Posted on Leave a comment

10000 रुपए लगाकर गोटा पट्टी से शुरू किया बिजनेस। अब है सालाना 30 करोड़ का टर्नओवर!

आज का दौर डेडिकेटेड ई कॉमर्स का है जहां फर्स्ट क्राई ने अमिताभ जी के साथ मिलकर सफलता का इतिहास रचा है। इसी कड़ी में अगला नाम है indianbeautifulart.com का जिसको प्राइवेट बैंक कर्मचारी नितिन कपूर और ई बे कर्मचारी अमित गुप्ता ने 2009 में 10000 रुपए द्वारा बिजनेस की शुरुआत की।

Nitin Kapoor
Nitin Kapoor

कंपनी की शुरुआत लेस और गोटापट्टी की बिक्री से हुई जिसको इन्होंने अमेरिका, यू के और अन्य देशों तक अपने ब्रांड के माध्यम से पहुंचाया।

कंपनी को 2010 में 40 लाख रुपए की एंजेल फंडिंग मिली जिससे अन्य आर्ट्स में भी कारोबार करना शुरू किया।

2015 में इन्होंने जस्ट इन टाइम इन्वेंट्री सिस्टम से कार्य प्रारंभ किया। जहां डिमांड बेस्ड प्रोडक्शन के द्वारा अपने कस्टमर्स की जरूरतों को पूरा किया गया।

आज इंडियन ब्यूटीफुल आर्ट गारमेंट्स के साथ साथ होम फर्निशिंग, प्रिंटिंग, ज्वेलरी, हेल्थ एंड ब्यूटी, बेड एंड बाथ, ऑटोमोबाइल एसेसरीज, पेट एसेसरीज … इत्यादि क्षेत्रों में भी बिजनेस करती है जो 1000 उत्पादकों से उत्पाद लेती है। कंपनी हर माह 31000 ऑर्डर पूरे करती है जो कि मुख्यतः यूएस, यूके, जर्मनी, साउथ ईस्ट एशिया, ऑस्ट्रेलिया और अफ्रीका से आते हैं। कंपनी का रिकॉर्ड सालाना टर्नओवर 30 करोड़ का रहा।

इसी तरह आप भी प्रेरणा लेकर अपने बिजनेस आइडिया को आगे बढ़ाकर AdTO Startup Destination की सर्विसेज द्वारा नई बुलंदियों पर पहुंच सकते हैं।

Posted on Leave a comment

बालों की सेहत के लिए हर किसी को खानी चाहिए ये विशेष चीजें

आइए जानते हैं ऐसी चीजों के बारे में जिन्हें खाने से आपके बाल ना केवल स्वस्थ रहेंगे बल्कि खूबसूरत और चमकीले भी नजर आएंगे.

पालक-
अगर आप शाकाहारी हैं तो पालक से बेहतर बालों के लिए कोई चीज हो ही नहीं सकती है. पालक आयरन, विटामिन ए, सी औऱ प्रोटीन का बढ़िया स्रोत होता है. आय़रन की कमी से ही सबसे ज्यादा बाल झड़ते हैं. पालक केवल आयरन से ही भरपूर नहीं होता है बल्कि इसमें सेबम भी होता है जो बालों के लिए प्राकृतिक कंडीशनर माना जाता है. इसमें ओमेगा-3 एसिड, मैग्नीशियम, कैल्शियम और आयरन भी मौजूद होता है. इससे स्कैल्प हेल्दी और बाल स्वस्थ रहते हैं.

अंडा और दुग्ध उत्पाद-
बालों की ग्रोथ के लिए और मोटे-घने बालों के लिए अंडा व दुग्ध उत्पाद बहुत जरूरी हैं. दूध, योगर्ट और अंडे में कई सारे जरूरी पोषक तत्व जैसे प्रोटीन, विटामिन बी12, आयरन, जिंक और ओमेगा 6 फैटी एसिड्स होते हैं. दुग्ध उत्पाद बियोटीन (विटामिन बी7) का भी अच्छा स्रोत है जो बालों को झड़ने से रोकता है.

नट्स-
बालों को झड़ने से रोकने के लिए अपनी डाइट में नट्स को शामिल कीजिए.  खासकर अखरोट इकलौता ऐसा नट है जिसमें बियोटीन, बी विटामिन्स, विटामिन ई और प्रचुर मात्रा में प्रोटीन और मैग्नीशियम होता है. ये सभी बालों को मजबूत बनाते हैं.

अमरूद-
ये तो आप जानते ही होंगे कि बालों को स्वस्थ रखने के लिए विटामिन सी कितना जरूरी होता है. विटामिन सी बालों को पतला होने से रोकता है. अमरूद में संतरे से भी ज्यादा विटामिन सी होता है. इसकी पत्तियों में भी विटामिन बी और सी होता है जो बालों की ग्रोथ के लिए जरूरी कोलाजेन ऐक्टिविटी को बढ़ाने में मदद करता है.

दालें-
दालें प्रोटीन, आय़रन, जिंक, बायोटिन का भंडार होती हैं जोकि बालों के लिए जरूरी पोषक तत्व होते हैं. इसके अलावा दालें फोलिक एसिड का भी खजाना हैं. फोलिक एसिड लाल रक्त कोशिकाओं को दुरुस्त करती है जिससे स्किन और स्कैल्प को जरूरी ऑक्सीजन उपलब्ध हो पाती है और बाल टूटना रुक जाता है.

जौ- जौ में खूब विटामिन ई होता है जो पतले बालों को ठीक करने में मदद करता है. जौ में आयरन और कॉपर भी होता है जो रेड ब्लड सेल्स का उत्पादन बढ़ाने में मदद करता है.

चिकन-
चिकन प्रोटीन का अच्छा स्रोत है लेकिन अगर आप शाकाहारी हैं तो आप टोफू और पीनट्स से इसकी भरपाई कर सकते हैं.

अलसी का बीज-
अलसी के बीज में ओमेगा-3 फैटी एसिड प्रचुर मात्रा में होता है. आपका शरीर जरूरी फैटी एसिड का उत्पादन नहीं कर पाता है इसलिए आपको अपने आहार से इसकी आपूर्ति करनी चाहिए. अलसी का बीज सबसे बढ़िया विकल्प है.

गाजर-
गाजर केवल आंखों की रोशनी के लिए ही नहीं बल्कि आपके बालों के लिए भी बहुत जरूरी है. इनमें प्रचुर मात्रा में विटामिन ए होता है जो नैचुरल कंडीशनर का काम करता है और आपके बालों को झड़ने से रोकता है.

विटामिन सी की खुराक के लिए खट्टे फल-
आपके शरीर को आयरन के अवशोषण के लिए विटामिन सी की जरूरत होती है इसलिए आपको अपनी डाइट में साइट्रस फ्रूट्स को जरूर शामिल करना चाहिए. न्यूट्रिशनिस्ट का सुझाव है कि एक गिलास नींबू पानी भी पर्याप्त साबित होगा.

इसके अतिरिक्त स्वीट पोटैटो भी विटामिन ए का अच्छा स्रोत है. बालों को स्वस्थ रखने में मदद करता है.