Posted on

जानें आपकी कार से आने वाली हर आवाज का क्या है कारण। कैसे करें इसका उपाय! #Car #Maintenance #Sounds

कार में आने वाली इस तरह की आवाजें कार की परफॉर्मेंस के बारे में बताती हैं। आइये जानते हैं इन्ही आवाजों के बारे में।

1. इंजन से फट-फट की आवाज: अगर कार के इंजन से फट-फट की आवाज सुनाई दे तो इस बात को नजरअंदाज बिलकुल न करें क्योकिं इससे इंजन स्टार्ट करने में परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। यह आवाज एयर फिल्टर गंदा होना, स्पार्क प्लग खराब होना, इग्निशन में प्रॉब्लम, गैसोलिन में पानी आना और कारब्यूरेटर में खराब पावर सर्किट के चलते आती हैं।

2. गियर शिफ्ट के दौरान आवाज: गियर शिफ्ट के दौरान जब गियर अटकने की शिकायत आये तो इसकी सर्विस जल्दी करा लें, क्योकिं इसका कारण क्लच और गियरबॉक्स दोनों में खराबी हो सकता है। इसके साथ ही इसमें क्लच की खराबी, गियर शिफ्ट लिकेज, गियरबॉक्स खराब होना और गियर ऑयल की समस्या के कारण भी यह आवाज आती हैं।

3. जब कार मोड़ते समय आये ऐसी आवाज: कार को मोड़ते समय करहाने की आवाज आने लगे तो समाज जान चाहिये कि यह आवाज सीवी एक्सेल के टूटने से भी आ सकती है या फिर एक्सेल से ग्रीस लीक खत्म होने के चलते भी आती है। ग्रीस खत्म होने के चलते कॉम्पोनेंट सूख जाता है और सीवी एक्सेल का खराब कर देता है जिसके चलते आपको सीवी एक्सेल रिप्लेस करवाना पड़ता है। इस तरह की आवाज आते ही ग्रीस फिर से फिल करवा ले ताकि कोई दिक्कत न आए।

4. स्पीड बढ़ाने पर ऐसी आवाज़ को नजरअंदाज न करें: फर्स्ट गियर में गाड़ी को रेस देते समय अगर गाड़ी आगे स्पीड पकड़ते समय आवाज़ करे तो इसका मतलब यह है कि कार की फैन बेल्ट ढीली या फिर खराब हो रही है। फैन बेल्ट हम कार में समय के साथ ढीली हो जाती है और कार स्टार्ट करते समय रबड़ से रगड़ लगते समय आवाज आने लगती है। इसके लिए आपको अंत में फैन बेल्ट बदलवानी ही पड़ती है।

5. ब्रेक लगाते समय जब आये आवाज आवाज: ब्रेक लगाने के दौरान अगर ची-ची की आवाज आए तो समझ जाओ कि ब्रेक शूज पूरी तरह खराब हो गए हैं ऐसे में जितना जल्दी हो इन्हें बदलवा लेना चाइये, वरना ब्रेक लगने में काफी दिक्कत हो सकती है।

Posted on

चेन्नई बनी आइपीएल 2018 की चैंपियन, तीसरी बार जीता खिताब

IPL 2018 के फाईनल मैच में मुम्बई के वानखेड़े स्टेडियम में महेंद्र सिंह धौनी की कप्तानी में सीएसके ने सनराइजर्स हैदराबाद को 8 विकेट से हराकर आइपीएल 2018 का खिताब अपने नाम कर लिया। धौनी की कप्तानी में चेन्नई ने तीसरी बार आइपीएल खिताब पर कब्जा जमाया।

इससे पहले चेन्नई ने धौनी की कप्तानी में ही वर्ष 2010 और 2011 में लगातार दो बार आइपीएल खिताब पर कब्जा किया था। इसके सात वर्ष बाद एक बार फिर से धौनी ने अपना दम दिखाते हुए टीम को खिताब दिलाया। अब धौनी आइपीएल खिताब जीतने के मामले में रोहित शर्मा की बराबरी पर आ गए हैं जिन्होंने तीन बार मुंबई को खिताब दिलाया था। आइपीएल 2018 में जीत हासिल करने वाली टीम चेन्नई को 20 करोड़ रुपए पुरस्कार के तौर पर दिया गया जबकि रनर-अप रही टीम हैदराबाद को 12 करोड़ 50 लाख रुपए मिले।

फाइनल मैच में सीएसके के कप्तान महेंद्र सिंह धौनी ने टॉस जीता और हैदराबाद के कप्तान केन विलियमसन को बल्लेबाजी का न्योता दिया। पहली पारी में बल्लेबाजी करते हुए हैदराबाद ने कप्तान केन और यूसुफ पठान की अच्छी पारियों के दम पर 20 ओवर में 6 विकेट पर 178 रन बनाए। चेन्नई को जीत के लिए 179 रन बनाने थे और जीत के लिए मिले इस लक्ष्य को सीएसके ने शेन वॉटसन की नाबाद तूफानी शतकीय पारी के दम पर 18.3 ओवर में 2 विकेट पर हासिल कर लिया। चेन्नई ने 18.3 ओवर में 2 विकेट पर 181 रन बनाए।

शेन वॉटसन की तूफानी शतकीय पारी

आइपीएल 2018 के फाइनल मैच की दूसरी पारी में चेन्नई के ओपनर बल्लेबाज फॉफ डू प्लेसिस ने 11 गेंदों पर 10 रन बनाए और संदीप शर्मा की गेंद पर उन्हें ही कैच थमा बैठे। सुरेश रैना ने 24 गेंदों पर 32 रन की पारी खेली और वो ब्रेथवेट की गेंद पर विकेट के पीछे श्रीवत्स गोस्वामी के हाथों लपके गए। रैना ने वॉटसन के साथ दूसरे विकेट के लिए 117 रन की साझेदारी कर टीम के जीत की नींव रखी। शेन वॉटसन ने टीम के लिए 57 गेंदों पर 117 रन की नाबाद तूफानी शतकीय पारी खेली और टीम को जीत दिला दी। अंबाती रायडू 19 गेंदों पर 16 रन बनाकर नाबाद रहे।

हैदराबाद की तरफ से संदीप शर्मा और कार्लोस ब्रेथवेट को एक-एक सफलता मिली।

केन और पठान ने खेली तेज पारी

फाइनल मैच की पहली पारी में बल्लेबाजी के लिए उतरी हैदराबाद टीम की शुरुआत अच्छी नहीं रही। एसआरएच ने अपना पहला विकेट 13 रन के स्कोर पर गवां दिया। ओपनिंग बल्लेबाजी करने आए श्रीवत्स गोस्वामी 5 रन बनाकर रन आउट हो गए। करन शर्मा ने धौनी को थ्रो दिया और उन्होंने कोई गलती ना करते हुए विकेट उखाड़ दिया। शिखर धवन 25 गेंद पर 26 रन बनाकर अहम मौके पर आउट हो गए। रवींद्र जडेजा ने शिखर धवन को क्लीन बोल्ड कर दिया। धवन ने केन के साथ दूसरे विकेट के लिए 51 रन की साझेदारी की। केन विलियमसन ने 36 गेंदों पर 47 रन की बेहतरीन पारी खेली। केन को धौनी ने करन शर्मा की गेंद पर स्टंप आउट किया। केन ने तीसरे विकेट के लिए शाकिब के साथ 37 रन की साझेदारी की। शाकिब अल हसन ने 15 गेंदों पर 23 रन की पारी खेली। उन्हें डीजे ब्रावो ने सुरेश रैना के हाथों कैच आउट करवा दिया। दीपक हुडा 3 रन बनाकर कैच आउट हो गए। कार्लोस ब्रेथवेट ने 11 गेंदों पर 21 रन बनाए और शर्दुल ठाकुर की गेंद पर अंबाती रायडू के हाथों कैच आउट हुए। यूसुफ पठान 25 गेंद पर 45 रन बनाकर नाबाद रहे।

चेन्नई की तरफ से दीपक चाहर को छोड़कर सभी गेंदबाजों ने विकेट लिए। चेन्नई के गेंदबाज लुंगी नजीडी, शर्दुल ठाकुर, करन शर्मा, ड्वेन ब्रावो और रवींद्र जडेजा ने एक-एक विकेट लिए।

टॉस को लेकर हुआ ड्रामा

आइपीएल फाइनल से पहले टॉस को लेकर बड़ा ड्रामा देखने को मिला। सिक्का उछलने के बाद केन विलियसमन ने टेल कहा लेकिन हेड आने के बाद धौनी ने टॉस जीत लिया। इसके बाद जब एंकर के तौर पर वहां मैजूद संजय मांजरेकर ने धौनी से पूछा किया आप क्या करेंगे तो धौनी बार-बार केन की तरफ उंगली करके मजाक करने लगे और कहा कि उन्होंने टेल बोला है। धौनी के इस तरह बोलने से मांजरेकर भी परेशान हो गए लेकिन आखिरकार धौनी ने हंसते हुए इस मजाक का अंत किया और कहा कि वो टॉस जीतने के बाद पहले गेंदबाजी करेंगे।

सातवीं बार चेन्नई ने खेला फाइनल

चेन्नई की टीम ने सातवीं बार आइपीएल फाइनल खेला और तीसरी बार उन्होंने खिताब जीता। सनराइजर्स हैदाराबाद की बात करें तो ये टीम एक बार आइपीएल का खिताब डेविड वार्नर की कप्तानी में जीत चुका है और केन विलियमसन की कप्तानी में दूसरी बार इस खिताब को जीतने की दहलीज पर थी लेकिन ऐसा नहीं हो पाया।

धौनी के अनुभव के सामने नहीं टिके केन

इस आइपीएल में इन दोनों टीमों के बीच चार बार मैच खेला गया और हर बार चेन्नई को ही जीत मिली। लीग मुकाबले में पहले चेन्नई ने हैदराबाद को दोनों बार हराया। इसके बाद मुंबई में ही पहले क्वालीफायर में चेन्नई ने हैदराबाद को हराकर फाइनल में सीधे जगह बनाई और इसके बाद फाइनल में फिर से चेन्नई के हाथों हैदराबाद को हार झेलनी पड़ी और दूसरी बार खिताब जीतने का सपना टूट गया।

बॉलीवुड स्टार्स के साथ कमेंट्री भी रही काफी दिलचस्प

इस मैच में कमेंट्री के द्वारा दर्शकों का दिल लुभाने के लिए कई बॉलीवुड स्टार्स भी कॉमेंट्री बॉक्स में दिखाई दिए। जहां एक और बॉबी देओल ने काफी समय बाद ऑन स्क्रीन शेयर की वहीं सलमान खान और अनिल कपूर की दिलचस्प बातों से फाइनल का अंत भी अत्यंत रोमांचकहो गया।

इन खिलाड़ियों को मिले ये अवॉर्ड

दिल्ली के बल्लेबाज रिषभ पंत को इमर्जिंग प्लेयर ऑफ द सीजन का खिताब दिया गया। ट्रेंट बोल्ट को परफेक्ट कैच ऑफ दी सीजन चुना गया जबकि सुनील नरेन सुपर स्ट्राइकर ऑफ द सीजन रहे। रिषभ पंत स्टाइलिश प्लेयर ऑफ द सीजन रहे। सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले एंड्रयू टे (24 विकेट) को पर्पल कैप सौंपा गया जबकि सबसे केन विलियमसन ने सबसे ज्यादा रन बनाए और वो औरेंज कैप विनर रहे।

Posted on

वॉटसन ने रचा IPL का नया इतिहास

IPL 2018 के फाईनल मैच में वॉटसन जब अपनी पारी की शुरुआत करने आए तब वो 10 गेंदों के बाद यानी 11वें गेंद पर अपना खाता खोला और इसके बाद ऐसी पारी खेली की टीम को फाइनल में जीत दिला दी। शेन वॉटसन ने इस आइपीएल में अपना दूसरा शतक लगाया। शेन के शतक के दम पर चेन्नई ने तीसरी बार आइपीएल का खिताब अपने नाम किया।

वॉटसन ने रचा इतिहास
चेन्नई के ओपनर बल्लेबाज शेन वॉटसन का खतरनाक रूप हैदराबाद के खिलाफ फाइनल मैच में देखने को मिला। उन्होंने गेंदों 51 पर अपना शतक पूरा किया। वॉटसन ने हैदराबाद के खिलाफ 57 गेंदों पर नाबाद 117 रन की पारी खेली और अपनी टीम को जीत दिलाने में बड़ी भूमिका निभाई। शेन वॉटसन आइपीएल इतिहास के पहले ऐसे बल्लेबाज बन गए जिन्होंने रन चेज करते हुए शतक लगाया। वॉटसन ने अपनी शतकीय पारी के दौरान 11 चौके और 8 छक्के लगाए। उनका स्ट्राइक रेट 205.26 का रहा।

ठोका आइपीएल का दूसरा शतक
शेन वॉटसन इस आइपीएल में दो शतक लगाने वाले एकमात्र खिलाड़ी रहे। इस मैच से पहले उन्होंने लीग मुकाबले में राजस्थान के खिलाफ 106 रन की पारी खेली थी। इसके बाद फाइनल मुकाबले में उन्होंने हैदराबाद के खिलाफ नाबाद 117 रन बनाए।

आइपीएल 2018 में शेन का सफर
शेन वॉटसन की बल्लेबाजी की बात करें तो उन्होंने आइपीएल में खेले 15 मैचों में 39.64 की औसत से 555 रन बनाए। रन बनाने के मामले में आइपीएल में पांचवें नंबर पर रहे। वॉटसन ने 15 मैचों में 2 शतक और 2 अर्धशतक लगाए और उनका स्ट्राइक रेट 154.59 का रहा। वॉटसन ने इस आइपीएल में 44 चौके और 35 छक्के लगाए। हालांकि गेंदबाजी में वो कुछ खास नहीं कर पाए और सिर्फ 6 विकेट ही ले सके।

Posted on

Box Office Report: आलिया की राज़ी ने चार दिन में इतना पैसा कमाया

राज़ी ने बॉक्स ऑफ़िस पर चौथे दिन भी कमाल का प्रदर्शन किया है। हरिंदर सिक्का ने उस दौरान हुई एक सच्ची घटना को किताब के पन्नों में कैद किया था। सहमत का वो किरदार आलिया भट्ट ने निभाया और फिल्म में विक्की कौशल, रजित कपूर, सोनी राजदान, अमृता खानविलकर, शिशिर शर्मा और जयदीप अहलावत ने काम किया है। करीब दो घंटे 18 मिनट की इस फिल्म को प्रचार के खर्च के साथ 30 करोड़ रूपये में बनाया गया और देश में 1200 व वर्ल्ड वाइड 450 स्क्रीन्स में रिलीज़ किया गया।

पाकिस्तानी हरकतों की जासूसी कर भारत को ख़ुफ़िया जानकारी देने की बहादुरी करने वाली सहमत का रोल निभा कर आलिया भट्ट इन दिनों देश-दुनिया में अपने नाम की तालियां बजवा रही हैं और यही कारण हैं कि उनकी फिल्म राज़ी ने सोमवार को भी कलेक्शन का कमाल दिखाया है। मेघना गुलज़ार के निर्देशन में बनी फिल्म राज़ी ने घरेलू बॉक्स ऑफ़िस पर रिलीज़ के चौथे दिन छह करोड़ 30 लाख रूपये का कलेक्शन किया है। राज़ी ने सात करोड़ 53 लाख से ओपनिंग ली थी यानि हफ़्ते के पहले सामान्य दिन पर सिर्फ साढ़े 16 प्रतिशत की गिरावट आई है जो बेहतरीन मानी जा रही है। सबसे बड़ी बात कि फिल्म को देश के सभी इलाकों में सराहा गया है और तगड़ी माउथ पब्लिसिटी भी मिल रही है। राज़ी को चार दिनों में अब 39 करोड़ 24 लाख रूपये का कलेक्शन हासिल हो चुका है।

राज़ी के पास अब ये पूरा हफ़्ता है, शुक्रवार के पहले तक जब वो अपना कलेक्शन और बेहतर साबित कर सकती है। शुक्रवार को हॉलीवुड की फिल्म डेडपूल रिलीज़ हो रही है और माना जा रहा है कि एवेंजर्स इनफिनिटी वॉर की तरह इस फिल्म को भी जबरदस्त सफलता मिल सकती है। राज़ी का 75 करोड़ लाइफ़ टाइम कलेक्शन होने का अनुमान लगाया गया है। फिल्म राज़ी पहले ही इस साल की पांचवी सबसे अधिक वीकेंड कमाई करने वाली फिल्म बन चुकी है। राज़ी, साल 2008 में आई हरिंदर सिक्का की किताब ‘कॉलिंग सहमत’ की कहानी पर आधारित है। राज़ी कहानी है साल 1971 की जब भारत और पाकिस्तान के बीच सीमा पर तनाव चरम पर था। तभी आये एक ‘सीक्रेट कोड’ ने भारतीय सेना के हौसलों को बुलंद कर दिया था। कश्मीर की कॉलेज जाने वाली एक लड़की सहमत ने ऐसा कर दिखाया था। पिता की अंतिम इच्छा को पूरा करने निकली वो लड़की अपनी देशभक्ति के लिए जासूस बन जाती है। पाकिस्तान के आर्मी जनरल के लड़के से शादी कर लेती है और उसका मिशन होता है कि वो हर रोज़ भारतीय ख़ुफ़िया तंत्र को पाकिस्तान गतिविधियों की जानकारी पहुंचाये।

 

Posted on

हैदराबाद का बेहतरीन प्रदर्शन जारी, दिल्ली को मिली 9 विकेट से करारी हार

IPL के 42वें मैच में दिल्ली के कप्तान श्रेयस अय्यर ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया और पहले बल्लेबाजी करते हुए दिल्ली ने निर्धारित 20 ओवर में 5 विकेट के नुकसान पर 187 रन का सम्मानजनक स्कोर खड़ा किया। हैदराबाद ने 188  रन के लक्ष्य को एक विकेट के नुकसान पर 18.5 ओवर में हासिल कर लिया इस मैच में सनराइजर्स हैदराबाद की शुरुआत अच्छी नहीं रही उसके सलामी बल्लेबाज शिखर धवन और एलेक्स हेल्स ने पहले विकेट के लिये मात्र 15 रन ही जोड़े थे कि एलेक्स हेल्स 14 रन बनाकर आउट हो गये। इसके बाद दिल्ली के गेंदबाज पूरे मैच में शिखर धवन और कप्तान केन विलियम्सन के आगे बेबस नजर आए।

शिखर धवन और केन विलियम्स ने लगाए अर्धशतक

88  रन के लक्ष्य का पीछा करने उतरी हैदराबाद की टीम की शुरुआत अच्छी नहीं रही उसका पहला विकेट मात्र 15 रन पर गिर गया लेकिन इसके बाद बल्लेबाजी करने आए कप्तान केन विलियम्सन ने शिखर धवन के साथ मिलकर दिल्ली के गेंदबाजों की बखिया उधेड़ दी। शिखर धवन ने जहां अपनी 50 गेंदों की पारी में  92 रन बनाए उन्होंने इस दौरान 9 चौके और  4  छक्के लगाए। तो वहीं कप्तान केन विलियम्सन ने अपनी 53 गेंदों की पारी में  83 रन बनाए इस दौरान उन्होंने 8 चौके और  2  छक्के लगाए। दोनों ही बल्लेबाज अपनी टीम को विजय दिलाकर नाबाद लौटे।

ऋषभ पंत ने लगाया नाबाद शतक

दिल्ली की ओर से पृथ्वी शॉ और जेसन रॉय पारी की शुरुआत के लिये बल्लेबाजी करने पहले विकेट के लिये मात्र 21 रन जोड़ने के बाद दोनों ही बल्लेबाज शाकिब का शिकार बन गये। इसके बाद दिल्ली के स्टार बल्लेबाज ऋषभ पंत ने कप्तान अय्यर के साथ मौर्चा संभाला एक रन लेने के चक्कर में अय्यर भी रन आउट हो गये अब पंत ने हर्षल पटेल के साथ मिलकर दिल्ली की पारी को आगे बढ़ाया। दोनों ने 55 रन की साझेदारी कर दिल्ली को शुरुआती झटकों से उबारा अब पंत खुल चुके थे और अपना अर्धशतक भी पूरा कर चुके थे। इसके बाद पंत ने ग्लेन मैक्सवेल के साथ 31 गेंदों पर 63 रनों की तेज साझेदारी की। जिसमें मैक्सवेल ने मात्र 9 रन का योगदान दिया। पंत ने आज एंकर की भूमिका निभाते हुए नाबाद शतक जमाया। उन्होंने कुल 63 गेंदों का सामना किया और इस दौरान 15 चौके और  7 छक्के लगाकर नाबाद 128 रन बनाए।

Posted on

किंग्स XI पंजाब ने राजस्थान को व मुंबई इंडियंस ने कोलकाता को हराया। फोटो विश्लेषण

IPL के 37वें मैच में मुंबई ने पहले बल्लेबाजी करते हुए निर्धारित 20 ओवर में 4 विकेट खोकर 181 रन बनाए। जवाब में 182 रन का पीछा करने उतरी कोलकाता की टीम निर्धारित 20 ओवर में 6 विकेट के नुकसान पर 168 रन ही बना सकी और 13 रन से मैच हार गई।

केकेआर की ओर से रॉबिन उथप्पा ने लगाया अर्धशतक लेकिन टीम को जीत नहीं दिला पाए।

नीतीश राणा ने भी अपनी टीम के लिये 31 रनों की उपयोगी पारी खेली लेकिन वो अपनी टीम को जीत नहीं दिला सके।

कप्तान दिनेश कार्तिक ने आखिरी के ओवरों में तेजी से 26 गेंदों पर 36 रन बनाए लेकिन तब तक मैच मुंबई के हाथों में जा चुका था। कार्तिक अंत तक आउट नहीं हुए।

पहले बल्लेबाजी में बेहतरीन पारी खेलने वाले हार्दिक पांड्या ने गेंदबाजी में भी बढ़िया हाथ दिखाया उन्होंने बेहतरीन गेंदबाजी करते हुए 4 ओवरों में 19 रन देकर 2 विकेट हासिल किये।

मुंबई इंडियंस की ओर से सलामी बल्लेबाज सूर्य कुमार यादव ने लगाया अर्धशतक

सलामी बल्लेबाज इविन लुइस ने भी 43 रनों की बेहतरीन पारी खेली उन्होंने सूर्य कुमार यादव के साथ पहले विकेट के लिये 9.2 ओवर में 91 रन जोड़कर बेहतरीन शुरुआत दी।

आखिरी ओवर्स में मुंबई इंडियंस की तरफ से हार्दिक पांड्या ने तेजी से 35 रन बनाए, और टीम का स्कोर 181 रन तक पहुंचाया।

केकेआर की ओर से आंद्रे रसेल ने 2 ओवर में 12 रन देकर दो खिलाड़ियों को आउट किया।

रसेल के अलावा केकेआर की ओर से सुनील नरेन ने भी 4 ओवर में 35 रन देकर 2 सफलताएं हासिल की।

IPL के 38वें मैच में राजस्थान ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 20 ओवर में 9 विकेट पर 152 रन बनाए। पंजाब को जीत के लिए 153 रन बनाने थे जिसे इस टीम ने 18.4 ओवर में चार विकेट पर हासिल कर लिया और 6 विकेट से मैच जीत लिया।

पंजाब के लिए लोकेश राहुल ने अर्धशतकीय पारी खेली और 54 गेंदों पर नाबाद 84 रन बनाकर अपनी टीम को जीत दिला दी।

करुण नायर ने 23 गेंदों पर 31 रन बनाए और उन्हें अनुरित सिंह ने क्लीन बोल्ड कर दिया।

अक्षर पटेल को उपरी क्रम पर आजमाया गया लेकिन वो सिर्फ 4 रन ही बना पाए।

राजस्थान के खिलाफ दूसरी पारी में पंजाब के तूफानी बल्लेबाज गेल चल नहीं पाए और 8 रन पर आउट हो गए।

मयंक अग्रवाल 2 रन बनाकर बेन स्टोक्स की गेंद पर आउट हो गए।

राजस्थान के लिए सबसे बड़ी पारी जोस बटलर ने खेली। उन्होंने 39 गेंदों पर 51 रन बनाए।

संजू सैमसन ने टीम के लिए 23 गेंदों पर 28 रन की पारी खेली और टे की गेंद पर आउट हुए।

टीम के कप्तान अजिंक्य रहाणे का बल्ला नहीं चला और वो सिर्फ 5 रन बनाकर आउट हो गए।

पंजाब के गेंदबाज मुजीब उर रहमान सबसे सफल गेंदबाज रहे और उन्होंने तीन विकेट झटके।

Posted on

IPL के रोमांचक मुकबाले में दिल्ली ने राजस्थान को 4 रन से हराया। फोटो विश्लेषण!

IPL के 32वां मैच बेहद रोमांचक रहा इस मैच में दिल्ली डेयरडेविल्स ने राजस्थान रॉयल्स को 4 रन से हरा दिया। इस मैच में राजस्थान रॉयल्स के कप्तान अजिंक्य रहाणे ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया है। लेकिन बारिश की खलल के चलते यह मैच 20-20 ओवरों की बजाए 18-18 ओवर का कर दिया गया।

जब दिल्ली की टीम का स्कोर 17.1 ओवर की समाप्ति पर 6 विकेट के नुकसान पर 196 रन था तभी बारिश ने एक बार फिर खेल में बाधा डाली। जिसके चलते थोड़ी देर तक फिर से खेल बाधित रहा और दोबारा खेल शुरू होने पर डकवर्थ लुइस नियम के मुताबिक राजस्थान को जीत के लिये 12 ओवर में 151 रन का संशोधित लक्ष्य दिया गया।

ओपनर बल्लेबाजों ने राजस्थान को दी तेज शुरुआत

राजस्थान के ओपनर बल्लेबाजों ने बेहतरीन शुरुआत करते हुए पहले विकेट के लिये मात्र 6.4 ओवर में 82 रन बना डाले।

जोस बटलर ने लगाया अर्धशतक

जोस बटलर ने मात्र 26 गेंदों पर 67 रन की तेज पारी खेली।

डॉर्सी शॉर्ट ने खेली बेहतरीन पारी

राजस्थान के सलामी बल्लेबाज डॉर्सी शॉर्ट ने भी बेहतरीन पारी खेली। उन्होंने 25 गेंदों पर 44 रन बनाए।

ऋषभ पंत ने खेली जोरदार पारी

ऋषभ पंत ने आज दिल्ली के लिए बेहतरीन पारी खेलते हुए मात्र 29 गेंदों पर 69 रन बनाए। उनकी इस बेहतरीन पारी के चलते उन्हें ‘मैन ऑफ द मैच’ के पुरस्कार से नवाजा गया।

कप्तान श्रेयस अय्यर ने लगाया अर्धशतक

दिल्ली के कप्तान श्रेयस अय्यर ने कप्तानी पारी खेलते हुए। 35 गेंद पर 50 रन की पारी खेली। उन्होंने ऋषभ पंत के साथ मिलकर 82 रन की महत्तवपूर्ण साझेदारी की।

दिल्ली के ओपनर पृथ्वी शॉ ने खेली बेहतरीन पारी

पृथ्वी शॉ ने मैदान के चारों ओर बेहतरीन शॉट लगाए। उन्होंने कप्तान श्रेयस अय्यर के साथ मिलकर दूसरे विकेट के लिये 73 रन की साझेदारी की। शॉ ने 25 गेंद पर 47 रन बनाए इस दौरान उन्होंने 4 चौके और 4 छक्के लगाए।

Posted on

घरेलू मैदान पर विराट की बैंगलोर ने ने रोहित की मुम्बई इंडियंस को हराया। फोटो विश्लेषण!

IPL के 31वें मैच में बैंगलोर ने पहले खेलते हुए 20 ओवर में 7 विकेट पर 167 रन बनाए। मुंबई को जीत के लिए 168 रन का लक्ष्य मिला था लेकिन रोहित की टीम 20 ओवर में 7 विकेट पर 153 रन ही बना पाई और उसे 14 रन से ये मैच गवांना पड़ा।

मुंबई के कप्तान रोहित शर्मा बैंगलोर के खिलाफ अपना खाता भी नहीं खोल पाए और उन्हें उमेश यादव ने कैच आउट करवा दिया।

ईशान किशन को ओपनिंग की जिम्मेदारी दी गई लेकिन उन्होंने अपनी टीम को निराश किया और शून्य पर बोल्ड हो गए तेज गेंदबाज टिम साउथी की गेंद पर।

किरोन पोलार्ड का बल्ला भी बैंगलोर के खिलाफ नहीं चला और वो 13 रन पर पवेलियन लौट गए।

मुंबई के ओपनर बल्लेबाज सूर्यकुमार यादव 9 रन पर उमेश यादव की गेंद पर LBW आउट हो गए।

हार्दिक पांड्या ने मुंबई के लिए 42 गेंदों पर 50 रन की बेहतरीन पारी खेली लेकिन टीम को जीत नहीं दिला पाए।

बैंगलोर के ओपनर बल्लेबाज मनन वोहरा ने अपनी टीम के लिए सबसे बड़ी पारी खेली और 31 गेंदों पर 45 रन बनाए।

मैकुलम के बल्ले से 25 गेंदों पर 37 रन निकले और वो रन आउट हो गए।

कप्तान विराट कोहली ने 26 गेंदों पर 32 रन बनाए और बड़ी पारी खेलने से चूक गए।

मनदीप सिंह ने 10 गेंदों पर 14 रन बनाए। उनका तूफानी अंदाज नहीं चल पाया।

मुंबई की तरफ से बैंगलोर के खिलाफ हार्दिक सबसे सफल गेंदबाज रहे और तीन विकेट झटके।

Posted on

UPSC 2017 RESULT: उन होनहारों की कहानी जिन्होंने UPSC में लहराया परचम