Posted on

वॉटसन ने रचा IPL का नया इतिहास

IPL 2018 के फाईनल मैच में वॉटसन जब अपनी पारी की शुरुआत करने आए तब वो 10 गेंदों के बाद यानी 11वें गेंद पर अपना खाता खोला और इसके बाद ऐसी पारी खेली की टीम को फाइनल में जीत दिला दी। शेन वॉटसन ने इस आइपीएल में अपना दूसरा शतक लगाया। शेन के शतक के दम पर चेन्नई ने तीसरी बार आइपीएल का खिताब अपने नाम किया।

वॉटसन ने रचा इतिहास
चेन्नई के ओपनर बल्लेबाज शेन वॉटसन का खतरनाक रूप हैदराबाद के खिलाफ फाइनल मैच में देखने को मिला। उन्होंने गेंदों 51 पर अपना शतक पूरा किया। वॉटसन ने हैदराबाद के खिलाफ 57 गेंदों पर नाबाद 117 रन की पारी खेली और अपनी टीम को जीत दिलाने में बड़ी भूमिका निभाई। शेन वॉटसन आइपीएल इतिहास के पहले ऐसे बल्लेबाज बन गए जिन्होंने रन चेज करते हुए शतक लगाया। वॉटसन ने अपनी शतकीय पारी के दौरान 11 चौके और 8 छक्के लगाए। उनका स्ट्राइक रेट 205.26 का रहा।

ठोका आइपीएल का दूसरा शतक
शेन वॉटसन इस आइपीएल में दो शतक लगाने वाले एकमात्र खिलाड़ी रहे। इस मैच से पहले उन्होंने लीग मुकाबले में राजस्थान के खिलाफ 106 रन की पारी खेली थी। इसके बाद फाइनल मुकाबले में उन्होंने हैदराबाद के खिलाफ नाबाद 117 रन बनाए।

आइपीएल 2018 में शेन का सफर
शेन वॉटसन की बल्लेबाजी की बात करें तो उन्होंने आइपीएल में खेले 15 मैचों में 39.64 की औसत से 555 रन बनाए। रन बनाने के मामले में आइपीएल में पांचवें नंबर पर रहे। वॉटसन ने 15 मैचों में 2 शतक और 2 अर्धशतक लगाए और उनका स्ट्राइक रेट 154.59 का रहा। वॉटसन ने इस आइपीएल में 44 चौके और 35 छक्के लगाए। हालांकि गेंदबाजी में वो कुछ खास नहीं कर पाए और सिर्फ 6 विकेट ही ले सके।

Posted on

शेन वॉटसन ने दिलाई चेन्नई को बड़ी जीत, राजस्थान को 64 रन से मिली हार

पुणे में आइपीएल 2018 का 17 वां मैच चेन्नई सुपर किंग्स और राजस्थान रॉयल्स के बीच खेला गया और इस मैच में चेन्नई को राजस्थान पर 64 रन से जीत मिली। इस मैच में राजस्थान के कप्तान अजिंक्य रहाणे ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी का फैसला किया। पहले बल्लेबाजी करते हुए चेन्नई सुपर किंग्स ने 20 ओवर में 5 विकेट के नुकसान पर शेन वॉटसन के शतक के दम पर 204 रन बनाए।

राजस्थान को जीत के लिए 205 रन बनाने थे लेकिन पूरी टीम 18.3 ओवर में 140 रन पर ऑल आउट हो गई। शेन वॉटसन को मैन ऑफ द मैच चुना गया। इस जीत के बाद चेन्नई की टीम अब 6 अंकों के साथ अंक तालिका में पहले नंबर पर पहुंच गई है। वहीं राजस्थान 4 अंक के साथ अंक तालिका में पांचवें नंबर पर है।

शेन वॉटसन ने लगाया शतक

राजस्थान के खिलाफ पहली पारी में चेन्नई की शुरुआत अच्छी रही। ओपनर बल्लेबाज अंबाती रायडू व शेन वॉटसन ने पहले विकेट के लिए 50 रन की साझेदारी की। इस साझेदारी को तोड़ते हुए लॉघलिन ने अंबाती रायडू को विकेट के पीछे जोस बटलर के हाथों कैच आउट करवा दिया। रायडू ने 8 गेंदों पर 12 रन बनाए। सुरेश रैना का तेज पारी खेली और 29 गेंदों पर 46 रन बनाकर कैच आउट हो गए। श्रेयस गोपाल की गेंद पर रैना का कैच गौथम ने पकड़ा। धौनी इस मैच में चल नहीं पाए और सिर्फ 3 रन बनाकर श्रेयस गोपाल की गेंद पर कैच आउट हुए। सैम बिलिंग्स को श्रेयस गोपाल ने 3 रन पर कैच आउट करवा दिया। शेन वॉटसन ने इस आइपीएल का दूसरा और अपने आइपीएल करियर का तीसरा शतक लगाया। उन्होंने 57 गेंदों पर 106 रन बनाए और लॉघलिन की गेंद पर जोस बटलर के हाथों लपके गए। ड्वेन ब्रावो 24 रन और जडेजा 2 रन बनाकर नाबाद लौटे।

राजस्थान की तरफ से श्रेयस गोपाल ने तीन और बेन लॉघलिन ने दो विकेट लिए।

नहीं चल पाए राजस्थान के बल्लेबाज

दूसरी पारी में राजस्थान की शुरुआत अच्छी नहीं रही और टीम के ओपनर बल्लेबाज हेनरिक क्लासेन शर्दुल ठाकुर की गेंद पर 7 रन बनाकर क्लीन बोल्ड हो गए। टीम के तूफानी बल्लेबाज संजू सैमसन ने निराश किया और महज 2 रन पर अपना विकेट गवां बैठे। दीपक चाहर की दें पर संजू का कैच करन शर्मा ने पकड़ा। कप्तान रहाणे को दीपक चहर ने 16 रन पर क्लीन बोल्ड हो गए। जोस बटलर अच्छे लय में नजर आ रहे थे लेकिन उनका सफर ब्रावो ने 22 रन पर खत्म कर दिया। बटलर ने 17 गेंदों पर 22 रन बनाए। राहुल त्रिपाठी 5 रन बनाकर ब्रावो का दूसरा शिकार बने। राहुल का कैच सैम बिलिंग्स ने पकड़ा। बेन स्टोक्स ने 37 गेंदों पर 45 रन की पारी खेली लेकिन उनकी इस पारी का टीम को कोई फायदा नहीं हुआ। वो ताहिर की गेंद पर बिलिंग्स के हाथों कैच आउट हुए।

चेन्नई की तरफ से दीपक चाहर, शर्दुल ठाकुर, ड्वेन ब्रावो और करन शर्मा ने दो-दो जबकि शेन वॉटसन और इमरान ताहिर को एक-एक विकेट मिले।

Posted on

हैदराबाद ने राजस्थान को आइपीएल के चौथे मुकाबले में 9 विकेट से हराया

आइपीएल 2018 के चौथे मुकाबले में सनराइजर्स हैदराबाद और राजस्थान रॉयल्स के बीच मुकाबला खेला गया। जिसमें हैदराबाद ने राजस्थान को 9 विकेट से शिकस्त दी।

इस मैच में हैदराबाद के कप्तान केन विलियमसन ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी का फैसला किया। पहले बल्लेबाजी करते हुए राजस्थान की टीम ने 20 ओवर में 9 विकेट से नुकसान पर 125 रन बनाए। 126 रन का पीछा करने उतरी हैदराबाद की टीम ने 15.5 ओवर में एक विकेट के नुकसान पर 127 रन बनाकर यह मुकाबला 9 विकेट से जीत लिया।

शिखर धवन ने बनाया शानदार अर्धशतक

126 रन का पीछा करने उतरी सनराइजर्स हैदराबाद की शुरुआत अच्छी नहीं रही उसके सलामी बल्लेबाज रिद्धिमान साहा मात्र 6 रन के स्कोर पर उनाद्कट का शिकार बने इसके बाद टीम की कमान दूसरे सलामी बल्लेबाज शिखर धवन ने संभाली धवन ने दूसरे विकेट के लिये केन विलियम्न्सन के साथ 87 गेंदों पर 121 रन की अटूट साझेदारी कर टीम को शानदार जीत दिलाई। इस जीत के नायक बने हैदराबाद के अोपनर बल्लेबाज शिखर धवन। धवन ने बेहतरीन बल्लेबाजी करते हुए शानदार अर्धशतक बनाया उन्होंने 57 गेंदों का सामना कर नाबाद 77 रन की पारी खेली।

जयदेव उनाद्कट ने दिया पहला झटका

सनराइजर्स हैदराबाद टीम के सलामी बल्लेबाज रिद्धिमान साहा मात्र 5 रन बनाकर जयदेव उनाद्कट की गेंद पर बेन लॉघिन को कैच दे बैठे इस समय टीम का कुल स्कोर मात्र 6 रन ही था।

नहीं चले रहाणे व बेन स्टोक्स

पहली पारी में राजस्थान को पहला झटका पहले ओवर की आखिरी गेंद पर ही लग गया। रन लेने के चक्कर में डॉर्सी शॉर्ट और रहाणे के बीच तालमेल की कमी का फायदा हैदराबाद के फील्डर ने उठाया और डॉर्सी 4 रन बनाकर रन आउट हो गए। कप्तान रहाणे का बल्ला नहीं चल पाया और वो 13 रन बनाकर सिद्धार्थ कौल की गेंद पर राशिद खान के हाथों लपके गए। बेन स्टोक्स भी अपने बल्ले का कमाल नहीं दिखा पाए और सिर्फ 5 रन बनाकर स्टेनलेक की गेंद पर केन विलियमसन के हाथों लपके गए। राहुल त्रिपाठी 17 रन बनाकर शाकिब अल हसन की गेंद पर मनीष पांडे के हाथों लपके गए। संजू सैमसन एक रन से अपने अर्धशतक से चूक गए। 49 रन पर शाकिब की गेंद पर वो अपना कैच राशिद खान को थमा बैठे। जोस बटलर को राशिद खान ने 6 रन पर बोल्ड कर दिया। श्रेयस गोपाल 18 रन पर यूसुफ पठान के हाथों भुवनेश्वर की गेंद पर लपके गए। जयदेव उनादकट एक रन बनाकर रन आउट हो गए। धवल कुलकर्णी तीन रन जबकि बेन लौघलिन एक रन बनाकर नाबाद रहे।

हैदराबाद की तरफ से शाकिब अल हसन और सिद्धार्थ कौल ने दो-दो जबकि भुवनेश्वर कुमार, बिली स्टेनलेक और राशिद खान ने एक-एक विकेट लिए।

Posted on

रिद्धिमान साहा ने सिर्फ 20 बॉल में 102 रन मार दिए, वो भी नॉट आउट

लगता है धोनी की रिटायरमेंट के बाद उनकी जगह अपना दावा मज़बूत करने के इकलौते मकसद से खेल रहे हैं. पहले दिनेश कार्तिक ने निदाहस ट्रॉफी फाइनल में ग़दर काटा था. अब रिद्धिमान साहा ने तांडव मचा दिया है. उन्होंने 20 – हां सही पढ़ा आपने – सिर्फ 20 बॉल में 102 रन ठोक डाले हैं. 14 छक्के और 4 चौकों के साथ. सिर्फ दो रन भागकर लिए. ये अद्भुत बैटिंग है. होश उड़ा देने वाली.

साहा ने ये कमाल जेसी मुखर्जी ट्रॉफी में कर दिखाया है. बी.एन.आर क्लब और मोहन बागान क्लब के बीच ट्वेंटी-ट्वेंटी मैच हुआ. बी.एन.आर वालों ने 20 ओवर में 151 रन बनाए. साहा ओपनिंग करने उतरे और सिर्फ 7 ओवर में मैच जिता डाला. साहा के साथ उतरे सुभोमोय दास ने भी 22 गेंदों में 43 रन मार दिए. कुल मिलाकर जाबड़ बल्लेबाज़ी हुई.

आईपीएल सर पर है. ऐसे में साहा का सही गियर में आना सनराईज़र्स हैदराबाद के लिए अच्छी ख़बर है. उन्होंने साहा को 5 करोड़ में खरीदा था.