Posted on

अफगानिस्तान ने लगाई शर्मनाक रिकॉर्ड्स की झड़ी, तोड़ा 90 साल का रिकॉर्ड

अफगानिस्तान की टीम ने इस मैच की अपनी पहली पारी में 109 रन बनाने के लिए सिर्फ 27.5 ओवर तक बल्लेबाज़ी की। इसी के साथ अफगानिस्तान ने पहला टेस्ट मैच में सबसे कम ओवर बल्लेबाज़ी करने का रिकॉर्ड भी बना दिया। अफगानिस्तान से पहले ये रिकॉर्ड बांग्लादेश के नाम था। बांग्लादेश की टीम ने अपने पहले टेस्ट की दूसरी पारी मेंं 46.3 ओवर बल्लेबाज़ी की थी। बांग्लादेश से पहले ये रिकॉर्ड न्यूज़ीलैंड के नाम था जो अपने पहले टेस्ट की पहली पारी में 47.1 ओवर में ही सिमट गई थी।

भारत ने पहली पारी में 474 रन बनाए थे और इसके जवाब में अफगानिस्तान अपने पहले टेस्ट की पहली पारी में सिर्फ 109 रनों पर सिमट गई। इस लिहाज़ से भारत को 365 रन की बढ़त मिली और फिर टीम इंडिया ने अफगानिस्तान को फॉलोऑन खेलने का न्यौता दिया। पहले टेस्ट मैच में फॉलोऑन खेलते हुए ये किसी भी टीम पर बनाई गई सबसे बड़ी बढ़त रही। इससे पहले 1928 में इंग्लैंड और वेस्टइंडीज़ के बीच खेले गए मैच में इंग्लिश टीम ने कैरिबियाई टीम पर 224 रन की बढ़त बनाई थी। वो टेस्ट मैच लॉर्ड्‍स के मैदान पर खेला गया था और वो वेस्टइंडीज़ का पहला टेस्ट मैच था।

चिन्नास्वामी में अफगानिस्तान की टीम द्वारा बनाया गया 109 रन टेस्ट की एक पारी में सबसे कम रन हैं। इससे पहले 2017 में बेंगलुरु के मैदान पर ऑस्ट्रेलिया की टीम के नाम इस मैदान पर सबसे कम रन बनाने का रिकॉर्ड था। ऑस्ट्रेलिया की पूरी टीम सिर्फ 112 रन बनाकर सिमट गई थी।

पहली पारी में मिली बड़ी बढ़त के आधार पर भारत ने अफगानिस्तान को फॉलोआन खेलने पर मजबूर कर दिया और दूसरी पारी में मेहमान टीम 38.4 ओवर में सिर्फ 103 रन पर ऑल आउट हो गई। टेस्ट मैच में ये भारत की सबसे बड़ी जीत थी। इससे पहले भारत ने वर्ष 2017 में बांग्लादेश को पारी और 239 रन से हराया था। इस मैच में भारतीय बल्लेबाजों और उसके बाद गेंदबाजों का शानदार प्रदर्शन रहा। शिखर धवन को मैन ऑफ द मैच चुना गया। इस मैच में विराट की जगह रहाणे ने कप्तानी की थी और उनकी अगुआई में भारतीय टीम ने इस एतिहासिल टेस्ट मैच में जीत हासिल की। इस टेस्ट मैच के जरिए टेस्ट क्रिकेट में डेब्यू करने वाले अफगानिस्तान को भारत ने एक पारी और 262 रन से हराया। टेस्ट क्रिकेट के इतिहास में भारत ने पहली बार किसी टीम के खिलाफ सिर्फ दो दिनों में ही टेस्ट मैच जीतकर खिताब पर कब्जा किया।

Posted on

हैदराबाद का बेहतरीन प्रदर्शन जारी, दिल्ली को मिली 9 विकेट से करारी हार

IPL के 42वें मैच में दिल्ली के कप्तान श्रेयस अय्यर ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया और पहले बल्लेबाजी करते हुए दिल्ली ने निर्धारित 20 ओवर में 5 विकेट के नुकसान पर 187 रन का सम्मानजनक स्कोर खड़ा किया। हैदराबाद ने 188  रन के लक्ष्य को एक विकेट के नुकसान पर 18.5 ओवर में हासिल कर लिया इस मैच में सनराइजर्स हैदराबाद की शुरुआत अच्छी नहीं रही उसके सलामी बल्लेबाज शिखर धवन और एलेक्स हेल्स ने पहले विकेट के लिये मात्र 15 रन ही जोड़े थे कि एलेक्स हेल्स 14 रन बनाकर आउट हो गये। इसके बाद दिल्ली के गेंदबाज पूरे मैच में शिखर धवन और कप्तान केन विलियम्सन के आगे बेबस नजर आए।

शिखर धवन और केन विलियम्स ने लगाए अर्धशतक

88  रन के लक्ष्य का पीछा करने उतरी हैदराबाद की टीम की शुरुआत अच्छी नहीं रही उसका पहला विकेट मात्र 15 रन पर गिर गया लेकिन इसके बाद बल्लेबाजी करने आए कप्तान केन विलियम्सन ने शिखर धवन के साथ मिलकर दिल्ली के गेंदबाजों की बखिया उधेड़ दी। शिखर धवन ने जहां अपनी 50 गेंदों की पारी में  92 रन बनाए उन्होंने इस दौरान 9 चौके और  4  छक्के लगाए। तो वहीं कप्तान केन विलियम्सन ने अपनी 53 गेंदों की पारी में  83 रन बनाए इस दौरान उन्होंने 8 चौके और  2  छक्के लगाए। दोनों ही बल्लेबाज अपनी टीम को विजय दिलाकर नाबाद लौटे।

ऋषभ पंत ने लगाया नाबाद शतक

दिल्ली की ओर से पृथ्वी शॉ और जेसन रॉय पारी की शुरुआत के लिये बल्लेबाजी करने पहले विकेट के लिये मात्र 21 रन जोड़ने के बाद दोनों ही बल्लेबाज शाकिब का शिकार बन गये। इसके बाद दिल्ली के स्टार बल्लेबाज ऋषभ पंत ने कप्तान अय्यर के साथ मौर्चा संभाला एक रन लेने के चक्कर में अय्यर भी रन आउट हो गये अब पंत ने हर्षल पटेल के साथ मिलकर दिल्ली की पारी को आगे बढ़ाया। दोनों ने 55 रन की साझेदारी कर दिल्ली को शुरुआती झटकों से उबारा अब पंत खुल चुके थे और अपना अर्धशतक भी पूरा कर चुके थे। इसके बाद पंत ने ग्लेन मैक्सवेल के साथ 31 गेंदों पर 63 रनों की तेज साझेदारी की। जिसमें मैक्सवेल ने मात्र 9 रन का योगदान दिया। पंत ने आज एंकर की भूमिका निभाते हुए नाबाद शतक जमाया। उन्होंने कुल 63 गेंदों का सामना किया और इस दौरान 15 चौके और  7 छक्के लगाकर नाबाद 128 रन बनाए।

Posted on

हैदराबाद ने राजस्थान को आइपीएल के चौथे मुकाबले में 9 विकेट से हराया

आइपीएल 2018 के चौथे मुकाबले में सनराइजर्स हैदराबाद और राजस्थान रॉयल्स के बीच मुकाबला खेला गया। जिसमें हैदराबाद ने राजस्थान को 9 विकेट से शिकस्त दी।

इस मैच में हैदराबाद के कप्तान केन विलियमसन ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी का फैसला किया। पहले बल्लेबाजी करते हुए राजस्थान की टीम ने 20 ओवर में 9 विकेट से नुकसान पर 125 रन बनाए। 126 रन का पीछा करने उतरी हैदराबाद की टीम ने 15.5 ओवर में एक विकेट के नुकसान पर 127 रन बनाकर यह मुकाबला 9 विकेट से जीत लिया।

शिखर धवन ने बनाया शानदार अर्धशतक

126 रन का पीछा करने उतरी सनराइजर्स हैदराबाद की शुरुआत अच्छी नहीं रही उसके सलामी बल्लेबाज रिद्धिमान साहा मात्र 6 रन के स्कोर पर उनाद्कट का शिकार बने इसके बाद टीम की कमान दूसरे सलामी बल्लेबाज शिखर धवन ने संभाली धवन ने दूसरे विकेट के लिये केन विलियम्न्सन के साथ 87 गेंदों पर 121 रन की अटूट साझेदारी कर टीम को शानदार जीत दिलाई। इस जीत के नायक बने हैदराबाद के अोपनर बल्लेबाज शिखर धवन। धवन ने बेहतरीन बल्लेबाजी करते हुए शानदार अर्धशतक बनाया उन्होंने 57 गेंदों का सामना कर नाबाद 77 रन की पारी खेली।

जयदेव उनाद्कट ने दिया पहला झटका

सनराइजर्स हैदराबाद टीम के सलामी बल्लेबाज रिद्धिमान साहा मात्र 5 रन बनाकर जयदेव उनाद्कट की गेंद पर बेन लॉघिन को कैच दे बैठे इस समय टीम का कुल स्कोर मात्र 6 रन ही था।

नहीं चले रहाणे व बेन स्टोक्स

पहली पारी में राजस्थान को पहला झटका पहले ओवर की आखिरी गेंद पर ही लग गया। रन लेने के चक्कर में डॉर्सी शॉर्ट और रहाणे के बीच तालमेल की कमी का फायदा हैदराबाद के फील्डर ने उठाया और डॉर्सी 4 रन बनाकर रन आउट हो गए। कप्तान रहाणे का बल्ला नहीं चल पाया और वो 13 रन बनाकर सिद्धार्थ कौल की गेंद पर राशिद खान के हाथों लपके गए। बेन स्टोक्स भी अपने बल्ले का कमाल नहीं दिखा पाए और सिर्फ 5 रन बनाकर स्टेनलेक की गेंद पर केन विलियमसन के हाथों लपके गए। राहुल त्रिपाठी 17 रन बनाकर शाकिब अल हसन की गेंद पर मनीष पांडे के हाथों लपके गए। संजू सैमसन एक रन से अपने अर्धशतक से चूक गए। 49 रन पर शाकिब की गेंद पर वो अपना कैच राशिद खान को थमा बैठे। जोस बटलर को राशिद खान ने 6 रन पर बोल्ड कर दिया। श्रेयस गोपाल 18 रन पर यूसुफ पठान के हाथों भुवनेश्वर की गेंद पर लपके गए। जयदेव उनादकट एक रन बनाकर रन आउट हो गए। धवल कुलकर्णी तीन रन जबकि बेन लौघलिन एक रन बनाकर नाबाद रहे।

हैदराबाद की तरफ से शाकिब अल हसन और सिद्धार्थ कौल ने दो-दो जबकि भुवनेश्वर कुमार, बिली स्टेनलेक और राशिद खान ने एक-एक विकेट लिए।