Posted on

न्यूयॉर्क एयरपोर्ट पर पाकिस्तान के पीएम अब्बासी की तलाशी, जांच के बाद बेल्ट कसते दिखे

 

यहां जॉन एफ केनेडी एयरपोर्ट पर सिक्युरिटी जांच के नाम पर पाकिस्तान के प्रधानमंत्री शाहिद खाकान अब्बासी की तलाशी ली गई। पाकिस्तान मीडिया ने यह दावा किया। इसे एक रुटीन प्रॉसेस बताया जा रहा है, लेकिन पाकिस्तान मीडिया में इसे लेकर नाराजगी जाहिर की जा रही है।

क्या निजी दौरे की वजह से हुई चेकिंग?

– बताया जा रहा है कि पिछले दिनों अब्बासी अपनी बीमार बहन को देखने अमेरिका गए थे। यह उनका निजी दौरा था। हालांकि, इस दौरान वह अमेरिका के उपराष्ट्रपति माइक पेंस से भी मिले।

– पाकिस्तान मीडिया का कहना है कि यह निजी दौरा था तब भी प्रधानमंत्री के पास डिप्लोमैटिक पासपोर्ट है। ऐसे में उनकी जांच करना गलत है। पाकिस्तान के टीवी चैनल्स पर इस जांच का एक वीडियो भी जारी किया गया।

कुछ ने अब्बासी की तारीफ की, कुछ ने आलोचना

– जियो न्यूज के मुताबिक, अब्बासी ने सभी यात्रियों के लिए लागू स्टैंडर्ड सिक्युरिटी प्रोटोकॉल का पालन किया। जैसा कि वे अपनी सादगी के लिए ही जाने जाते हैं।
– कुछ मीडिया रिपोर्टों में अब्बासी की आलोचना की गई है, क्योंकि उन्होंने राष्ट्रप्रमुख होने के लिहाज से एक शर्मिंदगी-भरी प्रक्रिया का पालन किया, जबकि उनके पास डिप्लोमैटिक पासपोर्ट था।

पाबंदियों को लेकर पाक-अमेरिका में चल रही तनातनी

– पाकिस्तान के प्रधानमंत्री की चेकिंग से पहले अमेरिका ने 7 पाकिस्तानी कंपनियों को परमाणु व्यापार के शक में बैन कर दिया था।

– कहा जा रहा है कि अमेरिका पाकिस्तानी सरकार पर वीजा बैन समेत कई और प्रतिबंध लगाने की तैयारी में है।

– बता दें कि आतंकवाद पर नरमी के चलते अमेरिका पाकिस्तान से खफा है। ट्रम्प प्रशासन ने उसे दी जाने वाली करीब 25.5 करोड़ डॉलर की सहायता राशि रोक दी है।

कलाम की तलाशी पर अमेरिका ने मांगी थी माफी

– 2011 में पूर्व राष्ट्रपति एपीजे अब्दुल कलाम की न्यूयॉर्क एयरपोर्ट पर तलाशी ली गई थी। हालांकि, भारत की आपत्ति के बाद अमेरिका ने माफी मांगी थी।

जॉर्ज फर्नांडीज की कपड़े उतारकर ली गई थी तलाशी

– पूर्व रक्षा मंत्री जॉर्ज फर्नांडिस का वाशिंगटन के डल्लास अतंर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे पर सन् 2002 और 2003 में स्ट्रिप सर्च किया गया था। जिस पर उन्होंने वहां के डिप्टी सेक्रेटरी स्ट्रोब टैलबॉट से गुस्से में शिकायत की थी।

शाहरुख समेत कई भारतीय लिए जा चुके हिरासत में

– अगस्त 2016 में शाहरुख खान को अमेरिका के लॉस एंजिल्स एयरपोर्ट पर हिरासत में लिया गया था। इसकी जानकारी खुद शाहरुख ने ट्वीटर पर दी।

– एक्टर इरफान खान को 2008 में लॉस एंजिल्स और 2009 में न्यूयॉर्क एयरपोर्ट पर हिरासत में लिया गया था।

– 2009 में ही नील नितिन मुकेश को न्यूयॉर्क एयरपोर्ट पर हिरासत में लिया गया।

– 2010 में भारत के तत्कालीन एविएशन मिनिस्टर प्रफुल्ल पटेल से शिकागो के एयरपोर्ट पर पूछताछ की गई।

Posted on

सेंसर फिल्म को पास कर भी दे तो भी मध्यप्रदेश में पद्मावती नहीं होगी रिलीज़ – शिवराज

संजय लीला भंसाली की फिल्म पद्मावती को लेकर विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा है। अब इस विवाद को लेकर मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान  ने कह दिया है कि, मध्यप्रदेश में यह फिल्म रिलीज़ नहीं होगी। वहीं पंजाबी के मुख्यमंत्री ने राजपूत संगठन का समर्थन कर रिलीज़ नहीं होने की बात कही है।

आईएएनएस की ख़बर के मुताबिक, फिल्म पद्मावती को लेकर चल रहे विवाद ने नया मोड़ ले लिया है। अब पद्मावती मध्यप्रदेश और पंजाब में रिलीज़ नहीं होगी। दरअसल, मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सोमवार को भोपाल में हुए एक कार्यक्रम में दौरान कहा कि, यह फिल्म मध्यप्रदेश में रिलीज़ नहीं होगी। चौहान का कहना है कि, फिल्म में इतिहास से छेड़छाड़ की गई है, इसलिए रिलीज़ की अनुमति नहीं दी जा सकती है। शिवराज ने अागे कहा, रानी पद्मावती देश की मां हैं और उनके विरुद्ध कुछ भी अगर फिल्म में दर्शाया गया है तो फिल्म को प्रदेश में रिलीज़ नहीं होने दिया जाएगा। और इस तरह सम्मान को ठेस पहुंचाने वाली बात को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। चौहान ने तो यहां तक कह दिया कि, सेंसर बोर्ड अगर फिल्म को पास भी कर देता है तो भी वो मध्यप्रदेश में फिल्म को रिलीज़ नहीं होने देंगे। दूसरी तरफ, पंजाबी के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने राजपूत संगठन का समर्थन किया है। उन्होंने भी भंसाली की हिस्टोरिकल ड्रामा फिल्म पद्मावती का विरोध किया। अमरिंदर सिंह ने राजपूतों द्वारा फिल्म पद्मावती को लेकर इतिहास से छेड़छाड़ के मुद्दे पर विरोध करना सही ठहराया है। उन्होंने आगे अपनी बात रखते हुए कहा कि, हिस्टोरिकल इवेंट की बात अलग है लेकिन इतिहास से छेड़छाड़ को कोई भी बर्दाश्त नहीं करेगा। और अगर राजपूत संगठन इसका विरोध कर रहे हैं तो वो सही हैं।

बता दें कि, रविवार को उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री केशव प्रशाद मौर्य ने कहा था कि, अगर कंट्रोवर्शियल पोर्शन को फिल्म से हटाया नहीं गया तो फिल्म को रिलीज़ नहीं होने देंगे। यहां तक की, राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने शनिवार को इन्फॉर्मेंशन एंड ब्रॉडकास्टिंग मिनिस्टर स्मृति ईरानी को एक पत्र लिखा था कि फिल्म में जरूरी बदलाव करने से पहले फिल्म को रिलीज़ नहीं किया जाए। आपको बता दें कि, विवाद बढ़ता देख पद्मावती के मेकर्स ने रिलीज़ डेट को आगे बढ़ा दिया है। पहले फिल्म 1 दिसंबर को रिलीज़ होना थी।