Posted on

एबी डिविलियर्स ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से लिया संन्यास, इनके नाम दर्ज़ है ये विश्व रिकॉर्ड

डिविलियर्स ने द. अफ्रीका के लिए 114 टेस्ट 228 वनडे और 78 टी 20 मैच खेले हैं। 114 टेस्ट मैचों में 8765 रन बनाए हैं जिसमें 22 शतक और 46 अर्धशतक बनाए हैं। वे एक बेहतरीन बल्लेबाज के साथ ही एक शानदार विकेट कीपर भी रह चुके हैं।

एक वीडियो संदेश में कहा कि वे दक्षिण अफ्रीका और दुनियाभर में अपने फैंस के शुक्रगुजार हैं। एबी ने कहा अब समय आ गया है जब दूसरे युवा खिलाड़ियों को मौका दिया जाए। ईमानदारी से कहूं तो मैं अब थक गया हूं। ये एक मुश्किल निर्णय है और मैने ये फैसला काफी सोच समझकर लिया है। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि  मैं अपने संन्यास का एलान बेहतरीन क्रिकेट खेलते हुए करना चाहता था। हालांकि वे घरेलू क्रिकेट के लिए उपलब्ध रहेंगे।

अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में सबसे तेज़ शतक लगाने का रिकॉर्ड भी ए बी डिविलियर्स के नाम ही है। ये कमाल उन्होंने 18 जनवरी 2015 को वेस्टइंडीज के खिलाफ महज 31 गेंदों में शतक लगाकर किया था। डीविलियर्स ने कोरी एंडरसन के 36 गेंदों में शतक के रिकॉर्ड को ध्वस्त कर ये रिकॉर्ड बनाया था। उन्होंने 16 छक्कों और 9 चौके की मदद से वनडे का यह कीर्तिमान बनाया। उन्होंने इस मैच में कुल 149 रन बनाए थे।

एबी डीविलियर्स के नाम 31 गेंदों में सबसे तेज शतक का रिकॉर्ड तो है ही इसके अलावा सबसे तेज 150 रनों का रिकॉर्ड भी डीविलियर्स के ही नाम पर है। साल 2015 विश्व कप में डीविलियर्स ने सिडनी के मैदान पर 64 गेंदों में 150 रन ठोककर विश्व रिकॉर्ड अपने नाम कर लिया था। उन्होंने इस दौरान नाबाद 66 गेंदों में 162 रन बनाए थे जिसमें 17 चौके और 8 छक्के शामिल थे।

Posted on

राजिस्थान रॉयल्स ने किंग्स इलेवन पंजाब को घरेलू मैदान में 15 रन से हराया

IPL के 40वें मैच में पहले बल्लेबाजी करते हुए राजस्थान ने 20 ओवर में 8 विकेट के नुकसान पर 158 रन बनाए। पंजाब को जीत के लिए 159 का लक्ष्य मिला थे लेकिन पूरी टीम 20 ओवर में 7 विकेट पर 143 रन बना पाई।

राजस्थान के खिलाफ पंजाब की शुरुआत अच्छी नहीं रही। ओपनर बल्लेबाज क्रिस गेल सिर्फ एक रन पर कृष्णप्पा गौतम की गेंद पर स्टंप आउट हो गए। तीसरे नंबर पर बल्लेबाजी करने आए टीम के कप्तान अश्विन को गौतम ने खाता भी नहीं खोलने दिया और क्लीन बोल्ड कर दिया। करुण नायरको 3 रन पर जोफ्रा आर्चर ने जयदेव उनादकट के हाथों कैच करवा दिया। पहली बार टीम में जगह पाने वाले आकाशदीप नाथ को ईश सोढ़ी ने 9 रन पर कैच आउट करवा दिया। मनोज तिवारी को बेन स्टोक्स ने अपनी गेंद पर रहाणे के हाथों कैच करवा दिया। उन्होंने 7 रन बनाए। अक्षर पटेल 9 रन बनाकर रन आउट हो गए। स्टॉयनिस 11 रन बनाकर उनादकट की गेंद पर गौतम के हाथों कैच आउट हुए। उन्होंने 11 रन बनाए। लोकेश राहुल ने 70 गेंदों पर नाबाद 95 रन की पारी खेली लेकिन अपनी टीम को जीत नहीं दिला पाए। एंड्रयू टे एक रन बनाकर नाबाद लौटे।

राजस्थान की तरफ से गौतम ने दो, जोफ्रा आर्चर, जयदेव उनादकट, बेन स्टोक्स और ईश सोढ़ी ने एक-एक विकेट लिए।

जोस बटलर ने खेली 82 रन की पारी

राजस्थान की शुरुआत पंजाब की खिलाफ अच्छी नहीं रही। टीम के ओपनर बल्लेबाज और कप्तान अजिंक्य रहाणे सिर्फ 9 रन बनाकर एंड्रयू टे की गेंद पर आकाशदीप नाथ के हाथों कैच आउट हो गए। कृष्णप्पा गौतम को स्टॉयनिस ने अपना शिकार बनाया और 8 रन पर मनोज तिवारी के हाथों कैच करवा दिया। राजस्थान को तीसरा झटका संजू सैमसन के तौर पर लगा। उन्होंने 18 गेंदों पर 22 रन बनाए। मुजीब की गेंद पर उनका कैच मनोज तिवारी ने लपका। मुजीब ने अपना दूसरा शिकार जोस बटलर को बनाया जिन्होंने 58 गेंदों पर 82 रन बनाए। मुजीब की गेंद पर लोकेश राहुल ने उन्हें स्टंप आउट किया। स्टुअर्ट बिन्नी 11 रन बनाकर रन आउट हो गए। बेन स्टोक्स 14 रन पर टे का शिकार बने। उनका कैच अश्विन ने पकड़ा। जोफ्रा आर्चर बिना खाता खोले ही टे की गेंद पर कैच आउट हो गए। जयदेव उनादकट शून्य पर कैच आउट हुए। लोमरोर 9 रन बनाकर नाबाद रहे।

पंजाब की तरफ से एंड्रयू टे ने बेहतरीन गेंदबाजी करते हुए 4 विकेट लिए। मुजीब उर रहमान ने दो और स्टॉयनिस ने एक विकेट लिया।

Posted on

रिलायंस जियो का कमाल का ऑफर, मुफ्त में मिलेगा 1.1 TB डेटा

मुकेश अंबानी के स्वामित्व वाली कंपनी Jio टेलीकॉम सेक्टर में तूफान लाने के बाद अब अपने कदम ब्रॉडबैंड इंटरनेट की तरफ बढ़ा रही है. कंपनी अपने जियोफाइबर सर्विस के जरिए ब्रॉडबैंड इंटरनेट की दुनिया में कब्जा जमाना चाह रही है.

कंपनी ने देश के चुनिंदा बाजारों में 1.1TB (टेराबाइट) फ्री डेटा के साथ हाई-स्पीड फाइबर टू द होम (FTTH) ब्रॉडबैंड कनेक्शन देना शुरू कर दिया है. इसमें डेटा की स्पीड 100Mbps है. कंपनी इस सर्विस की कमर्शियल ओपनिंग इस साल सेकेंड हाफ में करेगी.

द हिंदू की खबर के मुताबिक, शुरुआत में FTTH प्लान में 100 Mbps की स्पीड के साथ 100GB डेटा मिलेगा. जैसे ही ये डेटा समाप्त हो जाएगा तब ग्राहक एक महीने में 25 बार तक फ्री में 40GB डेटा का रीचार्ज करवा सकेंगे. यानी ग्राहकों को एक महीने में कुल 1,100 GB डेटा मुफ्त में मिलेगा.

कंपनी इस सर्विस को घरेलू और कारोबारी दोनों तरह के ग्राहकों के लिए पेश करेगी. इसके अलावा ग्राहकों को बिना केबल के घर के हर कोने में WiFi कवरेज पहुंचाने के लिए जियो ‘एक्सटेंड’ का भी विकल्प मिलेगा.

जियोफाइबर कनेक्शन प्राप्त करने के लिए ग्राहकों को सिक्योरिटी के तौर पर 4,500 रुपये देने होंगे. साथ ही ये पैसा रिफंड भी कर दिया जाएगा और ये ब्याज मुक्त होगा. कंपनी एक जियो राउटर इंस्टॉल करेगी. इसे सेट-टॉप बॉक्स के रूप में भी इस्तेमाल किया जा सकेगा, जब कंपनी इंटरनेट प्रोटोकॉल टेलीविजन (IPTV) सर्विस लॉन्च करेगी.

रिलायंस जियो के पास देशभर में 3 लाख किलोमीटर से ज्यादा ऑप्टिक फाइबर नेटवर्क है. फिलहाल कंपनी जियोफाइबर को मुंबई, नई दिल्ली, चेन्नई, अहमदाबाद, वड़ोदरा और जामनगर जैसे शहरों में उपलब्ध करा रही है.

Posted on

अपने ही घर में मुंबई की शर्मनाक हार, हैदराबाद ने 31 रन से हराया

IPL के 23वें मैच में सनराइजर्स हैदराबाद ने मुंबई इंडियंस को 31 रन से हरा दिया। इस मैच में मुंबई इंडियंस के कप्तान रोहित शर्मा ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया। टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी के लिये उतरी हैदराबाद की टीम 18.4 ओवर में 118 रन बनाकर ऑल आउट हो गयी।

दूसरी पारी में 119 रन के लक्ष्य का पीछा करने उतरी मुंबई की टीम पूरे ओवर भी नहीं खेल पायी और 18.5 ओवर में मात्र 87 रन पर ढेर हो गयी। मुंबई की ओर से महज दो बल्लेबाज ही दहाई की संख्या छू सके। सलामी बल्लेबाज सूर्यप्रकाश यादव(34) और क्रुणाल पंड्या (24) के अलावा मुंबई इंडियंस का कोई भी बल्लेबाज हैदराबाद के गेंदबाजों के सामने नहीं टिक सका। पूरी पारी के दौरान मुंबई के बल्लेबाज हैदराबाद के गेंदबाजों के सामने संघर्ष करते हुए नजर आए।

हैदराबाद के गेंदबाजों ने अपनी कसी हुई गेंदबाजी के दम पर पूरे मैच में पकड़ बनाए रखी। एक बार भी मुंबई के बल्लेबाज इन गेंदबाजों पर हावी नहीं होने पाये। इन गेंदबाजों के सामने मुंबई के बल्लेबाज संघर्ष करते हुए नजर आ रहे थे। सिद्धार्थ कौल ने 3, राशिद खान और बासिल थंपी ने 2-2 और संदीप शर्मा, मोहम्मद नबी और शाकिब अल हसन को एक-एक विकेट मिला।

सिद्धार्थ कौल ने लिये 3 विकेट

मुंबई ने धीमी शुरुआत करते हुए पहले विकेट के लिये 2.5 ओवर में मात्र 12 रन ही जोड़े थे कि तभी संदीप शर्मा ने लुइस को 5 रन के निजी स्कोर पर मनीष पांडे के हाथों कैच आउट करवा दिया। इसके बाद बल्लेबाजी करने आए ईशान किशन भी नहीं चले वो अपना खाता भी नहीं खोल पाये और नबी की गेंद पर दीपक हूडा को कैच दे बैठे। इसके बाद बल्लेबाजी के लिये आए कप्तान रोहित शर्मा भी सिर्फ 2 रन बनाकर शाकिब की गेंद पर धवन को कैच दे बैठे। क्रुणाल पंड्या ने सूर्य प्रकाश के साथ मिलकर चौथे विकेट के लिये 40 जोड़कर मुंबई की उम्मीदें जगाई लेकिन 24 रन के निजी स्कोर पर राशिद खान ने क्रुणाल पांड्या को एलबीडब्ल्यु आउट कर मुंबई की इस जोड़ी को भी तोड़ दिया। उसके बाद बैटिंग के लिये आए कीरोन पोलार्ड भी 9 रन बनाकर राशिद खान का शिकार बने उन्हें धवन ने कैच आउट किया। इसके बाद मुंबई का कोई भी बल्लेबाज नहीं टिक सका। पोलार्ड के बाद हार्दिक पांड्या मात्र 3 रन बनाकर सिद्धार्थ कौल के शिकार बने। उन्हें थंपी ने कैच आउट किया। इसके बाद मिशले मैक्लेघ्न और मयंक मार्कंडेय को एक ही ओवर में कौल ने एलबीडब्ल्यु आउट किया। जबकि मुस्तफिजुर्रहमान एक रन बनाकर बेसिल थंपी की गेंद पर हुडा को कैच दे बैठे। जसप्रीत बुमराह 6 रन बनाकर नाबाद रहे।

मिशेल मैक्लेघ्न ने दिये हैदराबाद को शुरुआती झटके

मुंबई के बाएं हाथ के तेज गेंदबाज मिशेल मैक्लेघ्न ने हैदराबाद को अपने पहले ओवर में ही दो बड़े झटके दिये, जब उन्होंने अपनी चौथी गेंद पर हैदराबाद के सलामी बल्लेबाज शिखर धवन को क्लीन बोल्ड कर दिया। इसके बाद बल्लेबाजी करने आए रिद्धिमान साहा को भी मैक्लेघ्न ने अपने इसी ओवर की आखिरी गेंद पर इशान किशन के हाथों कैच आउट करवा दिया। इसके बाद केन विलियम्सन और मनीष पांडे ने पारी संभाली ही थी की पांड्या ने मनीष पांडे को कप्तान रोहित के हाथों कैच आउट करवा दिया। इसके बाद बल्लेबाजी करने आए शाकिब अल हसन भी मात्र 2 रन बनाकर रन आउट हो गये। इसके बाद हार्दिक पांड्या ने एक तरफ से बल्लेबाजी का छोर संभाले कप्तान केन विलियम्सन को ईशान किशन के हाथों कैच आउट करवा दिया। अभी स्कोर बोर्ड में 18 रन ही और जुड़े थे कि तभी मयंक मार्कंडेय ने मोहम्मद नबी को क्लीन बोल्ड कर दिया। इसके बाद जसप्रीत बुमराह ने राशिद खान को विकेट के पीछे ईशान किशन के हाथों कैच आउट करवाया। इसके बाद बासिल थंपी को क्लीन बोल्ड कर मयंक मार्कंडेय ने गुगली का शिकार बनाया।

Posted on

धौनी की दमदार पारी भी चेन्नई को नहीं दिला पाई जीत, पंजाब ने 4 रन से मैच जीता

आइपीएल 2018 के 12वें मैच में चेन्नई सुपर किंग्स का मुकाबला किंग्स इलेवन पंजाब के साथ था और इसमें धौनी की टीम को 4 रन से हार मिली।

इस मैच में चेन्नई के कप्तान महेंद्र सिंह धौनी ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी का फैसला किया। पहले बल्लेबाजी करते हुए पंजाब ने 20 ओवर में 7 विकेट के नुकसान पर 197 रन बनाए। चेन्नई को जीत के लिए 198 रन का लक्ष्य मिला। टीम के कप्तान धौनी ने 79 रन की नाबाद पारी खेलकर टीम को जीत दिलाने की कोशिश की लेकिन वो सफल नहीं हो पाए। चेन्नई ने 20 ओवर में 5 विकेट पर 193 रन बनाए।

धौनी ने खेली शानदार पारी

चेन्नई का पहला विकेट मोहित शर्मा ने लिया। उन्होंने ओपनर बल्लेबाज शेन वॉटसन को बरिंदर के हाथों कैच करवा दिया। शेन ने 9 गेंदों पर 11 रन बनाए। रैना की जगह टीम में शामिल किए गए मुरली विजय 12 रन बनाकर पवेलियन लौट गए। एंड्रयू टे की गेंद पर उनका कैच बरिंदर ने पकड़ा। सैम बिलिंग्स 9 रन बनाकर अश्विन की गेंद पर एलबीडब्ल्यू आउट हुए। अंबाती रायडू सिर्फ एक रन से अपने अर्धशतक से चूक गए। रायडू ने 35 गेंदों पर 49 रन बनाए और रन आउट हो गए। रवींद्र जडेजा 19 रन बनाकर एंड्रयू टे की गेंद पर अश्विन के हाथों कैच आउट हुए। कप्तान धौनी ने 44 गेंदों पर नाबाद 79 रन की पारी खेली पर टीम को जीत नहीं दिला पाए। ब्रावो एक रन बनाकर नाबाद रहे।

पंजाब की तरफ से एंड्रयू टे ने दो जबकि मोहित शर्मा और अश्विन ने एक-एक विकेट लिए।

गेल ने खेली तूफानी पारी

पंजाब का पहला विकेट लोकेश राहुल के तौर पर गिरा। राहुल ने 22 गेंदों पर 37 रन बनाए। उन्होंने पहले विकेट ले लिए गेल के साथ 96 रन की साझेदारी की। राहुल को हरभजन सिंह ने क्लीन बोल्ड कर दिया। क्रिस गेल ने अपने पहले ही मैच में 33 गेंदों पर 63 रन की पारी खेली। उन्हें शेन वॉटसन ने इमरान ताहिर के हाथों कैच आउट करवा दिया। मयंक अग्रवाल 30 रन बनाकर इमरान ताहिर की गेंद पर बोल्ड हो गए जबकि एरोन फिंच इमरान ताहिर की गेंद पर एलबीडब्ल्यू आउट हो गए। वो अपना खाता भी नहीं खोल पाए थे। युवराज सिंह इस मैच में भी नहीं चल पाए। वो 20 रन बनाकर शर्दुल ठाकुर की गेंद पर विकेट के पीछे धौनी के हाथों लपके गए। कप्तान अश्विन ने 14 रन पर अपना विकेट गवां दिया। वो शर्दुल की गेंद पर अपना कैच धौनी को थमा बैठे। करुण नायर 29 रन बनाकर ब्रावो की गेंद पर रवींद्र जडेजा के हाथों लपके गए।

चेन्नई की तरफ से शर्दुल और इमरान ताहिर ने दो-दो जबकि हरभजन सिंह और ब्रावो ने एक-एक विकेट लिए।

Posted on

बैंगलोर को अपने घर में नहीं मिली जीत, राजस्थान रॉयल्स ने 19 रन से हराया

रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर और राजस्थान रॉयल्स के बीच आइपीएल का 11वां मुकाबला आरसीबी के घरेलू मैदान एम चिन्नास्वामी स्टेडियम में खेला गया और इस मैच में विराट की टीम को 19 रन से हार का सामना करना पड़ा।

इस मुकाबले में टॉस जीतकर बैंगलोर के कप्तान विराट कोहली ने पहले गेंदबाज़ी करने का फैसला किया। राजस्थान की टीम ने 20 ओवर में 4 विकेट के नुकसान पर 217 रन का विशाल स्कोर खड़ा किया। राजस्थान की तरफ से संजू सैमसन ने नाबाद 92 रन की तूफानी पारी खेली। बैंगलोर को जीत के लिए 218 रन का लक्ष्य मिला था लेकिन बैंगलोर की टीम 20 ओवर में 6 विकेट पर 198 रन ही बना पाई।

विराट ने लगाया अर्धशतक

बैंगलोर को पहला झटका पारी की शुरुआती में ही लग गया जब ब्रैंडन मैकुलम महज 4 रन के स्कोर पर गौथम की गेंद पर क्लीन बोल्ड हो गए। डार्सी शॉर्ट ने डी कॉक को आउट कर बैंगलोर को दूसरा झटका दिया। डी कॉक 26 रन बनाकर जयदेव उनादकट के हाथों कैच आउट हो गए। कप्तान कोहली ने 30 गेंदों पर तेज 57 रन की पारी खेली मगर वो श्रेयस गोपाल की गेंद पर अपना कैच डार्सी शॉर्ट को थमा बैठे। टीम के तूफानी बल्लेबाज एबी को श्रेयस गोपाल ने जयदेव उनादकट के हाथों कैच आउट करवा दिया। उन्होंने 18 गेंदों पर 20 रन बनाए। पवन नेगी तीन रन बनाकर कैच आउट हो गए। वाशिंगटन सुंदर ने 19 गेंदों पर 35 रन की तेज पारी खेली। उन्हें बेन स्टोक्स ने क्लीन बोल्ड कर दिया। मंदीप सिंह ने 25 गेंदों पर नाबाद 47 रन बनाए लेकिन टीम को जीत दिलाने में कामयाब नहीं हो पाए।

राजस्थान के लिए श्रेयस गोपाल ने दो, गौथम, बेन स्टोक्स, डार्सी शॉर्ट और बेन लॉघलिन ने एक-एक विकेट लिए।

संजू ने बनाए 45 गेंदों पर नाबाद 92 रन

क्रिस वोक्स ने राजस्थान के कप्तान अजिंक्य रहाणे को आउट कर दिया। रहाणे 20 गेंदों में 36 रन बनाकर उमेश यादव को कैच थमा बैठ और बैंगलोर को मिली पहली सफलता। इसके अगले ही ओवर में चहल ने डार्सी शॉर्ट (11) को विकेटकीपर डि कॉक के हाथों कैच आउट करवाकर राजस्थान को दूसरा झटका दे दिया। इसके बाद चहल ने खतरनाक होते बेन स्टोक्स को 27 रन पर बोल्ड कर बैंगलोर को तीसरी सफलता दिला दी। जोस बटलर ने 23 रन की पारी खेली। उन्हें क्रिस वोक्स की गेंद पर कोहली ने कैच आउट किया। संजू सैमसन ने 45 गेंद पर नाबाद 92 रन की पारी खेली। वहीं राहुल त्रिपाठी ने नाबाद 14 रन बनाए। बैंगलोर की तरफ से क्रिस वोक्स और युजवेंद्र चहल ने दो-दो विकेट लिए।

Posted on

हैदराबाद की लगातार तीसरी जीत, कोलकाता को 5 विकेट से हराया

आइपीएल 2018 के 10वें मुकाबले में कोलकाता नाइट राइडर्स को सनराइजर्स हैदराबाद ने 5 विकेट से हरा दिया। इस मैच में सनराइजर्स हैदराबाद ने टॉस जीतकर कोलकाता को पहले बल्लेबाजी का न्यौता दिया। कोलकाता ने 20 ओवर में 8 विकेट खोकर 138 रन बनाए। हैदराबाद को जीत के लिए 139 रन का लक्ष्य मिला था जिसे इस टीम ने 19 ओवर में 5 विकेट खोकर हासिल कर लिया। ये हैदराबाद की लगातार तीसरी जीत थी।

केन विलियमसन का अर्धशतक

साहा अच्छी बल्लेबाजी कर रहे थे लेकिन नरेन की एक गेंद को खेलने की कोशिश में वो अपना कैच दिनेश कार्तिक को थमा बैठे। साहा ने 15 गेंदों पर 24 रन बनाए। शिखर धवन को भी नरेन ने सस्ते में चलता कर दिया और सिर्फ 7 रन के स्कोर पर क्लीन बोल्ड कर दिया। मनीष पांडे को कुलदीप ने अपना पहला शिकार बनाया और 4 रन पर एलबीडब्ल्यू आउट कर दिया। शाकिब अल हसन को पीयूष चावला ने 27 रन पर क्लीन बोल्ड कर दिया। कप्तान विलियमसन ने 44 गेंदों पर 50 रन बनाए। उन्हें मिचेल जॉनसन ने रसेल के हाथों कैच आउट करवाया। यूसुफ पठान 17 रन जबकि दीपक हुडा 5 रन बनाकर नाबाद रहे।

कोलकाता की तरफ से सुनील नरेन ने दो जबकि मिचेल जॉनसन, पीयूष चावला और कुलदीप यादव ने एक-एक विकेट लिए।

क्रिस लीन ने खेली 49 रन की पारी

कोलकाता की शुरुआत अच्छी नहीं रही और टीम के ओपनर बल्लेबाज रॉबिन उथप्पा 8 गेंदों पर 3 रन बनाकर आउट हो गए। नितिश राणा को स्टेनलाक ने अपना शिकार बनाया और 18 रन पर उनका कैच मनीष पांडे ने पकड़ा। सुनील नरेन सिर्फ 9 रन बनाकर शाकिब अल हसन का शिकार बने। नरेन का कैच केन विलियमसन ने पकड़ा। शाकिब ने अपनी ही गेंद पर क्रिस लीन का बेहतरीन कैच लपका। लीन ने 34 गेंदों पर शानदार 49 रन बनाए। आंद्रे रसेल 9 रन बनाकर कैच आउट हो गए। कप्तान कार्तिक को भुवनेश्वर ने अपना शिकार बनाया। उन्होंने 27 गेंदों पर 29 रन बनाए और अपा कैच विकेट के पीछे साहा को थमा बैठे। शिवम मावी 7 रन बनाकर सिद्धार्थ कौल का शिकार बने। मिचेल जॉनसन 4 रन बनाकर नाबाद रहे।

हैदराबाद की तरफ से भुवनेश्वर कुमार ने तीन, बिली स्टेनलाक और शाकिब ने दो-दो जबकि सिद्धार्थ कौल ने एक विकेट चटकाया।

Posted on

दिल्ली ने मुंबई को जबकि हैदराबाद ने कोलकाता को हराया, देखिए तस्वीरें

आइपीएल के इस सीजन का दसवां मुकाबला कोलकाता और हैदराबाद के बीच खेला गया और इस मैच में हैदराबाद ने कोलकाता को पांच विकेट से हरा दिया। इस मैच में पहले बल्लेबाजी करते हुए कोलकाता ने 20 ओवर में 8 विकेट पर 138 रन बनाए। जीत के लिए मिले लक्ष्य को हैदराबाद ने 19 ओवर में पांच विकेट शेष रहते हासिल कर लिया।

केन विलियमन ने अर्धशतक लगाकर अपनी टीम की जीत तय कर दी।

दूसरी पारी में साहा ने 15 गेंदों पर 24 रन बनाकर

हैदराबाद को अच्छी शुरुआत देने की कोशिश की।

कोलकाता के खिलाफ धवन सफल नहीं रहे और 7 रन बनाकर आउट हो गए। कोलकाता के लिए ओपनर बल्लेबाज क्रिस लीन ने सबसे ज्यादा 34 गेंदों पर 49 रन बनाए।

कप्तान दिनेश कार्तिक ने 27 गेंदों पर 29 रन की पारी खेली।

रॉबन उथप्पा फिर से फेल रहे और सिर्फ तीन रन बनाकर कैच आउट हो गए। आइपीएल में शिवम मावी का ये पहला मैच था। उन्होंने 7 रन बनाए और अपना विकेट गवां दिया।

आइपीएल सीजन 11 के नौवें मुकाबले में दिल्ली डेयर डेविल्स का सामना मुंबई इंडियंस से हुआ। इस मुकाबले में मुंबई को दिल्ली के हाथों 7 विकेट से हार का सामना करना पड़ा। मुंबई ने इस मैच में पहले बल्लेबाजी करते हुए 195 रन बनाए थे। इसके बाद जीत के लिए मिले लक्ष्य को दिल्ली ने तीन विकेट पर हासिल कर लिया।

दिल्ली के ओपनर बल्लेबाज जेसन रॉय ने अपनी टीम के लिए तूफानी पारी खेली। उन्होंने 53 गेंदों पर 91 रन बनाए। जेसन की पारी से दिल्ली को जीत मिली।

दिल्ली के कप्तान गौतम गंभीर कुछ खास नहीं कर पाए और 16 गेंदों पर 15 रन बनाकर आउट हो गए।

रिषभ पंत अपने अर्धशतक से चूक गए लेकिन उन्होंने 25 गेंदों पर 47 रन की अच्छी पारी खेली और टीम की जीत में अच्छी भूमिका निभाई।

श्रेयस अय्यर ने 20 गेंदों पर 27 रन की नाबाद पारी खेली।

मुंबई की ताबड़तोड़ शुरुआत

मुंबई की टीम ने सूर्य कुमार यादव को ओपनिंग के लिए भेजकर दिल्ली की टीम को हैरान कर दिया। सूर्य कुमार यादव ने पहले ही ओवर में दिल्ली के ट्रेंट बोल्ट की खबर लेते हुए 15 रन ठोक दिए।

यादव के साथ-साथ इविन लुइस ने भी मुंबई को तेज़-तर्रार शुरुआत दी। लुइस ने 28 गेंदों पर 48 रन की ताबड़तोड़ पारी खेलकर दिल्ली की दिलेरों की हालत खराब कर दी।

तेवतिया ने दिया दोहरा झटका

मुंबई इंडियंस को पहला झटका दिल्ली के स्पिन गेंदबाज़ राहुल तेवतिया ने दिया। तेवतिया ने इविन लुईस को 48 रन के स्कोर पर जेसन रॉय के हाथों कैच आउट करवाया। इसके अगले ही ओवर में तेवतिया ने सूर्य कुमार यादव को 53 रन पर एलबीडब्लयू आउट कर मुंबई को दूसरा झटका दे दिया।

इशान किशन की तेज़-तर्रार पारी

इशान किशन ने दिल्ली के गेंदबाज़ों पर प्रहार करना जारी रखा। किशन 23 गेंदों में 44 रन की पारी खेली। इस दौरान उन्होंने 5 चौके और 2 छक्के भी लगाए।

क्रिस्चियन ने दो गेंदों पर झटके दो विकेट

इसके बाद डेन क्रिस्चियन ने दो गेंदों पर दो विकेट झटककर, दिल्ली की मैच में वापसी करा दी। क्रिस्चियन ने पहले इशान किशन को बोल्ड किया और फिर अगली ही गेंद पर क्रिस्चियन ने पोलार्ड को बोल्ड कर दिया।

इसके बाद दिल्ली के गेंदबाज़ों ने दमदार वापसी करते हुए मुंबई की टीम को निर्धारित 20 ओवर में 194 रन पर रोक दिया। मुंबई ने 7 विकेट गंवाए।

Posted on

विराट को मिली पहली जीत, घरेलू मैदान पर पंजाब को 4 विकेट से हराया

आइपीएल 2018 का 8वां मैच रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर और किंग्स इलेवन पंजाब के बीच खेला गया और इस मैच को आरसीबी ने चार विकेट से जीत लिया। इस मैच में बैंगलोर के कप्तान विराट कोहली ने टॉस जीतकर पंजाब को पहले बल्लेबाजी करने का न्यौता दिया।

पहले बल्लेबाजी करते हुए पंजाब ने निर्धारित 20 ओवर में 155 रन पर ऑल आउट हो गई। बैंगलोर को जीत के लिए 156 रन का लक्ष्य मिला जिसे इस टीम ने एबी के धमाकेदार अर्धशतक के दम पर 19.3 ओवर में 6 विकेट के नुकसान पर हासिल कर लिया। बैंगलोर की इस सीजन में ये पहली जीत थी।

एबी डीविलियर्स की तूफानी पारी

दूसरी पारी में बैंगलोर की शुरुआत काफी खराब रही। टीम के तूफानी ओपनर बल्लेबाज ब्रैंडन मैकुलम बिना कोई रन बनाए अक्षर पटेल का शिकार बन गए। मैकुलम का कैच मुजीब उर रहमान ने पकड़ा। कप्तान विरान ने अपनी लय पकड़ी ही थी कि वो मुजीब उर रहमान की गेंद पर चकमा खाकर क्लीन बोल्ड हो गए। विराट ने 16 गेंदों पर 21 रन बनाए। अश्विन ने डी कॉक को 45 रन पर क्लीन बोल्ड कर दिया। इसके बाद उन्होंने सरफराज खान को करुण नायर के हाथों कैच करवा दिया। सरफराज अपना खाता भी नहीं खोल पाए। एबी ने 40 गेंदों पर दो चौके और चार छक्के की मदद से 57 रन बनाए। उनकी पारी का अंत एंड्रयू टे ने किया। एबी का कैच करुण नायर ने पकड़ा। मंदीप सिंह 22 रन बनाकर रन आउट हो गए। इसके बाद वाशिंगटन सुंदर 9 और क्रिस वोक्स ने नाबाद एक रन पर टीम को जीत दिला दी।

पंजाब की तरफ से अश्विन ने दो, अक्षर पटेल, मुजीब उर रहमान और एंड्रयू टे ने एक-एक विकेट लिए।

लोकेश अर्धशतक से चूके

बैंगलोर को पहली सफलता उमेश यादव ने मयंक अग्रवाल के तौर पर दिलाई। उमेश की गेंद पर मयंक ने अपना कैच विकेट के पीछे डी कॉक को पकड़ा दिया। मयंक ने 15 रन बनाए। उमेश ने टीम के खतरनाक बल्लेबाज एरोन फिंच को बिना खाता खोले ही एलबीडब्ल्यू आउट कर दिया। युवराज सिंह उमेश का तीसरा शिकार बने और सिर्फ 4 रन बनाकर उनकी गेंद पर क्लीन बोल्ड हो गए। अच्छी बल्लेबाजी कर रहे लोकेश राहुल को वाशिंगटन सुंदर ने अपनी गेंद पर सरफराज खान के हाथों कैच आउट करवाया। उन्होंने 30 गेंदों पर 47 रन बनाए। करुण नायर को कलवंत खजरोलिया ने क्लीन बोल्ड कर दिया। नायर ने 29 रन की पारी खेली। मार्कस स्टॉयनिस को वाशिंगटन सुंदर ने 11 रन पर विकेट के पीछे कैच आउट करवाया। अक्षर पटेल 2 रन बनाकर कुलवंत की गेंद पर LBW आउट हुए। एंड्रयू टे को क्रिस वोक्स ने अपनी गेंद पर विराट के हाथों कैच आउट करवाया। उन्होंने सिर्फ 7 रन बनाए। कप्तान अश्विन ने 21 गेंदों पर 33 रन की पारी खेली। चहल की गेंद पर वो स्टंप आउट हो गए। मुजिब उर रहमान बिना खाता खोले क्रिस वोक्स की गेंद पर कैच आउट हो गए। मोहित शर्मा एक रन बनाकर नाबाद रहे।

बैंगलोर की तरफ से उमेश यादव ने सबसे ज्यादा तीन, क्रिस वोक्स, कुलवंत खेजरोलिया और वाशिंगटन सुंदर ने दो-दो जबकि युजवेंद्र चहल ने एक विकेट लिए।

Posted on

राजनाथ बोले- उन्नाव-कठुआ कांड शर्मनाक, ऐसे मामलों में राज्य सरकारें तुरंत लें एक्शन

उन्नाव और कठुआ गैंगरेप की घटना से पूरा देश आग बबूला है. लोग सरकार से इन दोनों मामले में कड़ी कार्रवाई करने की बात कर रहे हैं. देश के गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने इन मामलों बात की.

गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने खास बातचीत करते हुए कहा कि जहां तक महिला सुरक्षा का प्रश्न है हमारी सरकार पूरी तरह प्रतिबद्ध है. महिला सुरक्षा से जुड़े मामले राज्य सरकारों से संबंधित होते हैं. लेकिन हमारी कोशिश रहती है कि आरोपियों को सजा मिलेगी.

अगर नाबालिग लड़की के साथ रेप होता है तो तुरंत एफआईआर होनी चाहिए. अगर किसी प्रकार का संदेह है तो प्राथमिकी कार्रवाई और जांच होनी चाहिए. उन्होंने कहा कि उन्नाव मामला काफी दुखी है.

कठुआ मामले पर उन्होंने कहा कि उन्होंने जम्मू-कश्मीर की सीएम महबूबा मुफ्ती से भी बात की है. वहीं पार्टी अध्यक्ष अमित शाह और राम माधव से भी बात की गई है. राजनाथ ने कहा कि इस प्रकार के मामलों में कड़ी से कड़ी सजा होनी चाहिए. उन्होंने कहा कि कठुआ की स्थिति को गंभीर रूप से देखा जाना चाहिए. कठुआ में पाकिस्तान का हाथ होने पर उन्होंने कहा कि इस मामले में कुछ भी हो सकता है.

कश्मीर मुद्दे पर भी की बात

कश्मीर की समस्या पर राजनाथ सिंह ने कहा कि कोई भी छोटी चुनौती एक बड़ी चुनौती की तरह ही होती है. कश्मीर की समस्या के समाधान के लिए जो भी केंद्र सरकार से हो सकता है वो किया जा रहा है. कश्मीर के जो हालात हैं वो सामान्य नहीं हैं, वहां की स्थिति को बेहतर बनाने के लिए सबकुछ किया जा रहा है. कश्मीर में बच्चों को बहकाया जाता है, कोई बच्चा खुद पत्थर लेकर सुरक्षाकर्मियों के सामने नहीं आता है.

उन्होंने कहा कि कुछ ताकते हैं जो ऐसा करती हैं. पाकिस्तान की कोशिश लगातार भारत में इस प्रकार की कोशिशें करता है, पाकिस्तान को अपनी इन हरकतों से बाज आना चाहिए. राजनाथ ने कहा कि अब आतंकी फंडिंग में काफी कमी आई है लेकिन अभी भी काफी कुछ किया जाना बाकी है.

गृहमंत्री ने कहा कि सेना के जवानों पर हमें गर्व है. एक-दो घटनाएं ऐसी हुई हैं जिनपर कार्रवाई की गई है वो राज्य सरकार ने किया होगा. राजनाथ ने कहा कि हमारी तरफ से वहां के लोगों से बातचीत की कोशिशें जारी है. कश्मीर धरती का स्वर्ग है उसे बर्बाद नहीं होने देंगे.

देश के मुसलमानों पर हमें गर्व

गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि हमें अपने देश के मुसलमानों पर गर्व है. भारत में ISIS ना के बराबर है. भारत में हम ISIS को बढ़ने नहीं देंगे, हमें अपने मुसलमानों पर पूरा विश्वास है. पीडीपी और बीजेपी के गठबंधन पर राजनाथ ने कहा कि दोनों के बीच में कोई गड़बड़ नहीं है. पाकिस्तान हमारा पड़ोसी देश है, हमें पड़ोसियों से अच्छे संबंध बनाने हैं. लेकिन इसके बावजूद पाकिस्तान अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहा है. पूरी दुनिया को हमारी सरकार ने आतंकवाद के मुद्दे पर एक मंच पर लाया है.

राजनाथ सिंह ने कहा कि पाकिस्तान अगर आतंकवाद को संरक्षण देना बंद कर दे तो उससे भी बात हो सकती है. हमारा रुख नहीं बदला है. राजनाथ ने कहा कि बहुत ही शालीनता से भी कड़े कदम उठाए जा सकते हैं.

हमने खत्म की नक्सल समस्या

नक्सल समस्या पर राजनाथ सिंह ने कहा कि ये समस्या अब धीरे-धीरे खत्म हो गई है. नॉर्थ ईस्ट में भी इस प्रकार की समस्या को काफी कम कर दिया गया है. हमारा संकल्प नक्सल मुक्त भारत का है और पूरी उम्मीद है कि ये पूरा होगा.

सरकार बैकफुट पर नहीं है

राहुल गांधी के इंडिया गेट पर निकाले गए मार्च को उन्होंने कहा कि हम बैकफुट पर नहीं हैं, हमने कोई अपराध नहीं किया है. समस्याएं आती हैं, चुनौतियां आती हैं उसका सामना किया जाता है. किसी मुद्दे विशेष पर राज्य सरकार की कमी हो सकती है.

योगी की जमकर तारीफ

योगी आदित्यनाथ के मुद्दे पर उन्होंने कहा कि वह काफी अच्छी तरीके से सरकार चला रहे हैं. उन्नाव मामले में उन्होंने तुरंत सीबीआई जांच की अपील की, लेकिन अभी इस मामले में क्या कमी हुई उसकी भी जांच की जा रही है. उन्नाव में जिस प्रकार की घटना हुई है उसका कोई समर्थन नहीं करेगा. योगी जी पूरी ईमानदारी के साथ यूपी में काम कर रहे हैं. जो लोग एनकाउंटर पर सवाल उठा रहे हैं उनके सामने अदालत है वो वहां पर जा सकते हैं.

 आपराधिक केस पर राज्य सरकार करती है फैसला

राजनाथ ने कहा कि आपराधिक मामलों में केस वापस करने का अधिकार राज्य सरकार के पास होता है. लेकिन जाति या मजहब के आधार पर ऐसा नहीं होता है. बिहार और बंगाल में जो हुआ उस पर उन्होंने कहा कि सिर्फ बंगाल से रिपोर्ट इसलिए मांगी क्योंकि ये पूछा जा रहा था क्या उन्हें अतिरिक्त सुरक्षा चाहिए. बिहार से इसलिए रिपोर्ट नहीं मांगी क्योंकि बिहार ने पहले ही अतिरिक्त सुरक्षा मांग ली थी.

2019 के चुनावों पर क्या बोले राजनाथ

2019 के चुनावों के बारे में राजनाथ ने कहा कि हमारी तैयारी पूरी है, सरकार हमारी ही बनेगी. हमारे नंबर ठीक-ठाक आएंगे, जिन राज्यों में हमारी सरकार है वहां पर दोबारा हमारी सरकार बनेगी.

विपक्ष के एकजुट होने पर उन्होंने कहा कि विपक्ष ये मानता है कि इस देश में सबसे बड़ा कोई नेता है तो नरेंद्र मोदी ही हैं. विपक्ष के अंदर इस बात का डर है, दहशत है इसलिए शायद एकजुट हो रहे हैं. उन्होंने कहा कि मोदी जी के सामने अभी कोई भी चेहरा नहीं है. इसका उत्तर कोई नहीं दे पाएगा. राहुल गांधी के परिपक्व होने पर उन्होंने कोई टिप्पणी करने से मना किया. विपक्ष जो करना चाहता है वो करें, हमारी पार्टी उसपर तवज्जो नहीं देती है. लेकिन गोरखपुर-फूलपुर में जो हुआ है वह दोबारा नहीं होगा.

राजनाथ ने कहा कि 2019 में भी कई राज्यों में क्लीन स्विप करेंगे. राजस्थान और मध्यप्रदेश के चुनाव के बारे में राजनाथ ने कहा कि अभी चुनाव में एक साल है, जो हाल बदलना होता है तो 15 दिन में बदल जाता है. 2019 के लिए लोगों का जन समर्थन हमारे साथ ही है.

दलितों के मुद्दे पर क्या कहा

दलितों के मुद्दे पर राजनाथ सिंह बोले कि इस बार भी दलित हमें ही बढ़ चढ़कर वोट देंगे. अगर आप पिछली सरकार और अब की सरकार की तुलना करेंगे तो अंतर साफ दिखेगा. उन्होंने कहा कि कुछ घटनाएं हुई हैं, कुछ ताकतों ने मामले को बढ़ाने की कोशिश की है. दलित जब गंभीरता पूर्वक विचार करेंगे तो खुद समझ जाएंगे कि हमारी सरकार ने काफी अच्छा काम किया है. अगर देश को सशक्त भारत बनाना है तो सभी का विकास होना जरूरी है.

राजनाथ ने कहा कि 2 अप्रैल को छोटी-मोटी घटनाएं हुई हैं. ऊना जैसे मामले पर उन्होंने कहा कि एक-दो घटनाएं होती हैं लेकिन हमारी सरकार ने वहां पर कार्रवाई की है. रोजगार के मुद्दे पर राजनाथ ने कहा कि पहले के अपेक्षा अब अवसर बढ़ें हैं. सिर्फ सरकारी नौकरी नहीं बल्कि नौकरी के मौके की भी बात करनी चाहिए.

उन्होंने कहा कि कुछ ताकते हैं कि जो कि जातिगत संघर्ष को पैदा कर निजी स्वार्थ को पूरा करना चाहती हैं. देश की जनता गुमराह नहीं होगी, कुछ लोग हो सकते हैं. अगली सरकार स्पष्ट बहुमत के साथ हमारी ही बनेगी.

दाऊद को पकड़ना नामुमकिन नहीं

दाऊद इब्राहिम के मुद्दे पर उन्होंने कहा कि हम कोई ट्रंप कार्ड चलकर जीत हासिल नहीं करेंगे. हम सरकार बनाएंगे तो लोगों का दिल जीत कर चलाएंगे. उन्होंने कहा कि दाऊद को पकड़ना नामुमकिन नहीं है.

कोर्ट में है राम मंदिर मामला

राम मंदिर के मुद्दे पर उन्होंने कहा कि इस मामले का सही जवाब न्यायपालिका ही दे सकती है. जब वाजपेयी जी की सरकार थी तो बातचीत से मुद्दा सुलझाने की कोशिशें हुई थीं. उसके बाद अब श्रीश्री रविशंकर जी इस पर बात कर रहे हैं, लेकिन सभी को कोर्ट के फैसले का इंतजार करना चाहिए.

पक्ष-विपक्ष के उपवास पर उन्होंने कहा कि क्या कभी कोई सरकार चाहेगी कि संसद ना चले. संसद को चलाना सरकार और विपक्ष की भी जिम्मेदारी है. क्या विपक्ष के लोगों को संसद से बाहर फेंकवा दें. हमने सभी के साथ बातचीत की है.