Posted on

विराट पर भारी पड़े रोहित, मुंबई को मिली पहली जीत बैंगलोर को 46 रन से हराया

आइपीएल 2018 के 14 वें मुकाबले में मुंबई इंडियंस का सामना रॉयल चैलेंजर बैंगलोर से हुआ और इस मैच में लगातार तीन हार के बाद मुंबई की टीम को 46 रन से जीत मिली।

इस मुकाबले में विराट ने टॉस जीतने के बाद रोहित की टीम को बल्लेबाजी का न्योता दिया। पहले बल्लेबाजी करते हुए मुंबई ने रोहित और लुइस की शानदार अर्धशतकीय पारी के दम पर 20 ओवर में 6 विकेट पर 213 रन बनाए। बैंगलोर को जीत के लिए 214 रन थे लेकिन कप्तान विराट के नाबाद 92 रन की पारी के बाद भी आरसीबी ने 20 ओवर में 8 विकेट पर 167 रन बनाए।

रोहित और लुइस ने खेली अर्धशतकीय पारी

बैंगलोर के खिलाफ मुंबई इंडियंस की शुरुआत इससे खराब शायद ही हो सकती थी। पहली पारी की पहली ही गेंद पर उमेश यादव ने ओपनर बल्लेबाज सूर्यकुमार यादव को बिना खाता खोले ही क्लीन बोल्ड कर दिया। इसके बाद उसी ओवर की दूसरी गेंद पर ईशान किशन भी बिना खाता खोले उमेश यादव की गेंद पर क्लीन बोल्ड हो गए। इवान लुइन ने 42 गेंदों पर 65 रन की पारी खेली। उनका विकेट कोरी एंडरसन ने लिया। लुइस का कैच डी कॉक ने विकेट के पीछे लपका। कृणाल पांड्या 15 रन बनाकर रन आउट हो गए। पोलार्ड 5 रन बनाकर क्रिस वोक्स की गेंद पर एबी के हाथों कैच आउट हो गए। रोहित शर्मा 52 गेंदों पर 94 रन बनाकर एंडरसन की गेंद पर वोक्स के हाथों कैच आउट हुए। हार्दिक पांड्या 5 गेंदों पर 17 रन बनाकर नाबाद रहे।

बैंगलोर की तरफ से उमेश यादव और कोरी एंडरसन ने दो-दो जबकि क्रिस वोक्स ने एक विकेट लिए।

विराट की नाबाद 92 रन की पारी

बैंगलोर के लिए डी कॉक ने विराट के साथ मिलकर अच्छी शुरुआत की लेकिन वो 12 गेंदों पर 19 रन बनाकर मिचेल मैक्लेघन की गेंद पर क्लीन बोल्ड हो गए। विराट के साथ डी कॉक ने पहले विकेट लिए 40 रन की साझेदारी की। एबी सिर्फ एक रन बनाकर मैक्लेघन की गेंद पर हार्दिक पांड्या के हाथों कैच आउट हो गए। मनदीप सिंह कृणाल की गेंद पर ईशान किशन के हाथों विकेट के पीछे स्टंप आउट हुए। उन्होंने 16 रन बनाए। कोरी एंडरसन बिना खाता खोले ही कृणाल की गेंद पर कैच आउट हुए। उनका कैच जेपी डुमिनी ने पकड़ा। क्रिस वोक्स 11 रन पर जसप्रीत बुमराह की गेंद पर कैच आउट हुए। वाशिंगटन सुंदर 7 रन बनाकर कैच आउट हुए। सरफराज खान 5 रन पर स्टंप आउट हो गए। उमेश यादव एक रन बनाकर बुमराह की गेंद पर क्लीन बोल्ड हो गए। बैंगलोर के कप्तान विराट कोहली ने 62 गेंदों पर नाबाद 92 रन की पारी खेली। मो. सिराज भी 8 रन पर नाबाद पवेलियन लौटे।

मुंबई के लिए कृणाल पांड्या ने तीन, जसप्रीत बुमराह और मैक्लेघन ने दो-दो जबकि मयंक ने एक विकेट लिए।

Posted on

धौनी की दमदार पारी भी चेन्नई को नहीं दिला पाई जीत, पंजाब ने 4 रन से मैच जीता

आइपीएल 2018 के 12वें मैच में चेन्नई सुपर किंग्स का मुकाबला किंग्स इलेवन पंजाब के साथ था और इसमें धौनी की टीम को 4 रन से हार मिली।

इस मैच में चेन्नई के कप्तान महेंद्र सिंह धौनी ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी का फैसला किया। पहले बल्लेबाजी करते हुए पंजाब ने 20 ओवर में 7 विकेट के नुकसान पर 197 रन बनाए। चेन्नई को जीत के लिए 198 रन का लक्ष्य मिला। टीम के कप्तान धौनी ने 79 रन की नाबाद पारी खेलकर टीम को जीत दिलाने की कोशिश की लेकिन वो सफल नहीं हो पाए। चेन्नई ने 20 ओवर में 5 विकेट पर 193 रन बनाए।

धौनी ने खेली शानदार पारी

चेन्नई का पहला विकेट मोहित शर्मा ने लिया। उन्होंने ओपनर बल्लेबाज शेन वॉटसन को बरिंदर के हाथों कैच करवा दिया। शेन ने 9 गेंदों पर 11 रन बनाए। रैना की जगह टीम में शामिल किए गए मुरली विजय 12 रन बनाकर पवेलियन लौट गए। एंड्रयू टे की गेंद पर उनका कैच बरिंदर ने पकड़ा। सैम बिलिंग्स 9 रन बनाकर अश्विन की गेंद पर एलबीडब्ल्यू आउट हुए। अंबाती रायडू सिर्फ एक रन से अपने अर्धशतक से चूक गए। रायडू ने 35 गेंदों पर 49 रन बनाए और रन आउट हो गए। रवींद्र जडेजा 19 रन बनाकर एंड्रयू टे की गेंद पर अश्विन के हाथों कैच आउट हुए। कप्तान धौनी ने 44 गेंदों पर नाबाद 79 रन की पारी खेली पर टीम को जीत नहीं दिला पाए। ब्रावो एक रन बनाकर नाबाद रहे।

पंजाब की तरफ से एंड्रयू टे ने दो जबकि मोहित शर्मा और अश्विन ने एक-एक विकेट लिए।

गेल ने खेली तूफानी पारी

पंजाब का पहला विकेट लोकेश राहुल के तौर पर गिरा। राहुल ने 22 गेंदों पर 37 रन बनाए। उन्होंने पहले विकेट ले लिए गेल के साथ 96 रन की साझेदारी की। राहुल को हरभजन सिंह ने क्लीन बोल्ड कर दिया। क्रिस गेल ने अपने पहले ही मैच में 33 गेंदों पर 63 रन की पारी खेली। उन्हें शेन वॉटसन ने इमरान ताहिर के हाथों कैच आउट करवा दिया। मयंक अग्रवाल 30 रन बनाकर इमरान ताहिर की गेंद पर बोल्ड हो गए जबकि एरोन फिंच इमरान ताहिर की गेंद पर एलबीडब्ल्यू आउट हो गए। वो अपना खाता भी नहीं खोल पाए थे। युवराज सिंह इस मैच में भी नहीं चल पाए। वो 20 रन बनाकर शर्दुल ठाकुर की गेंद पर विकेट के पीछे धौनी के हाथों लपके गए। कप्तान अश्विन ने 14 रन पर अपना विकेट गवां दिया। वो शर्दुल की गेंद पर अपना कैच धौनी को थमा बैठे। करुण नायर 29 रन बनाकर ब्रावो की गेंद पर रवींद्र जडेजा के हाथों लपके गए।

चेन्नई की तरफ से शर्दुल और इमरान ताहिर ने दो-दो जबकि हरभजन सिंह और ब्रावो ने एक-एक विकेट लिए।

Posted on

बैंगलोर को अपने घर में नहीं मिली जीत, राजस्थान रॉयल्स ने 19 रन से हराया

रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर और राजस्थान रॉयल्स के बीच आइपीएल का 11वां मुकाबला आरसीबी के घरेलू मैदान एम चिन्नास्वामी स्टेडियम में खेला गया और इस मैच में विराट की टीम को 19 रन से हार का सामना करना पड़ा।

इस मुकाबले में टॉस जीतकर बैंगलोर के कप्तान विराट कोहली ने पहले गेंदबाज़ी करने का फैसला किया। राजस्थान की टीम ने 20 ओवर में 4 विकेट के नुकसान पर 217 रन का विशाल स्कोर खड़ा किया। राजस्थान की तरफ से संजू सैमसन ने नाबाद 92 रन की तूफानी पारी खेली। बैंगलोर को जीत के लिए 218 रन का लक्ष्य मिला था लेकिन बैंगलोर की टीम 20 ओवर में 6 विकेट पर 198 रन ही बना पाई।

विराट ने लगाया अर्धशतक

बैंगलोर को पहला झटका पारी की शुरुआती में ही लग गया जब ब्रैंडन मैकुलम महज 4 रन के स्कोर पर गौथम की गेंद पर क्लीन बोल्ड हो गए। डार्सी शॉर्ट ने डी कॉक को आउट कर बैंगलोर को दूसरा झटका दिया। डी कॉक 26 रन बनाकर जयदेव उनादकट के हाथों कैच आउट हो गए। कप्तान कोहली ने 30 गेंदों पर तेज 57 रन की पारी खेली मगर वो श्रेयस गोपाल की गेंद पर अपना कैच डार्सी शॉर्ट को थमा बैठे। टीम के तूफानी बल्लेबाज एबी को श्रेयस गोपाल ने जयदेव उनादकट के हाथों कैच आउट करवा दिया। उन्होंने 18 गेंदों पर 20 रन बनाए। पवन नेगी तीन रन बनाकर कैच आउट हो गए। वाशिंगटन सुंदर ने 19 गेंदों पर 35 रन की तेज पारी खेली। उन्हें बेन स्टोक्स ने क्लीन बोल्ड कर दिया। मंदीप सिंह ने 25 गेंदों पर नाबाद 47 रन बनाए लेकिन टीम को जीत दिलाने में कामयाब नहीं हो पाए।

राजस्थान के लिए श्रेयस गोपाल ने दो, गौथम, बेन स्टोक्स, डार्सी शॉर्ट और बेन लॉघलिन ने एक-एक विकेट लिए।

संजू ने बनाए 45 गेंदों पर नाबाद 92 रन

क्रिस वोक्स ने राजस्थान के कप्तान अजिंक्य रहाणे को आउट कर दिया। रहाणे 20 गेंदों में 36 रन बनाकर उमेश यादव को कैच थमा बैठ और बैंगलोर को मिली पहली सफलता। इसके अगले ही ओवर में चहल ने डार्सी शॉर्ट (11) को विकेटकीपर डि कॉक के हाथों कैच आउट करवाकर राजस्थान को दूसरा झटका दे दिया। इसके बाद चहल ने खतरनाक होते बेन स्टोक्स को 27 रन पर बोल्ड कर बैंगलोर को तीसरी सफलता दिला दी। जोस बटलर ने 23 रन की पारी खेली। उन्हें क्रिस वोक्स की गेंद पर कोहली ने कैच आउट किया। संजू सैमसन ने 45 गेंद पर नाबाद 92 रन की पारी खेली। वहीं राहुल त्रिपाठी ने नाबाद 14 रन बनाए। बैंगलोर की तरफ से क्रिस वोक्स और युजवेंद्र चहल ने दो-दो विकेट लिए।

Posted on

व्हाट्सएप का नया QR कोड पेमेंट फीचर पेटीएम और फ्रीचार्ज के लिए बनेगा सिरदर्द

फेसबुक अधिकृत व्हाट्सएप सिर्फ एक मैसेजिंग एप तक ही सीमित नहीं रही है। भले ही इस एप की शुरुआत टेस्टिंग और फोटोज, वीडियोज भेजने से हुई हो। लेकिन इन सालों में व्हाट्सएप ने स्नैपचैट की तरह स्टेटस फीचर्स से लेकर इन-एप यूट्यूब प्लेबैक, वॉयस और वीडियो कालिंग और पेमेंट्स फीचर जोड़ दिया है। इससे यूजर्स का अनुभव और बेहतर हुआ है।

आसानी से भेज पाएंगे पैसे : अब व्हाट्सएप ने QR फीचर पेश किया है। इस फीचर की मदद से यूजर्स आसानी से पैसे भेज पाएंगे। फिलहाल, यह फीचर बीटा वर्जन में है। यह फीचर इससे पहले पेश किए गए सेंड टू यूपीआई आईडी फीचर में जोड़ा गया है।

भारत में QR फीचर पेटीएम, फ्रीचार्ज और मोबिक्विक जैसे ई-वॉलेट एप्स पर पहले से उपलब्ध है। व्हाट्सएप का यह नया पेमेंट फीचर यूजर्स को अपनी ओर आकर्षित करने के साथ-साथ सरकार के डिजिटल इंडिया प्रोग्राम को भी बूस्ट देगा।

कहां उपलब्ध है यह फीचर: यह नया फीचर गूगल प्ले बीटा प्रोग्राम के तहत व्हाट्सएप वर्जन 2.18.93 पर उपलब्ध है। एंड्रॉयड बीटा यूजर्स सेटिंग्स में पेमेंट में जाएं। इसके बाद न्यू पेमेंट्स पर टैप करें। इसमें स्कैन QR कोड का विकल्प दिखाई देगा। इसमें आप जितनी भी राशि भेजना चाहे उसे एंटर कर के सेंड कर दें।

प्रतिस्पर्धियों के लिए खतरा : व्हाट्सएप पे के लॉन्च के कारण भारत में मौजूद लोकल पेमेंट सेवा प्रदाताओं के बीच हलचल मच गई। पेटीएम के सीईओ विजय शेखर शर्मा का डर तो ट्विटर पर सबके सामने भी आ चुका है। उन्होंने कुछ समय पहले ट्ववीट किया था की व्हाट्सएप के इस नए फीचर के आने से यूपीआई सिस्टम आहत होगा।

इस मामले में पेटीएम सीईओ ने किया था ट्ववीट : विजय शेखर शर्मा ने एक बयान में कहा की-”फेसबुक अपना पेमेंट सिस्टम लाकर देश में बड़ा प्लेयर बनकर मोनोपॉली स्थापित करने ओर यूपीआई को अपने फायदे के लिए इस्तेमाल करने का प्रयास कर रहा है।”

हालांकि, अन्य लोकल प्लेयर्स का मानना है की भले ही गूगल ओर व्हाट्सएप जैसी कंपनियों को यूपीआई प्लेटफार्म स्थापित करने के लिए थोड़ी फ्लेक्सिबिलिटी दी जा रही है लेकिन उनसे भी सभी दिशानिर्देशों का पालन करवाया जा रहा है। भारत में व्हाट्सएप लगभग 80 प्रतिशत छोटे बिजनेस को उपभोक्तओं से कनेक्ट करने के लिए मदद करता है।

व्हाट्सएप में जुड़ेंगे ये खास फीचर्स : व्हाट्सएप भविष्य में ऑटो रेस्पोंसेज, बिजनेस प्रोफाइल बनाना, चाट माइग्रेशन ओर एनालिटिक्स जैसे फीचर्स लेकर आएगा। यूजर्स व्हाट्सएप बिजनेस के लिए लैंडलाइन नंबर भी रजिस्टर कर पाएंगे। यह कंपनी द्वारा लिया जाने वाला बड़ा कदम हो सकता है। क्योंकि लोगों को ग्राहकों के साथ अपना निजी नंबर शेयर करना पसंद नहीं होता। बिजनसेज Away का ऑटोमेटेड रिस्पांस भी सेट कर पाएंगे। यह मैसेज उपभोक्ताओं को तब मिलेगा जब वो कंटेट्स करने का प्रयास कर रहे होंगे और आप उपलब्ध नहीं होंगे।

व्हाट्सएप की योजना को ध्यान में रखते हुए यह बात तो साफ है की लोकल ई-वॉलेट कंपनियों के सामने कड़ी प्रतिस्पर्धा है। ग्राहकों को अपनी ओर आकर्षित करने के लिए इन कंपनियों को नए सिरे से योजना बनानी होगी।अन्यथा देश में व्हाट्सएप का एकाधिकार होना संभव है।

Posted on

आखिर ऐसा क्या हुआ जिसे याद कर आज भी कपिल शर्मा की आंखों से निकल जाते हैं आंसू, जानें

टेलीविजन किंग कॉमेडियन कपिल शर्मा ने फिर से छोटे पर्दे पर वापसी कर ली है. कपिल शर्मा ने सोनी टीवी पर फैमिली टाइम विद कपिल से कमबैक किया है. यूं तो कपिल शर्मा का नाम सुनते ही सभी के चेहरों पर मुस्कराहाट छा जाती है लेकिन पिछले कुछ समय से कपिल शर्मा का विवादों से चोली दामन का साथ सा बन गया था. आगे जानिए कॉमेडियन कपिल शर्मा के बारे में कुछ दिलचस्प बातें.

आपको बताते हैं आखिर देश का सबसे बड़े कॉमेडियन कैसे बने कपिल शर्मा. कपिल शर्मा का सफर शुरू हुआ अमृतसर से. कपिल शर्मा का जन्म पंजाब के अमृतसर में 2 अप्रैल 1981 को हुआ था. कपिल के पिता पुलिस डिपार्टमेंट में हेड कांस्टेबल थे और मां जनक रानी एक हाउसवाइफ हैं. कपिल का बचपन अमृतसर की पुलिस कॉलोनी में बीता. यही वजह है कि कपिल अपने करियर की शुरुआत में अक्सर शमशेर सिंह नाम के पुलिसवाले के किरदार में नजर आते थे. कपिल ने अपनी पढ़ाई अमृतसर के हिंदू कॉलेज से की है लेकिन कपिल की जिंदगी इतनी आसान नहीं थी. जब कपिल दसवीं क्लास मे पढ़ रहे थे तो उन्होंने अपनी पॉकेट मनी के लिए अमृतसर के एक टेलीफोन बूथ में भी काम किया था.

कपिल ने एक इंटरव्यू मे बताया कि उन्होंने चंद पैसों के लिए कोल्ड ड्रिंक्स के क्रेट्स तक उठाए हैं. साथ ही कपिल ने अपने कॉलेज में पढ़ाई करने के साथ साथ ऑर्ट ऑफ परफॉर्मेंस की क्लासेज भी देनी शुरू कर दी यानि अपने ही कॉलेज में कपिल स्टूडेंट भी थे और टीचर भी. कपिल की जिंदगी का एक अहम हिस्सा थियेटर करते हुए भी गुजरा. कपिल जिंदगी में स्ट्रगल कर रहे थे. वो सबको हंसाना चाहते थे लेकिन एक वक्त ऐसा भी आया जब कपिल की आंखों में आ गए थे आंसू और आज भी उन बातों को याद कर भावुक हो जाते हैं कपिल. दरअसल, कैंसर से पीड़ित पिता का साया उनके सिर से 2004 में उठ गया तो वहीं दूसरी और परिवार को एक वक्त खाने कि दिक्कत देखनी पड़ी पर कपिल ने कभी हार नहीं मानी.

कपिल बड़े कॉमेडियन बनना चाहते थे लेकिन किस्मत उनका साथ नहीं दे रही थी. लेकिन फिर कुछ ऐसा हुआ जिसके बाद कपिल को लगा कि उनकी जिंदगी बदल जाएगी. साल 2007 में कपिल को स्टार टीवी के कॉमेडी शो ‘ग्रेट इंडियन लॉफ्टर चैलेंज 3’ में हिस्सा लेने के लिए बुलाया गया लेकिन किस्मत ने यहां कपिल का साथ नहीं दिया और वो शो में सेलेक्ट नहीं हुए. कपिल को तो शो में नहीं लिया गया लेकिन कपिल के दोस्त चंदन प्रभाकर को सेलेक्ट कर लिया. चंदन प्रभाकर इन दिनों कपिल के शो में उनके नौकर राजू का किरदार निभाते हैं.

इस रिजेक्शन के बाद जैसे कपिल का दिल टूट गया. लेकिन किस्मत को अभी एक और करवट लेनी थी. कपिल को इस शो में वाइल्ड कार्ड एंट्री मिली और उसके बाद तो कपिल ने अपनी कॉमेडी का खूब जादू चलाया और ये शो जीत गए. कपिल शर्मा ने जब लाफ्टर चैलेंज जीता तो उन्हें 10 लाख रुपए का इनाम मिला. उस वक्त कपिल को अपनी बहन की सगाई करनी थी और उनके पास ज्यादा पैसे नहीं थे. लेकिन जब ये दस लाख रुपए हाथ आए तो कपिल ने सबसे पहले अपनी बहन की ही ये बात बताई और फिर कपिल ने अपनी बहन की शादी धूमधाम से की.

लॉफ्टर चैलेज जीतने के बाद कपिल ने पीछे मुड़कर नहीं देखा. इसके बाद कपिल सोनी टीवी के शो कॉमेडी सर्कस में नजर आए जहां कपिल ने अलग अलग किरादरों के जरिए दर्शकों को खूब हंसाया. कलर्स टीवी ने साल 2013 में कपिल के साथ एक नया शो शुरू किया जिसका नाम था कॉमेडी नाइट्स विद कपिल. ये शो कपिल के नाम से शुरू किया. कपिल ने इस शो से एक नई तरह की कॉमेडी की शुरुआत की. दर्शकों ने इस शो को खूब पसंद किया और देखते ही देखते कपिल ने कामयाबी का एक नया इतिहास रच दिया. कपिल के शो की कामयाबी का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि बॉलीवुड का हर बड़ा कलाकार अपनी फिल्मों के प्रमोशन के लिए कपिल के शो में आता था.

कपिल शर्मा टेलीविजन तक ही सीमित नहीं रहे. साल 2015 में कपिल को अबास-मस्तान की फिल्म ‘किस किस को प्यार करूं’ में काम किया. कपिल की इस फिल्म को दर्शकों ने पसंद तो किया लेकिन फिल्म समीक्षकों ने यही कहा कि ये फिल्म कपिल के टीवी शो कॉमेडी नाइट्स विद कपिल जैसी ही है. कपिल की कामयाबी और उनकी पॉपुलैरिटी का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि सदी के महानायक अमिताभ बच्चन ने अपने टेलीविजन शो कौन बनेगा करोड़पति सीजन 8 के पहले एपिसोड में कपिल को बतौर गेस्ट बुलाया.

कपिल को करण जौहर भी अपने शो ‘कॉफी विद करण’ में बुला चुके हैं. जबकि कपिल बहुत अच्छी इंग्लिश नहीं बोल पाते और करण का शो अंग्रेजी भाषा का शो है लेकिन ये कपिल की पॉपुलैरिटी ही है कि करण को उन्हें अपने शो में बुलाना पड़ा.

Posted on

रिद्धिमान साहा ने सिर्फ 20 बॉल में 102 रन मार दिए, वो भी नॉट आउट

लगता है धोनी की रिटायरमेंट के बाद उनकी जगह अपना दावा मज़बूत करने के इकलौते मकसद से खेल रहे हैं. पहले दिनेश कार्तिक ने निदाहस ट्रॉफी फाइनल में ग़दर काटा था. अब रिद्धिमान साहा ने तांडव मचा दिया है. उन्होंने 20 – हां सही पढ़ा आपने – सिर्फ 20 बॉल में 102 रन ठोक डाले हैं. 14 छक्के और 4 चौकों के साथ. सिर्फ दो रन भागकर लिए. ये अद्भुत बैटिंग है. होश उड़ा देने वाली.

साहा ने ये कमाल जेसी मुखर्जी ट्रॉफी में कर दिखाया है. बी.एन.आर क्लब और मोहन बागान क्लब के बीच ट्वेंटी-ट्वेंटी मैच हुआ. बी.एन.आर वालों ने 20 ओवर में 151 रन बनाए. साहा ओपनिंग करने उतरे और सिर्फ 7 ओवर में मैच जिता डाला. साहा के साथ उतरे सुभोमोय दास ने भी 22 गेंदों में 43 रन मार दिए. कुल मिलाकर जाबड़ बल्लेबाज़ी हुई.

आईपीएल सर पर है. ऐसे में साहा का सही गियर में आना सनराईज़र्स हैदराबाद के लिए अच्छी ख़बर है. उन्होंने साहा को 5 करोड़ में खरीदा था.