Views 455
0 0
Read Time2 Minute, 37 Second
मप्र के रायसेन में बचत का एक बेहद अनोखा और बड़ा उदाहरण देखने को मिला है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बचत करने के संदेश से प्रभावित होकर रायसेन के एक परिवार ने बचत के रूप में सिक्कों को जोड़ना शुरू कर दिया. धीरे-धीरे उन्होंने 57 हजार रुपए जमा कर लिए. दीपावली के उत्साह के बीच त्यौहार पर मिलने वाली छूट का लाभ उठाने के लिए परिवार का युवक जब अपने सपनों की बाइक खरीदने सिक्के लेकर शोरूम पहुंच गया. रायसेन के एक बाइक शो रूम पर एक युवक चार थैलों में 57 हजार रुपए की चिल्लर लेकर बाइक खरीदने पहुंच गया. पहले तो शोरूम संचालक ने इतने ज्यादा सिक्के देखकर गाड़ी देने से मना कर दिया. लेकिन युवक की इच्छा को ध्यान में रखकर वाहन विक्रेता ने बैंक प्रबंधन से उक्त सिक्के जमा होने का अाश्वासन मिलने पर उसे बाइक उपलब्ध करवा दी. उक्त युवक की किराना दुकान है. इस दुकान पर आने वाले सिक्कों को बचत के रूप में उसके परिवार ने जोड़ना शुरू कर दिया था. तीन साल में उसके पास बाइक खरीदने लायक सिक्के एकत्रित हो गए, तो वह उन्हें चार थैलों में भरकर रायसेन के सागर रोड स्थित एक बाइक शो रूम पर पहुंच गया. हालांकि युवक जो सिक्के लेकर आया था, उन सिक्कों को गिनने में शोरूम के कर्मचारियों को तीन घंटे का समय लग गया. कुणाल का कहना है कि अब वह यह सिक्के बाजार में जरूरत मंद व्यापारियों को देने के बाद बचे हुए सिक्के बैंक में जमा करा देंगे. जानकारी के अनुसार उक्त युवक एक-एक रुपए के 14 हजार 600 सिक्के, दो-दो रुपए के 15 हजार 645 सिक्के, 5-5 रुपए के 1458 सिक्के और 10-10 रुपए के 322 सिक्के लेकर आया था. इस तरह युवक ने 57 हजार रुपए बाइक खरीदने के लिए चिल्लर के सिक्के शोरूम पर जमा कराई.
Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleppy
Sleppy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %