारी

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी पीएम नरेंद्र मोदी के गृह राज्य गुजरात में विधानसभा चुनाव को लेकर काफी मेहनत कर रहे हैं. राहुल कई सभाएं कर रहे हैं और उन सभाओं में जमकर पीएम मोदी पर तंज कस रहे हैं. हालांकि बुधवार को छोटा उदयपुर सभा के दौरान राहुल गांधी के साथ एक गजब घटना घटी. आने वाले दिनों में इस घटना को यादकर राहुल गांधी खुद हंसेंगे. इस घटना का कारण बना उनका गुजराती न आना.

राहुल गांधी छोटा उदयपुर में जनसभा कर रहे थे और संवाद कार्यक्रम के दरबार हॉल में युवाओं से बातचीत कर रहे थे. इसी बीच उन्हें टॉयलेट जाना पड़ा, हालांकि वह जेंट्स टॉयलेट की जगह लेडीज टॉयलेट में पहुंच गए. यह मामला बड़ा हास्यास्पद बन गया.

इस टॉयलेट में एक पेपर पर गुजराती भाषा में लेडीज टॉयलेट लिखा था. टॉयलेट के दरवाजे पर कोई तस्वीर नहीं थी. इसी वजह से राहुल गुजराती नहीं समझ पाए और महिला शौचालय में चले गए.

इसके बाद राहुल गांधी के एसपीजी ने लोगों को वहां से हटा दिया. हालांकि राहुल गांधी को महिला शौचालय से बाहर आते देखकर सभी लोगों की हंसी छूट पड़ी.

वहीं इससे पहले मध्य गुजरात के दाहोद जिले के लिमखेड़ा शहर में एक विशाल जनसमूह को संबोधित करते हुए राहुल ने कहा, ‘मोदीजी को यह अहसास हुआ कि नोटबंदी से आम लोग और छोटे व्यापारी पूरी तरह बर्बाद नहीं हुए हैं. इसलिए उन्होंने वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) लाने का फैसला किया.’

कांग्रेस नेता ने कहा कि जब नरेंद्र मोदी यहां के मुख्यमंत्री थे, तब भाजपा सरकार ने लोगों की मूलभूत जरूरतों जैसे स्वास्थ्य एवं शिक्षा की कीमत पर राज्य का ‘बहुमूल्य धन एवं संसाधन’ उद्योगपतियों पर खर्च कर दिया. उन्होंने कहा कि यही गुजरात मॉडल है. यही अच्छे दिन है…लेकिन सिर्फ मोदीजी और शाहजी के लिए….बाकी देश के लिए नहीं.

राहुल गांधी यहां चुनाव प्रचार अभियान के दूसरे चरण में तीन दिवसीय दौरे के अंतिम दिन लोगों को संबोधित कर रहे थे. उन्होंने इससे पहले गुजरात के सौराष्ट्र में 25 से 27 सितंबर के बीच तीन दिन की यात्रा की थी.

Leave a Reply