Posted on

राज़ी के 100 करोड़ होते ही आलिया भट्ट के बढ़ गए ‘भाव’

लगातार सफ़लता और मार्केट पोजीशन देखते हुए आलिया भट्ट ने अपनी फीस बढ़ा ली है l बताते हैं कि अब वो करीब नौ करोड़ रूपये मेहनताना लेंगी l सूत्रों के मुताबिक उनके पास लगातार बड़े बजट की फिल्मों के ऑफ़र आ रहे हैं l इस समय वो करण जौहर, साजिद नाडियाडवाला, ज़ोया अख्तर जैसे बड़े मेकर्स के साथ कलंक, ब्रह्मास्त्र, गल्ली बॉय जैसी फिल्मों में काम कर रही हैं l ऐसी भी ख़बर है कि संजय लीला भंसाली भी आलिया को लेकर एक फिल्म बनने की प्लानिंग कर चुके हैं l ऐसे में आलिया चाहती हैं कि उन्हें उनकी मेहनत का कुछ और ज़्यादा पुरस्कार मिले l

आलिया भट्ट के करियर पर गौर करें तो पायेंगे कि छह साल के छोटे से करियर में सिर्फ शानदार को छोड़ कर उनकी सारी फिल्में क्रिटिकली और कमर्शियली सफ़ल रही हैं l उनकी आख़िरी रिलीज़ फिल्म राज़ी ने तो अब तक 108 करोड़ से अधिक की कमाई कर ली है l हाल ही में आलिया ने एक ख्वाहिश ज़ाहिर की थी कि वो अब निर्माता बनना चाहती हैं। आलिया के मुताबिक हालांकि वो इसके लिए अभी बहुत जल्दबाज़ी में नहीं हैं कि वो तुरंत अपना कोई प्रोडक्शन हाउस खोल लें लेकिन अगर कोई अच्छी स्क्रिप्ट आती है और उन्हें कंटेंट पसंद आता है तो वो इस दिशा में जरुर कदम बढ़ाना चाहेंगी। मज़े की बात है कि आलिया ने अपने पिता के नामी प्रोडक्शन हाउस विशेष फिल्मस में अब तक कोई फिल्म नहीं की है लेकिन ख़ुद निर्माता बनने की इच्छा उनमें जरुर है।

आलिया ने एक बातचीत में ये भी कहा है कि उन्हें छोटे परदे पर भी काम करना है लेकिन इसके लिए अभी समय है। अलिया, आजकल के दौर को देखते हुए एक वेब सीरीज़ और इंटरनेशनल फिल्म में भी काम करना चाहती है। लेकिन उसकी ये सब ख्वाहिशें कब पूरी होंगी ये कहा नहीं जा सकता।

Posted on

हैदराबाद का बेहतरीन प्रदर्शन जारी, दिल्ली को मिली 9 विकेट से करारी हार

IPL के 42वें मैच में दिल्ली के कप्तान श्रेयस अय्यर ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया और पहले बल्लेबाजी करते हुए दिल्ली ने निर्धारित 20 ओवर में 5 विकेट के नुकसान पर 187 रन का सम्मानजनक स्कोर खड़ा किया। हैदराबाद ने 188  रन के लक्ष्य को एक विकेट के नुकसान पर 18.5 ओवर में हासिल कर लिया इस मैच में सनराइजर्स हैदराबाद की शुरुआत अच्छी नहीं रही उसके सलामी बल्लेबाज शिखर धवन और एलेक्स हेल्स ने पहले विकेट के लिये मात्र 15 रन ही जोड़े थे कि एलेक्स हेल्स 14 रन बनाकर आउट हो गये। इसके बाद दिल्ली के गेंदबाज पूरे मैच में शिखर धवन और कप्तान केन विलियम्सन के आगे बेबस नजर आए।

शिखर धवन और केन विलियम्स ने लगाए अर्धशतक

88  रन के लक्ष्य का पीछा करने उतरी हैदराबाद की टीम की शुरुआत अच्छी नहीं रही उसका पहला विकेट मात्र 15 रन पर गिर गया लेकिन इसके बाद बल्लेबाजी करने आए कप्तान केन विलियम्सन ने शिखर धवन के साथ मिलकर दिल्ली के गेंदबाजों की बखिया उधेड़ दी। शिखर धवन ने जहां अपनी 50 गेंदों की पारी में  92 रन बनाए उन्होंने इस दौरान 9 चौके और  4  छक्के लगाए। तो वहीं कप्तान केन विलियम्सन ने अपनी 53 गेंदों की पारी में  83 रन बनाए इस दौरान उन्होंने 8 चौके और  2  छक्के लगाए। दोनों ही बल्लेबाज अपनी टीम को विजय दिलाकर नाबाद लौटे।

ऋषभ पंत ने लगाया नाबाद शतक

दिल्ली की ओर से पृथ्वी शॉ और जेसन रॉय पारी की शुरुआत के लिये बल्लेबाजी करने पहले विकेट के लिये मात्र 21 रन जोड़ने के बाद दोनों ही बल्लेबाज शाकिब का शिकार बन गये। इसके बाद दिल्ली के स्टार बल्लेबाज ऋषभ पंत ने कप्तान अय्यर के साथ मौर्चा संभाला एक रन लेने के चक्कर में अय्यर भी रन आउट हो गये अब पंत ने हर्षल पटेल के साथ मिलकर दिल्ली की पारी को आगे बढ़ाया। दोनों ने 55 रन की साझेदारी कर दिल्ली को शुरुआती झटकों से उबारा अब पंत खुल चुके थे और अपना अर्धशतक भी पूरा कर चुके थे। इसके बाद पंत ने ग्लेन मैक्सवेल के साथ 31 गेंदों पर 63 रनों की तेज साझेदारी की। जिसमें मैक्सवेल ने मात्र 9 रन का योगदान दिया। पंत ने आज एंकर की भूमिका निभाते हुए नाबाद शतक जमाया। उन्होंने कुल 63 गेंदों का सामना किया और इस दौरान 15 चौके और  7 छक्के लगाकर नाबाद 128 रन बनाए।

Posted on

48 घंटे में धरती पर बरसेगा सूरज का कहर बंद होगा टीवी, मोबाइल और जीपीएस

अगले 48 घंटे में धरतीवासियों को सूरज का गुस्सा झेलना पड़ सकता है। सूरज के कोप से आपके मोबाइल का सिग्नल जाम हो सकता है, जीपीएस गड़बड़ा सकता है और तो और आपको एंटरटेन करने वाला टीवी भी बंद हो सकता है।

सूरज का यह गुस्सा दरअसल एक खगोलीय घटना है, जिसे सौर तूफान कहते हैं। खगोल वैज्ञानिकों ने सूरज पर चलने वाले तूफान के अगले 48 घंटे में धरती से टकराने की आशंका जताई है। विशेषज्ञों का कहना है कि इसके प्रभाव से उपग्रह आधारित सेवाएं जैसे मोबाइल, केबल नेटवर्क, जीपीएस नैविगेशन प्रभावित हो सकते हैं। इसके अलावा रेडिएशन के खतरे की भी आशंका है।

वैज्ञानिकों के अनुसार, भारत से पहले इसका असर अमेरिका और यूके में दिख सकता है। सौर तूफान के धरती से टकराने पर कुछ समय के लिए टेक ब्लैकआउट की स्थिति बन सकती है। नैशनल ओशन ऐंड अटमॉस्फियर असोसिएशन ने कहा है कि जब यह तूफान आएगा तो उत्तर और दक्षिण में तेज रोशनी नजर आएगी। हालांकि संस्थान ने इसे जी-1 या हल्का सौर तूफान ही करार दिया है। असोसिएशन फोरकास्ट का कहना है कि यह तूफान रविवार या सोमवार को आ सकता है। इस दौरान काफी तजे सौर हवाएं चलेंगी।

नासा की ओर से जारी की गई तस्वीर में गैस के इस तूफान को देखा जा सकता है। विदेशी मीडिया से आ रही खबरों के मुताबिक सूरज में एक कोरोनल होल खुलेगा, जिसके कारण उससे भारी मात्रा में ऊर्जा निकलेगी। इसमें कॉस्मिक कण भी होंगे। खगोल विशेषज्ञों का कहना है कि सोलर डिस्क के लगभग आधे हिस्से को काटते हुए एक बड़ा सा छेद बनेगा, जिसके जरिये सूरज से पृथ्वी की ओर बेहद गर्म हवा का एक तूफान आएगा।

बता दें कि सौर तूफान सूर्य की सतह पर आए क्षणिक बदलाव से उत्पन्न होते हैं। इन्हें पांच श्रेणी जी-1, जी-2, जी-3, जी-4 और जी-5 में बांटा गया है। इनमें जी-5 श्रेणी का तूफान सबसे खतरनाक हो सकता है। जानकारों का कहना है कि जी-1 श्रेणी के तुफान का सबसे ज्यादा असर पावर ग्रिड और माइग्रेटरी बर्ड्स पर पड़ता है।

Posted on

13 राज्‍यों में जारी किया आंधी-तूफान का अलर्ट, हरियाणा में आज और कल बंद रहेंगे स्‍कूल, बरतें ये सावधानियां

दिल्ली सहित देश के कई हिस्सों में शुक्रवार तक आंधी-तूफान की चेतावनी जारी की गई है. हाल ही में हिमाचल प्रदेश के पहाड़ों में ताजा बर्फबारी हुई. भारतीय मौसम विभाग (आईएमडी) ने कहा कि उत्तर प्रदेश, बिहार, पश्चिम बंगाल, सिक्किम, ओडिशा, असम, मेघालय, नगालैंड, मणिपुर, मिजोरम, त्रिपुरा, कर्नाटक और केरल आंधी-तूफान से प्रभावित हो सकते हैं.

9 मई तक ऐसे ही हालात

आंधी-तूफान की चपेट में इस बार राजधानी दिल्ली भी आ सकती है. दिल्ली में तेज हवाओं के साथ बारिश का अनुमान जताया गया है. मौसम विभाग का कहना है कि दिल्ली में मंगलवार दोपहर 4 बजे बारिश हो सकती है. हालांकि सोमवार रात आंधी तूफान का असर कम दिखेगा, लेकिन मंगलवार को इसकी तीव्रता ज्यादा हो सकती है. ऐसे हालात 9 मई तक बने रह सकते हैं.

मौसम विभाग ने कहा कि हरियाणा, चंडीगढ़ और दिल्ली में अलग-अलग स्थानों पर आंधी की संभावना है. राजस्थान में धूलभरी आंधी चलने की चेतावनी जारी की गई है, जबकि छह पूर्वोत्तर राज्यों में भारी बारिश की उम्मीद है. महाराष्ट्र के विदर्भ में कुछ इलाकों में लू की भी चेतावनी दी गई है.

मौसम लेगा करवट

मौसम विभाग ने जम्मू-कश्मीर, उत्तराखंड, पंजाब और हिमाचल प्रदेश में आंधी के साथ गरज के साथ छींटे पड़ने की चेतावनी जारी की है. हरियाणा सरकार ने सोमवार को एहतियातन दो दिनों के लिए स्कूल बंद करने के निर्देश दिए. हिमाचल प्रदेश के पहाड़ी इलाकों में सोमवार को हल्की बर्फबारी हुई जबकि कुछ हिस्सों में बारिश हुई. स्थानीय मौसम विभाग ने बुधवार तक राज्य में धूलभरी आंधी, बारिश और बर्फबारी की चेतावनी दी है.

आंधी-तूफान के दौरान बरतें ये सावधानी

-अगर बाहर हों तो किसी पेड़ के नीचे न ठहरें और न ही अपनी गाड़ी पेड़ के नीचे पार्क करें.

-तेज आंधी तूफान आने पर घर में ही रहें, बाहर न निकले.

-अगर बाहर फंस भी जाएं तो पार्क जैसी किसी खुली जगह में लेट जाएं.

-घर के अंदर ऐसे जगह पर जमा हो जाएं जो सबसे मजबूत हो.

-घर में लाइट, गैस, पानी के नल पूरी तरह बंद कर दें.

-अगर एक तरफ से तेज हवा आ रही हो तो दूसरी तरफ की खिड़कियां खोल दें.

पिछले सप्ताह उत्तर प्रदेश और राजस्थान में आंधी की वजह से 100 से ज्यादा लोगों की मौत हो गई थी. 4 मई को आए भयंकर आंधी तूफान ने यूपी में करीब 70 और राजस्थान में करीब 40 लोगों की जान ले ली. आगरा में ही करीब 45 लोगों की मौत हुई. इस बार अलर्ट के मद्देनजर हरियाणा सरकार ने 7 और 8 मई को स्कूल बंद रखने का ऐलान किया है. इसके अलावा दूसरी राज्य सरकारें भी पूरी तरह अलर्ट हैं.

Posted on

IND VS SA: भारतीय महिलाओं की दूसरे टी-20 में नौ विकेट से जीत

मिताली राज (नाबाद 76) और स्मृति मंधाना (57) की बल्लेबाजी के दम पर भारतीय महिला क्रिकेट टीम ने अपना शानदार फॉर्म जारी रखते हुए शुक्रवार को बफेलो पार्क में खेले गए दूसरे टी-20 मैच में दक्षिण अफ्रीका की महिला टीम को नौ विकेट से हरा दिया. पहले बल्लेबाजी करते हुए दक्षिण अफ्रीकी टीम 20 ओवरों में सात विकेट खोकर 142 रन ही बना सकी थी. इस आसान से लक्ष्य को भारतीय महिलाओं ने एक विकेट खोकर 19.1 ओवर में हासिल कर लिया. भारतीय कप्तान मिताली राज लगातार दूसरे मैच में वीमैन ऑफ द मैच रहीं. अब भारतीय टीम पांच मैचों की सीरीज में 2-0 से आगे हो गई है.

View image on TwitterView image on TwitterView image on TwitterView image on Twitter
मैच की बात करें, तो आसान से लक्ष्य का पीछा करने उतरी भारत ने मंधाना के रूप में एकमात्र विकेट गंवाया. मंधाना ने मिताली के साथ पहले विकेट के लिए 106 रन जोड़े. उनका विकेट मोसेलिने डेनियल्स ने लिया. मंधाना ने 42 गेंदों की अपनी पारी में चार चौके और तीन छक्के लगाए. इसके बाद मिताली ने कप्तान हरमनप्रीत कौर (नाबाद 7) के साथ मिलकर भारत को जीत दिलाई. मिताली ने अपनी पारी में 61 गेंदों का सामना किया और आठ चौके जड़े.

 

View image on Twitter
इससे पहले, भारतीय कप्तान ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी चुनी और उनकी गेंदबाजों ने कप्तान के फैसले को सही साबित किया. 29 के कुल स्कोर पर लिजेली ली (15) को शिखा पांडे ने अपना शिकार बनाया. कप्तान डेन वान निएकेर्क भी सिर्फ 15 रन ही बना सकीं और पूजा वस्त्राकर का शिकार बनीं. यहां से भारतीय गेंदबाज लगातार विकेट लेती रहीं और मेजबान टीम बड़ा स्कोर बनाने से चूक गई. उसके लिए सबसे ज्यादा 26 रन नेडलिने डी केर्क ने बनाए. भारत के लिए अनुजा पाटिल और पूनम यादव ने दो-दो विकेट लिए। वस्त्राकर और शिखा को एक-एक विकेट मिला
Posted on

Padman Movie Review: अक्षय कुमार इस कहानी से फिर जीत लेंगे दर्शकों का दिल

जैसा कि हम सभी जानते हैं कि फ़िल्म पैडमैन की कहानी प्रेरित है तमिलनाडु के रहने वाले अरुणाचलम मुरुगनाथम की ज़िंदगी से, जिसने महिलाओं को सस्ते सैनिटरी पैड उपलब्ध कराने के लिए खूब जद्दोजेहद किया. Padman में अक्षय कुमार उसी अरुणाचलम की भूमिका निभा रहे हैं लेकिन किरदार का नाम है लक्ष्मी. पैडमैन की कहानी मध्यप्रदेश की पृष्ठभूमि पर बसी है और दिखाया गया है कि देश की महज़ 12% महिलाएं ही पैड का उपयोग करती हैं और जो बची हैं वो गंदे कपड़े, पत्ते और राख का उपयोग करती हैं जिसकी वजह से कई बीमारियां होती हैं या हो सकती हैं. ऐसे में अपनी पत्नी की इस परेशानी को देख लक्ष्मी अपने परिवार और समाज से लड़ता है. बहुत मशक्कत से सस्ती मशीन बनाता है ताकि महिलाओं को सस्ते पैड दिए जा सके.

पैडमैन की ख़ास बात ये है कि इसके निर्देशक आर बाल्की ने इसकी कहानी अच्छे से पर्दे पर उतारा है. Padman की कहानी की रफ़्तार अच्छी है खास तौर से दूसरे भाग में. फिल्म पैडमैन के द्वारा इस बात पर बार-बार ज़ोर दिया गया है कि इस टॉपिक पर महिलाएं बात तक नहीं करती और बीमारी से डरने के बजाए शर्म से पानी-पानी होती हैं. इसके अलावा महिला सशक्तिकरण और महिलाओं के रोजगार को भी फ़िल्म छूती है. पैडमैन के जरिए अक्षय कुमार ने एक बार फिर अच्छा विषय चुना है और अच्छा अभिनय किया है. यूनाइटेड नेशन्स में अक्षय कुमार की स्पीच दिल को छूती है और लंबा दृश्य होने के बावजूद यह सीन बोर नहीं करती.

फ़िल्म की खामियों की अगर बात करें तो सबसे पहले है इसकी लंबाई जो थोड़ी और कम हो सकती थी. फ़िल्म का पहला हिस्सा ख़ास तौर से थोड़ा लंबा लगता है और थोड़ा प्रीची भी लगती है. लक्ष्मी को समाज से जो गालियां मिलती हैं वो मेरे हिसाब से कुछ ज़्यादा हो गईं.

बता दें कि इस विषय पर पैडमैन पहली फ़िल्म नहीं है. दो और फिल्में बन चुकी है जिसमे एक फ़िल्म है ‘फुल्लू’. इस फ़िल्म में एक पति अपनी पत्नी के लिए पैड बनाने निकला था. दूसरी फिल्म करीब ढाई साल पहले देखी थी जिसका नाम आईपैड था. पैडमैन की घोषणा से पहले आईपैड बन चुकी थी और वो फिल्म भी अरुणाचलम की ज़िंदगी पर बनी थी. किसी कारण से आईपैड रिलीज़ नहीं हो पाई.

दोनों फिल्मों की तुलना तो नहीं करना चाहिए लेकिन यह जरूर है कि आईपैड रियलिटी के ज़्यादा करीब थी और जहां की कहानी कह रही थी वहां के किरदार, हाव-भाव और भाषा भी वहीं की थी जबकि पैडमैन के साथ ऐसा नहीं है और शायद इसे मसालेदार बनाने के लिए कुछ तड़के लगाए गए हैं. पैडमैन को आप एक बार देख सकते हैं क्योंकि इसका विषय अच्छा है जिसे कमर्शियल अंदाज़ में बनाई गई है. इस फ़िल्म के लिए मेरी रेटिंग है 3 स्टार.

Posted on

स्वामी रामदास 12 साल की उम्र में घर त्यागकर बने थे संत, हनुमान अवतार के रूप में होती है पूजा

9 फरवरी को स्वामी रामदास की जयंती है. स्वामी रामदास महाराष्ट्र के प्रसिद्ध सन्त थे. दक्षिण भारत में हनुमानजी के अवतार के रूप में उनकी पूजा की जाती है. वे छत्रपति शिवाजी के भी गुरु थे. उन्होंने मराठी भाषा में एक ग्रन्थ ‘दासबोध’ की रचना की थी. स्वामी रामदास को समर्थ रामदास के नाम से भी जाना जाता है. उनका जन्म 9 फरवरी, 1608 में हुआ था. उनके पिता का नाम सूर्याय पंत था. पिता सूर्यदेव के उपासक थे और प्रतिदिन ‘आदित्यह्रदय’ स्तोत्र का पाठ करते थे. उनकी माता का नाम राणुबाई था. माता भी सूर्य नारायण की उपासिका थीं. स्वामी रामदास के बड़े भाई का नाम गंगाधर था और वे भी अध्यात्मिक पुरुष थे.

मां की बात दिल से लग गई और बन गए संत
कहा जाता है कि मां की एक बात को उन्होंने दिल से लगा लिया. उसके बाद वे नारायण से संत बन गए. स्वामी रामदास के बचपन का नाम नारायण था. वे बहुत शरारती किया करते थे. गांव के लोग उनके शरारत की शिकायत किया करते थे. कहा जाता है कि एक दिन उनकी मां ने कहा कि नाराणय तुम पूरा दिन शरारत करते हो और तुम्हारे बड़े भाई घर परिवार की चिंता करते हैं. तुम्हें किसी की परवाह नहीं रहती. मां की यह बात सुनकर वे घर के एक कमरे में ध्यान लगाकर बैठ गए. पूरे दिन जब वह अपनी को दिखाई नहीं दिए तो शाम को उनकी खोज की जाने लगी. मां ने उन्हें एक कमरे में ध्यानमग्न अवस्था में देखा. इस पर उनकी मां ने पूछा कि यह क्या कर रहे हो तो उन्होंने जवाब दिया कि मैं पूरी दुनिया की चिंता कर रहा हूं.

12 साल की उम्र में घर को त्याग दिया था
स्वामी रामदास 12 साल की उम्र में घर को त्यागकर नासिक के टाकली गांव में आ गए. यहां पर उन्होंने कठोर तप शुरू किया. वे हर रोज सुबह उठकर 1200 सूर्यनमस्कार करते थे. उसके बाद गोदावरी नदी में खड़े होकर राम नाम और गायत्री मंत्र का जाप करते थे. कठोर तप के दौरान ही उन्होंने एक रामायण लिखा जो ‘करुणाष्टक’ नाम से प्रसिद्ध है. वे 12 साल तक कठोर तप करते रहे. 24 साल की उम्र में उन्हें आत्म साक्षात्कार हुआ.

राम नाम का जप करते हुए छोड़ दिया शरीर
स्वामी रामदास अपने जीवन के अंतिम समय में सतारा के पास एक किले पर थे. इस किले को सज्जनगढ़ के नाम से जाना जाता है. तमिलनाडू के एक कारीगर ने प्रभु श्री रामचंद्र, माता सीता और लक्ष्मण की मूर्ति बनाकर सज्जनगढ़ को भेज दी. इसी मूर्ति के सामने स्वामी रामदास ने अपने जीवन के अंतिम पांच दिन निर्जल उपवास किया. फिर रामनाम जाप करते हुए पद्मासन में बैठकर ब्रह्मलीन हो गए. यहीं पर उनकी समाधि है. उनका समाधी दिवस ‘दासनवमी’ के नाम से जाना जाता हैं.

Posted on

होंडा स्पोर्ट्स इलेक्ट्रिक कॉन्सेप्ट से उठा पर्दा

होंडा ने नई सीआर-वीसिविक और अमेज़ के अलावा स्पोर्ट्स इलेक्ट्रिक कॉन्सेप्ट से भी पर्दा उठाया है। स्पोर्ट्स इलेक्ट्रिक कॉन्सेप्ट को पहली बार टोक्यो मोटर शो में पेश किया गया था।

 

Honda Sports EV

 

स्पोर्ट्स इलेक्ट्रिक को नए प्लेटफार्म पर तैयार किया गया है। यह प्लेटफार्म कंपनी ने खासतौर पर इलेक्ट्रिक कारों के लिए तैयार किया है। इसका डिजायन काफी आकर्षक और दमदार नज़र आ रहा है। इसकी ऊंचाई को कम और चौड़ाई को ज्यादा रखा गया है। आगे और पीछे की तरफ दो ब्लैक पैनल दिए गए हैं, जो हैडलैंप्स और टेललैंप्स में मिले हुए हैं। दरअसल ये ब्लैक पैनल एक डिस्प्ले स्क्रीन है, जो दूसरी कारों के ड्राइवर को सकेंत दिखाती है। इस में कार के चार्जिंग स्टेट्स का भी पता चलता है।

 

Honda Sports EV

 

स्पोर्ट्स इलेक्ट्रिक कॉन्सेप्ट में होंडा ऑटोमैटेड नेटवर्क असिस्टेंस भी दिया गया है, जो ड्राइवर को कही अहम जानकारियां देता है। इंजन से जुड़ी जानकारी अभी कंपनी ने साझा नहीं की है। कंपनी के अनुसार इस में लंबी रेंज वाली इलेक्ट्रिक मोटर आएगी, जिसे बॉडी के निचले हिस्से में पोजिशन किया जाएगा।

Posted on

सहवाग ने आइस क्रिकेट मैच में की जबरदस्त बैटिंग, बोले- हथियार छोड़े हैं, चलाना नहीं भूले

स्विट्जरलैंड की बर्फीली पहाड़ियों पर गुरुवार को पूर्व दिग्गज क्रिकेटर्स की टीमों के बीच एक एग्जिबिशन मैच खेला गया। इस मैच में शाहिद आफरीदी की कप्तानी वाली रॉयल्स ने वीरेंद्र सहवाग की पैलेस डायमंड्स को 6 विकेट से हरा दिया। भले ही सहवाग की टीम ये मैच हार गई हो लेकिन मैच में उन्होंने एकबार फिर अपना विस्फोटक अंदाज दिखाया और धुआंधार बैटिंग की। ऐसा रहा मैच…

– इस एक्जिबिशन मैच में वीरेंद्र सहवाग के चौके-छक्के के साथ शोएब अख्तर की तूफानी बॉलिंग भी देखने को मिली।
– सेंट मॉरिट्ज आइस क्रिकेट मैच में पैलेस डायमंड्स के कप्तान सहवाग ने 31 बॉल पर ताबड़तोड़ 62 रन बनाए।
– सहवाग आइस क्रिकेट में फिफ्टी लगाने वाले पहले खिलाड़ी भी बन गए हैं। अपनी इनिंग में उन्होंने 4 चौके और 5 सिक्स भी लगाए।
– वीरू की टीम ने 20 ओवर में 9 विकेट पर 164 रन का स्कोर बनाया था। जवाब में रॉयल्स ने 4 विकेट पर 166 रन बनाकर मैच जीत लिया।


– रॉयल्स की ओर से ओवेस शाह ने 34 बॉल पर 74* रन बनाए। वहीं जैक्स कैलिस ने 36 रन की इनिंग खेली।
– मैच के लिए बर्फ जमी झील पर आर्टिफिशियल पिच बनाई गई थी और ये मैच गुलाबी बॉल से खेला गया। माइनस 20 डिग्री तापमान में हुए इस मैच को देखने 500 दर्शक मौजूद थे।

सहवाग बोले हथियार चलाना नहीं भूला

– अपनी जबरदस्त बैटिंग के बाद सहवाग भी बेहद खुश नजर आए। जिसके बारे में उन्होंने अपने ट्विटर अकाउंट पर लिखा।
– सहवाग ने ट्वीट करते हुए लिखा, ‘हथियार छोड़े हैं, चलाना नहीं भूले हैं। बर्फ पर खूब मजे आए।’

– बैटिंग के दौरान सहवाग ने आते ही पहली बॉल पर चौका मारा, फिर सिक्स लगाकर फिफ्टी पूरी की। उनका स्ट्राइक रेट 200 रहा।
– उनके इस ट्वीट के बाद फैन्स ने भी उनकी जमकर तारीफ की और जीरो पर आउट होने वाले आफरीदी का मजाक उड़ाया।

Posted on

ऑटो एक्सपो 2018 LIVE: शुरू हुआ कारों का मेला, यहां है रफ्तार, शान और भविष्य का संगम

ऑटो एक्सपो में 28 दुपहिया, 14 चौपहिया और 9 वाणिज्यिक वाहन विनिर्माता कंपनियां हिस्सा ले रही हैं. इस प्रदर्शनी के दौरान कुल 100 वाहन पेश किये जायेंगे.

14वें ऑटो एक्सपो 2018 की शुरुआत आज से हो चुकी है. ऑटो एक्सपो ग्रेटर नोएडा के इंडिया एक्सपो मार्ट में 14 फरवरी तक चलेगा. एक्स्पो के पहले दो दिन यानि 7 और 8 फरवरी मीडिया के लिए होंगे, इन दो दिनों में मोटर कंपनियां अपने नए उत्पादों को मीडिया के सामने पेश करेंगी. वहीं 9 से 14 फरवरी तक एक्स्पो आम पब्लिक के लिए होगा.

Auto Expo 2018 LIVE Updates

    • सुजुकी ने अपनी कई एक्सक्लूसिव बाइक्स को इस एक्सपो में शोकेस किया है. कंपनी ने 125 सीसी का नया बर्गमैन स्ट्रीट स्कूटर लॉन्च किया है जो एलईडी हैडलैंप, बॉडी माउंट विंडस्क्रीन के जरिए भारत में स्कूटर्स के क्षेत्र में नया उदाहरण बनेगा.

 

    • ग्लोबल ब्रांड ‘किआ’ की भारत में एंट्री. किआ मोटर्स कोरिया की कंपनी है. ये एक्सपो में 16 गाड़ियां दिखा चुकी हैं जो 2019 में लॉन्च होंगी.

 

    • कार निर्माता कंपनी होंडा ने नई गाड़ियां पेश कीं, ये गाड़ियां आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस से लैस हैं

 

    • इस ऑटो एक्सपो में 28 टू व्हीलर, 14 फोर व्हीलर और 9 कमर्शियिल व्हीकल कंपनियां हिस्सा ले रही हैं. इस प्रदर्शनी के दौरान कुल 100 वाहन पेश किये जायेंगे.

 

    • इस बार में एक्स्पो में 100 एग्ज़िबिटर्ज़ होंगे जो पिछली बार के मुक़ाबले ज़्यादा हैं, पिछली बार के एक्स्पो में 80 एग्ज़िबिटर्ज़ ने हिस्सा लिया था.

 

    • इस बार के एक्स्पो में हालांकि गाड़ियों के एग्ज़िबिटर्ज़ की संख्या पिछले बार के मुक़ाबले कम हुई है. पिछली बार 59 थे इस बार 51 हैं.

 

    • इस शो की टिकट्स 750 रुपये और 350 रुपये के बीच है. वीकडेज में बिजनेस आवर के दौरान टिकट की कीमत 750 रुपये होगी और पब्लिक आवर के दौरान टिकट की कीमत 350 रुपये होगी.

 

  • ऑटो एक्स्पो में भाग लेने के लिए ऑनलाइन और ऑफलाइन टिकट बुक करा सकते हैं. इसके साथ ही कुछ चुनिंदा मेट्रो स्टेशनों पर भी टिकट उपलब्ध होंगी.