Posted on

स्वतंत्रता दिवस स्पेशल: आजाद भारत में इन 5 बाइक्स ने मचाया तहलका, इनमें से कौन सी बाइक है आपकी फेवरेट!

शक्तिशाली रॉयल एनफील्ड बुलेट से लेकर सबसे पुरानी मोटसाइकिलों में से एक को स्वतंत्र भारत में टू-स्ट्रॉक के साथ बेचा जाना था जो यामाहा RD 350 थी। भारत में आज भी इन मोटरसाइकिल्स को याद किया जाता है। 72 वें स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर आज हम आपको उन बाइक्स के बारे में बताने जा रहे हैं जो 1947 के बाद भारत में काफी पॉपुलर हुई हैं।

रॉयल एनफील्ड बुलेट

रॉयल एनफील्ड पहली मोटरसाइकिल्स में से एक ऐसी थी जो भारत आजाद होने के सबसे ज्यादा बेची गई। इस बाइक को सबसे पहले बॉर्डर पर गश्त करने के लिए इस्तेमाल किया जाता था और यह अब भारतीय सेना की सबसे पसंदीदा बाइक है। 1955 में यूके की रॉयल एनफील्ड और मद्रास मोटर्स ने भारत में फैक्ट्री खोली जो कि अभ चेन्नई में स्थित है और इस फैक्ट्री में बुलेट 350 को असेम्बल किया गया जो कि रॉयल एनफील्ड की इग्लैंड फैक्टरी रेड्डिच से लाई गई थी। 1962 में बुलेट 350 को भारत में भारत में स्क्रैच द्वारा मैन्युफैक्चर किया गया और कंपनी ने यहा सालाना इसकी 20,000 यूनिट्स बनानी शुरू कर दी। आज 40 साल बाद भी रॉयल एनफील्ड बुलेट 350 में समान टेक्नोलॉजी का ही इस्तेमाल किया जा रहा है। अब रॉयल एनफील्ड पूरी तरह भारत की आयशर मोटर्स के स्वामित्व वाली कंपनी बन चुकी है।

येज्दी रोडकिंग

येज्दी मूल रूप से चेक-मूल जावा मोटरसाइकिल का भारतीय वर्जन है और इसने भारतीय बाजार में स्वतंत्रता दिवस के बाद कई पॉपुलर बाइक्स बनाई हैं। भारत में इस कंपनी ने 1973 से बाइक्स की बिक्री शुरू की। भारतीय बाजार में येज्दी ने कई मॉडल्स उतारे लेकिन उनमें सबसे ज्यादा पॉपुलर मॉडल येज्दी रोडकिंग था, जिसे 1978 से लेकर 1996 तक मैसूर के आदर्श जावा फैक्ट्री में बनाया गया। इस बाइक में 250cc सिंगल-सिलेंडर 2-स्ट्रॉक इंजन है जो 16bhp की पावर और 24Nm का टॉर्क जनरेट करता है।

हीरो होंडा CD100

हीरो होंडा की प्रतिष्ठित मोटरसाइकिल हीरो होंडा CD100 आज भी भारतीय सड़कों पर दिखाई दे जाती है। हीरो ने इस मोटरसाइकिल को जापान की होंडा मोटर कंपनी के साथ मिलकर 1983 में बनाया था और यह दोनों कंपनी की भारत में पहली मोटरसाइकिल थी जिसे हीरो होंडा CD100 के नाम से 1984 में लॉन्च किया गया था। 80 और 90 के दशक में यह बाइक भारतीय सड़कों पर राज करती थी। यह भारत की पहली 4-स्ट्रॉक 100cc मोटरसाइकिल थी।

यामाहा RX 100

यामाहा की यह वो बाइक थी जो रेसिंग में लोगों का दिल जीत लेती थी। इस बाइक में 98cc टू-स्ट्रॉक इंजन लगा था, जो 7,500 rpm पर 11bhp की पावर और 6,500 rpm पर 10.39 Nm का टॉर्क जनरेट करता है। बाइक का इंजन 4-स्पीड गियरबॉक्स से लैस था। यामाहा का दावा था कि 100cc बाइक में उनकी इस बाइक की टॉप स्पीड 100kmph थी। 1985 में इस बाइक की 5,000 यूनिट्स को जापान से नॉक्ड डाउन किट्स के तौर पर लाया गया। इसके बाद इस बाइक का प्रोडक्शन 1996 तक चला।

यामाहा RD 350

RX100 के अलावा 80 के दशक में यामाहा की दूसरी बाइक RD 350 को रॉयल एनफील्ड की बुलेट के बाद सबसे ज्यादा प्यार मिला। हालांकि भारत में इस बाइक को 1983 से लेकर 1989 तक ही बेचा गया। भारत में बेची जाने वाली यामाहा RD350 पहली ट्विन-सिलेंडर परफॉर्मेंस मोटरसाइकिल थी। इस बाइक में 347cc पैरेलेल-ट्विन टू-स्ट्रॉक इंजन दिया गया था। यह इंजन 30.5bhp की पावर जनरेट करने में सक्षम था। इस बाइक की टॉप स्पीड 140kmph थी।

Posted on

कुली का कमाल: स्‍टेशन के फ्री वाई फाई की मदद से पास की UPSC की परीक्षा

सपने पूरे करने के लिए हौंसला चाहिए सुविधा नहीं इस सच को सुनाती है इस कुली कीकहानी जो स्‍टेशन के फ्री वाईफाई की मदद से सिविल सेवा परीक्षा में पास हुआ।

केरल में एर्नाकुलम स्टेशन पर कुली का काम करने वाले श्रीनाथ के. की कहानी कुछ अनोखी है, जिन्होंने रेलवे स्टेशन पर उपलब्ध मुफ्त वाईफाई सुविधा के सहारे इंटरनेट के जरिये पढ़ाई की और केरल पब्लिक सर्विस कमीशन, केपीएससी की लिखित परीक्षा पास की। सबसे बड़ी बात ये है कि तैयारी के दौरान वह किताबों में नहीं डूबे रहे बल्‍कि अपना काम करते हुए स्मार्ट फोन और ईयरफोन के सहारे पढ़ाई करते रहे। अब अगर श्रीनाथ साक्षात्‍कार में सफल हो जाते हैं तो वह भूमि राजस्व विभाग के तहत विलेज फील्ड असिस्टेंट के पद पर नियुक्‍त्‍त हो जायेंगे।

तीसरे प्रयास में मिली सफलता

श्रीनाथ पिछले पांच वर्ष से कुली के रूप में काम कर रहे हैं और उनका सिविल परीक्षा के इम्‍तिहान में बैठने का ये तीसरा प्रयास था। उनका कहना है कि यह पहला मौका था, जब उन्‍होंने स्टेशन पर उपलब्ध वाईफाई सुविधा का इस्तेमाल किया। उन्‍होंने ये भी बताया कि कुली का काम करने के दौरान वे हमेशा ईयरफोन कान में लगाए रखते थे और इंटरनेट पर अपने संबंधित विषयों पर लेक्चर सुना करते थे। उसे मन ही मन दोहराते भी रहते थे और रात को मौका मिलते ही फिर रिवाइज कर लेते थे। इसी वाईफाई की मदद से उन्‍होंने ऑनलाइन अपना परीक्षा फार्म भरा और देश दुनिया की ताजा जानकारियों से खुद को अपडेट किया साथ ही अपने विषयों की जम कर तैयारी की।

Posted on

किंग्स XI पंजाब ने राजस्थान को व मुंबई इंडियंस ने कोलकाता को हराया। फोटो विश्लेषण

IPL के 37वें मैच में मुंबई ने पहले बल्लेबाजी करते हुए निर्धारित 20 ओवर में 4 विकेट खोकर 181 रन बनाए। जवाब में 182 रन का पीछा करने उतरी कोलकाता की टीम निर्धारित 20 ओवर में 6 विकेट के नुकसान पर 168 रन ही बना सकी और 13 रन से मैच हार गई।

केकेआर की ओर से रॉबिन उथप्पा ने लगाया अर्धशतक लेकिन टीम को जीत नहीं दिला पाए।

नीतीश राणा ने भी अपनी टीम के लिये 31 रनों की उपयोगी पारी खेली लेकिन वो अपनी टीम को जीत नहीं दिला सके।

कप्तान दिनेश कार्तिक ने आखिरी के ओवरों में तेजी से 26 गेंदों पर 36 रन बनाए लेकिन तब तक मैच मुंबई के हाथों में जा चुका था। कार्तिक अंत तक आउट नहीं हुए।

पहले बल्लेबाजी में बेहतरीन पारी खेलने वाले हार्दिक पांड्या ने गेंदबाजी में भी बढ़िया हाथ दिखाया उन्होंने बेहतरीन गेंदबाजी करते हुए 4 ओवरों में 19 रन देकर 2 विकेट हासिल किये।

मुंबई इंडियंस की ओर से सलामी बल्लेबाज सूर्य कुमार यादव ने लगाया अर्धशतक

सलामी बल्लेबाज इविन लुइस ने भी 43 रनों की बेहतरीन पारी खेली उन्होंने सूर्य कुमार यादव के साथ पहले विकेट के लिये 9.2 ओवर में 91 रन जोड़कर बेहतरीन शुरुआत दी।

आखिरी ओवर्स में मुंबई इंडियंस की तरफ से हार्दिक पांड्या ने तेजी से 35 रन बनाए, और टीम का स्कोर 181 रन तक पहुंचाया।

केकेआर की ओर से आंद्रे रसेल ने 2 ओवर में 12 रन देकर दो खिलाड़ियों को आउट किया।

रसेल के अलावा केकेआर की ओर से सुनील नरेन ने भी 4 ओवर में 35 रन देकर 2 सफलताएं हासिल की।

IPL के 38वें मैच में राजस्थान ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 20 ओवर में 9 विकेट पर 152 रन बनाए। पंजाब को जीत के लिए 153 रन बनाने थे जिसे इस टीम ने 18.4 ओवर में चार विकेट पर हासिल कर लिया और 6 विकेट से मैच जीत लिया।

पंजाब के लिए लोकेश राहुल ने अर्धशतकीय पारी खेली और 54 गेंदों पर नाबाद 84 रन बनाकर अपनी टीम को जीत दिला दी।

करुण नायर ने 23 गेंदों पर 31 रन बनाए और उन्हें अनुरित सिंह ने क्लीन बोल्ड कर दिया।

अक्षर पटेल को उपरी क्रम पर आजमाया गया लेकिन वो सिर्फ 4 रन ही बना पाए।

राजस्थान के खिलाफ दूसरी पारी में पंजाब के तूफानी बल्लेबाज गेल चल नहीं पाए और 8 रन पर आउट हो गए।

मयंक अग्रवाल 2 रन बनाकर बेन स्टोक्स की गेंद पर आउट हो गए।

राजस्थान के लिए सबसे बड़ी पारी जोस बटलर ने खेली। उन्होंने 39 गेंदों पर 51 रन बनाए।

संजू सैमसन ने टीम के लिए 23 गेंदों पर 28 रन की पारी खेली और टे की गेंद पर आउट हुए।

टीम के कप्तान अजिंक्य रहाणे का बल्ला नहीं चला और वो सिर्फ 5 रन बनाकर आउट हो गए।

पंजाब के गेंदबाज मुजीब उर रहमान सबसे सफल गेंदबाज रहे और उन्होंने तीन विकेट झटके।

Posted on

मुंबई ने कायम रखी प्लेऑफ की उम्मीदें, किंग्स XI पंजाब को 6 विकेट से हराया

IPL के 34वें मैच में पहले बल्लेबाजी करते हुए पंजाब की टीम ने 20 ओवर में 6 विकेट खोकर 174 रन बनाए। मुंबई को जीत के लिए 175 रन बनाने का लक्ष्य मिला था जिसे इस टीम ने 19 ओवर में 4 विकेट खोकर हासिल कर लिया और 6 विकेट से ये मैच जीत लिया।

मु्ंबई की टीम ने इस जीत के साथ फिलहाल प्लेऑफ के लिए अपनी उम्मीदें कायम रखी है। पंजाब को हराने के बाद मुंबई के कुल 6 अंक हो गए हैं और वो पांचवें नंबर पर पहुंच गया है। हालांकि पंजाब इस मैच को हारने के बाद भी 10 अंक के साथ चौथे नंबर पर कायम है।

सूर्यकुमार की बेहतरीन पारी

मुंबई का पहला विकेट इविन लुईस के तौर पर गिरा। लुईस कुछ खास नहीं कर पाए और 13 गेंदों पर 10 रन बनाकर मुजीब की गेंद पर लोकेश राहुल के हाथों कैच आउट हुए। सूर्यकुमार यादव ने बेहतरीन बल्लेबाजी करते हुए 42 गेंदों पर 57 रन बनाए। उन्हें स्टॉयनिस ने लोकेश राहुल के हाथों कैच करवा दिया। ईशान किशन अच्छी लय में दिख रहे थे लेकिन मुजीब ने उन्हें 25 रन पर क्लीन बोल्ड कर दिया। हार्दिक पांड्या ने 13 गेंदों पर 23 रन बनाए पर अहम वक्त पर अपना विकेट खो दिया। उन्हें टे ने क्लीन बोल्ड कर दिया। कप्तान रोहित शर्मा ने नाबाद 24 रन और कृणाल पांड्या ने नाबाद 31 रन की पारी के दम पर अपनी टीम को जीत दिला दी।

पंजाब के लिए मुजीब उर रहमान ने दो, एंड्रयू टे और स्टॉयनिस ने एक-एक विकेट लिए।

गेल की अर्धशतकीय पारी

पंजाब की टीम को दोनों ओपनर ने अच्छी शुरुआत दी। लोकेश राहुल ने क्रिस गेल के साथ मिलकर पहले विकेट के लिए 54 रन की साझेेदारी की और उनकी जोड़ी को मयंक ने तोड़ा। मयंक ने लोकेश राहुल को जेपी डुमिनी के हाथों कैच करवा दिया। राहुल ने 20 गेंदों पर 24 रन की पारी खेली। क्रिस गेल ने एक बार फिर से अपनी टीम के लिए उपयोगी पारी खेली और 40 गेंदों पर 50 रन बनाए। बेन कटिंग की गेंद पर उनका कैच सूर्यकुमार यादव ने लपका। युवराज सिंह का बल्ला एक बार फिर से खामोश रहा। उन्होंने 14 गेंदों पर 14 रन बनाए लेकिन रन आउट हो गए। करुण नायर 23 रन बनाकर मैक्लेघन की गेंद पर पांड्या द्वारा लपके गए। अक्षर पटेल 13 रन बनाकर बुमराह की गेंद पर पांड्या के हाथों कैच हुए। मयंक अग्रवाल 11 रन बनाकर हार्दिक पांड्या की गेंद पर कैच आउट हो गए। आखिरी में स्टॉयनिस ने 15 गेंदों पर तेज नाबाद 29 रन की पारी खेली और टीम के स्कोर को 174 तक पहुंचाया।

मुंबई की तरफ से बेन कटिंग, मयंक, हार्दिक पांड्या, जसप्रीत बुमराह और मैक्लेघन ने एक-एक विकेट झटके।

Posted on

घरेलू मैदान पर विराट की बैंगलोर ने ने रोहित की मुम्बई इंडियंस को हराया। फोटो विश्लेषण!

IPL के 31वें मैच में बैंगलोर ने पहले खेलते हुए 20 ओवर में 7 विकेट पर 167 रन बनाए। मुंबई को जीत के लिए 168 रन का लक्ष्य मिला था लेकिन रोहित की टीम 20 ओवर में 7 विकेट पर 153 रन ही बना पाई और उसे 14 रन से ये मैच गवांना पड़ा।

मुंबई के कप्तान रोहित शर्मा बैंगलोर के खिलाफ अपना खाता भी नहीं खोल पाए और उन्हें उमेश यादव ने कैच आउट करवा दिया।

ईशान किशन को ओपनिंग की जिम्मेदारी दी गई लेकिन उन्होंने अपनी टीम को निराश किया और शून्य पर बोल्ड हो गए तेज गेंदबाज टिम साउथी की गेंद पर।

किरोन पोलार्ड का बल्ला भी बैंगलोर के खिलाफ नहीं चला और वो 13 रन पर पवेलियन लौट गए।

मुंबई के ओपनर बल्लेबाज सूर्यकुमार यादव 9 रन पर उमेश यादव की गेंद पर LBW आउट हो गए।

हार्दिक पांड्या ने मुंबई के लिए 42 गेंदों पर 50 रन की बेहतरीन पारी खेली लेकिन टीम को जीत नहीं दिला पाए।

बैंगलोर के ओपनर बल्लेबाज मनन वोहरा ने अपनी टीम के लिए सबसे बड़ी पारी खेली और 31 गेंदों पर 45 रन बनाए।

मैकुलम के बल्ले से 25 गेंदों पर 37 रन निकले और वो रन आउट हो गए।

कप्तान विराट कोहली ने 26 गेंदों पर 32 रन बनाए और बड़ी पारी खेलने से चूक गए।

मनदीप सिंह ने 10 गेंदों पर 14 रन बनाए। उनका तूफानी अंदाज नहीं चल पाया।

मुंबई की तरफ से बैंगलोर के खिलाफ हार्दिक सबसे सफल गेंदबाज रहे और तीन विकेट झटके।

Posted on

मुम्बई इंडियन्स के सामने धराशाई हुई चेन्नई, 8 विकेट के बड़े अंतर से मिली शर्मनाक हार। देखें फोटो विश्लेषण!

IPL के 27वें मैच में पहले खेलते हुए चेन्नई ने 20 ओवर में 5 विकेट पर 169 रन बनाए। जीत के लिए मिले 170 रन के लक्ष्य को मुंबई ने 19.4 ओवर में 2 विकेट पर हासिल कर लिया और चेन्नई से अपने पहले हार का बदला भी ले लिया।

मुंबई के कप्तान रोहित शर्मा ने 33 गेंदों पर 56 रन की नाबाद पारी खेली और अपनी टीम को जीत दिलाई।

दूसरी पारी में चेन्नई के खिलाफ मुंबई के ओपनर बल्लेबाज सूर्यकुमार यादव ने अपनी टीम को अच्छी शुरुआत दिलाई साथ ही 34 गेंदों पर 44 रन बनाए।

मुंबई के ओपनर बल्लेबाज इवान लुईस ने 43 गेंदों पर 47 रन की अच्छी पारी खेली।

चेन्नई के मध्यक्रम के बल्लेबाज सुरेश रैना ने बेहतरीन पारी खेलते हुए 47 गेंदों पर नाबाद 75 रन बनाए।

मुंबई के खिलाफ पहली पारी में चेन्नई के ओपनर बल्लेबाज वॉटसन का बल्ला नहीं चला और वो 12 रन बनाकर आउट हुए।

अंबाती रायडू अर्धशतक के चूक गए और उन्होंने 35 गेंदों पर 46 रन की पारी खेली।

कप्तान धौनी ने अपनी टीम के लिए 21 गेंदों पर 26 रन की पारी खेली।

Posted on

अपने ही घर में मुंबई की शर्मनाक हार, हैदराबाद ने 31 रन से हराया

IPL के 23वें मैच में सनराइजर्स हैदराबाद ने मुंबई इंडियंस को 31 रन से हरा दिया। इस मैच में मुंबई इंडियंस के कप्तान रोहित शर्मा ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया। टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी के लिये उतरी हैदराबाद की टीम 18.4 ओवर में 118 रन बनाकर ऑल आउट हो गयी।

दूसरी पारी में 119 रन के लक्ष्य का पीछा करने उतरी मुंबई की टीम पूरे ओवर भी नहीं खेल पायी और 18.5 ओवर में मात्र 87 रन पर ढेर हो गयी। मुंबई की ओर से महज दो बल्लेबाज ही दहाई की संख्या छू सके। सलामी बल्लेबाज सूर्यप्रकाश यादव(34) और क्रुणाल पंड्या (24) के अलावा मुंबई इंडियंस का कोई भी बल्लेबाज हैदराबाद के गेंदबाजों के सामने नहीं टिक सका। पूरी पारी के दौरान मुंबई के बल्लेबाज हैदराबाद के गेंदबाजों के सामने संघर्ष करते हुए नजर आए।

हैदराबाद के गेंदबाजों ने अपनी कसी हुई गेंदबाजी के दम पर पूरे मैच में पकड़ बनाए रखी। एक बार भी मुंबई के बल्लेबाज इन गेंदबाजों पर हावी नहीं होने पाये। इन गेंदबाजों के सामने मुंबई के बल्लेबाज संघर्ष करते हुए नजर आ रहे थे। सिद्धार्थ कौल ने 3, राशिद खान और बासिल थंपी ने 2-2 और संदीप शर्मा, मोहम्मद नबी और शाकिब अल हसन को एक-एक विकेट मिला।

सिद्धार्थ कौल ने लिये 3 विकेट

मुंबई ने धीमी शुरुआत करते हुए पहले विकेट के लिये 2.5 ओवर में मात्र 12 रन ही जोड़े थे कि तभी संदीप शर्मा ने लुइस को 5 रन के निजी स्कोर पर मनीष पांडे के हाथों कैच आउट करवा दिया। इसके बाद बल्लेबाजी करने आए ईशान किशन भी नहीं चले वो अपना खाता भी नहीं खोल पाये और नबी की गेंद पर दीपक हूडा को कैच दे बैठे। इसके बाद बल्लेबाजी के लिये आए कप्तान रोहित शर्मा भी सिर्फ 2 रन बनाकर शाकिब की गेंद पर धवन को कैच दे बैठे। क्रुणाल पंड्या ने सूर्य प्रकाश के साथ मिलकर चौथे विकेट के लिये 40 जोड़कर मुंबई की उम्मीदें जगाई लेकिन 24 रन के निजी स्कोर पर राशिद खान ने क्रुणाल पांड्या को एलबीडब्ल्यु आउट कर मुंबई की इस जोड़ी को भी तोड़ दिया। उसके बाद बैटिंग के लिये आए कीरोन पोलार्ड भी 9 रन बनाकर राशिद खान का शिकार बने उन्हें धवन ने कैच आउट किया। इसके बाद मुंबई का कोई भी बल्लेबाज नहीं टिक सका। पोलार्ड के बाद हार्दिक पांड्या मात्र 3 रन बनाकर सिद्धार्थ कौल के शिकार बने। उन्हें थंपी ने कैच आउट किया। इसके बाद मिशले मैक्लेघ्न और मयंक मार्कंडेय को एक ही ओवर में कौल ने एलबीडब्ल्यु आउट किया। जबकि मुस्तफिजुर्रहमान एक रन बनाकर बेसिल थंपी की गेंद पर हुडा को कैच दे बैठे। जसप्रीत बुमराह 6 रन बनाकर नाबाद रहे।

मिशेल मैक्लेघ्न ने दिये हैदराबाद को शुरुआती झटके

मुंबई के बाएं हाथ के तेज गेंदबाज मिशेल मैक्लेघ्न ने हैदराबाद को अपने पहले ओवर में ही दो बड़े झटके दिये, जब उन्होंने अपनी चौथी गेंद पर हैदराबाद के सलामी बल्लेबाज शिखर धवन को क्लीन बोल्ड कर दिया। इसके बाद बल्लेबाजी करने आए रिद्धिमान साहा को भी मैक्लेघ्न ने अपने इसी ओवर की आखिरी गेंद पर इशान किशन के हाथों कैच आउट करवा दिया। इसके बाद केन विलियम्सन और मनीष पांडे ने पारी संभाली ही थी की पांड्या ने मनीष पांडे को कप्तान रोहित के हाथों कैच आउट करवा दिया। इसके बाद बल्लेबाजी करने आए शाकिब अल हसन भी मात्र 2 रन बनाकर रन आउट हो गये। इसके बाद हार्दिक पांड्या ने एक तरफ से बल्लेबाजी का छोर संभाले कप्तान केन विलियम्सन को ईशान किशन के हाथों कैच आउट करवा दिया। अभी स्कोर बोर्ड में 18 रन ही और जुड़े थे कि तभी मयंक मार्कंडेय ने मोहम्मद नबी को क्लीन बोल्ड कर दिया। इसके बाद जसप्रीत बुमराह ने राशिद खान को विकेट के पीछे ईशान किशन के हाथों कैच आउट करवाया। इसके बाद बासिल थंपी को क्लीन बोल्ड कर मयंक मार्कंडेय ने गुगली का शिकार बनाया।

Posted on

#IPL चेन्नई ने हैदराबाद को और राजस्थान ने मुंबई को हराया

IPL 2018 का 21वां मैच मुंबई और राजस्थान के बीच जयपुर में खेला गया। इस मैच में मुंबई ने पहले खेलते हुए 20 ओवर में 7 विकेट पर 167 रन बनाए। जीत के लिए मिले 168 रन के लक्ष्य को राजस्थान की टीम ने 19.4 ओवर में 7 विकेट पर हासिल कर लिया।

मुंबई के खिलाफ राजस्थान के कप्तान रहाणे के बल्ले से सिर्फ 14 रन ही निकले लेकिन टीम को जीत मिली।

संजू सैमसन ने राजस्थान के लिए अच्छी पारी खेली और 39 गेंदों पर 52 रन बनाए। उनकी मेहनत सफल रही और टीम को जीत मिली।

बेन स्टोक्स ने 27 गेंदों पर 40 रन बनाए और टीम की जीत में अच्छी भूमिका निभाई।

मुंबई टीम के कप्तान रोहित शर्मा बिना खाता खोले ही रन आउट हो गए।

टीम के ओपनर बल्लेबाज सूर्यकुमार यादव की पारी अच्छी रही और उन्होंने 47 गेंदों पर 72 रन बनाए।

इशान किशन ने अर्धशतकीय पारी खेली और 42 गेंदों पर 58 रन की पारी खेली।

किरोन पोलार्ड ने 20 गेंदों पर 21 रन बनाए और आखिरी तक नाबाद रहे।

मुंबई के खिलाफ राजस्थान के तेज गेंदबाज जोफ्रा आर्चर ने बेहतरीन गेंदबाजी करते हुए 4 ओवर में 22 रन देकर 3 विकेट लिए।

IPL 2018 का 20वां मुकाबला चेन्नई सुपर किंग्स और सनराइजर्स हैदराबाद के बीच राजीव गांधी इंटरनेशनल स्टेडियम में खेला गया। इस रोमांचक मुकाबले में चेन्नई को 4 रन से जीत मिली। इस मैच में पहले बल्लेबाजी करते हुए चेन्नई ने 20 ओवर में 3 विकेट पर 182 रन बनाए। जीत के लिए मिले 183 रन से लक्ष्य का पीछा करने उतरी हैदराबाद की टीम 20 ओवर में 6 विकेट पर 178 रन ही बना पाई।

हैदराबाद के कप्तान केन विलियमसन ने शानदार पारी खेली। उन्होंने 51 गेंदों पर 84 रन बनाए लेकिन टीम को जीत नहीं दिला पाए।

दूसरी पारी में हैदराबाद के तूफानी बल्लेबाज मनीष पांडे अपना खाता भी नहीं खोल पाए और शून्य पर आउट हो गए।

दीपक चाहर ने हैदराबाद के खिलाफ 4 ओवर में 15 रन देकर अहम 3 विकेट लिए।

चेन्नई के ओपनर बल्लेबाज शेन वॉटसन ने इस मैच में निराश किया और 9 रन बनाकर आउट हो गए।

धौनी ने डू प्लेसिस को ओपनिंग करने भेजा लेकिन वो 11 रन पर ही सिमट गए।

सुरेश रैना ने 43 गेंदों पर नाबाद 54 रन की पारी खेली और टीम के स्कोर को 182 तक पहुंचाया।

अंबाती रायडू चौथे नंबर पर बल्लेबाजी करने आए और तूफानी पारी खेलते हुए 37 गेंदों पर 79 रन बनाए।

कप्तान धौनी ने 12 गेंदों पर नाबाद 25 रन की पारी खेली।

Posted on

विराट पर भारी पड़े रोहित, मुंबई को मिली पहली जीत बैंगलोर को 46 रन से हराया

आइपीएल 2018 के 14 वें मुकाबले में मुंबई इंडियंस का सामना रॉयल चैलेंजर बैंगलोर से हुआ और इस मैच में लगातार तीन हार के बाद मुंबई की टीम को 46 रन से जीत मिली।

इस मुकाबले में विराट ने टॉस जीतने के बाद रोहित की टीम को बल्लेबाजी का न्योता दिया। पहले बल्लेबाजी करते हुए मुंबई ने रोहित और लुइस की शानदार अर्धशतकीय पारी के दम पर 20 ओवर में 6 विकेट पर 213 रन बनाए। बैंगलोर को जीत के लिए 214 रन थे लेकिन कप्तान विराट के नाबाद 92 रन की पारी के बाद भी आरसीबी ने 20 ओवर में 8 विकेट पर 167 रन बनाए।

रोहित और लुइस ने खेली अर्धशतकीय पारी

बैंगलोर के खिलाफ मुंबई इंडियंस की शुरुआत इससे खराब शायद ही हो सकती थी। पहली पारी की पहली ही गेंद पर उमेश यादव ने ओपनर बल्लेबाज सूर्यकुमार यादव को बिना खाता खोले ही क्लीन बोल्ड कर दिया। इसके बाद उसी ओवर की दूसरी गेंद पर ईशान किशन भी बिना खाता खोले उमेश यादव की गेंद पर क्लीन बोल्ड हो गए। इवान लुइन ने 42 गेंदों पर 65 रन की पारी खेली। उनका विकेट कोरी एंडरसन ने लिया। लुइस का कैच डी कॉक ने विकेट के पीछे लपका। कृणाल पांड्या 15 रन बनाकर रन आउट हो गए। पोलार्ड 5 रन बनाकर क्रिस वोक्स की गेंद पर एबी के हाथों कैच आउट हो गए। रोहित शर्मा 52 गेंदों पर 94 रन बनाकर एंडरसन की गेंद पर वोक्स के हाथों कैच आउट हुए। हार्दिक पांड्या 5 गेंदों पर 17 रन बनाकर नाबाद रहे।

बैंगलोर की तरफ से उमेश यादव और कोरी एंडरसन ने दो-दो जबकि क्रिस वोक्स ने एक विकेट लिए।

विराट की नाबाद 92 रन की पारी

बैंगलोर के लिए डी कॉक ने विराट के साथ मिलकर अच्छी शुरुआत की लेकिन वो 12 गेंदों पर 19 रन बनाकर मिचेल मैक्लेघन की गेंद पर क्लीन बोल्ड हो गए। विराट के साथ डी कॉक ने पहले विकेट लिए 40 रन की साझेदारी की। एबी सिर्फ एक रन बनाकर मैक्लेघन की गेंद पर हार्दिक पांड्या के हाथों कैच आउट हो गए। मनदीप सिंह कृणाल की गेंद पर ईशान किशन के हाथों विकेट के पीछे स्टंप आउट हुए। उन्होंने 16 रन बनाए। कोरी एंडरसन बिना खाता खोले ही कृणाल की गेंद पर कैच आउट हुए। उनका कैच जेपी डुमिनी ने पकड़ा। क्रिस वोक्स 11 रन पर जसप्रीत बुमराह की गेंद पर कैच आउट हुए। वाशिंगटन सुंदर 7 रन बनाकर कैच आउट हुए। सरफराज खान 5 रन पर स्टंप आउट हो गए। उमेश यादव एक रन बनाकर बुमराह की गेंद पर क्लीन बोल्ड हो गए। बैंगलोर के कप्तान विराट कोहली ने 62 गेंदों पर नाबाद 92 रन की पारी खेली। मो. सिराज भी 8 रन पर नाबाद पवेलियन लौटे।

मुंबई के लिए कृणाल पांड्या ने तीन, जसप्रीत बुमराह और मैक्लेघन ने दो-दो जबकि मयंक ने एक विकेट लिए।

Posted on

धौनी की दमदार पारी भी चेन्नई को नहीं दिला पाई जीत, पंजाब ने 4 रन से मैच जीता

आइपीएल 2018 के 12वें मैच में चेन्नई सुपर किंग्स का मुकाबला किंग्स इलेवन पंजाब के साथ था और इसमें धौनी की टीम को 4 रन से हार मिली।

इस मैच में चेन्नई के कप्तान महेंद्र सिंह धौनी ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी का फैसला किया। पहले बल्लेबाजी करते हुए पंजाब ने 20 ओवर में 7 विकेट के नुकसान पर 197 रन बनाए। चेन्नई को जीत के लिए 198 रन का लक्ष्य मिला। टीम के कप्तान धौनी ने 79 रन की नाबाद पारी खेलकर टीम को जीत दिलाने की कोशिश की लेकिन वो सफल नहीं हो पाए। चेन्नई ने 20 ओवर में 5 विकेट पर 193 रन बनाए।

धौनी ने खेली शानदार पारी

चेन्नई का पहला विकेट मोहित शर्मा ने लिया। उन्होंने ओपनर बल्लेबाज शेन वॉटसन को बरिंदर के हाथों कैच करवा दिया। शेन ने 9 गेंदों पर 11 रन बनाए। रैना की जगह टीम में शामिल किए गए मुरली विजय 12 रन बनाकर पवेलियन लौट गए। एंड्रयू टे की गेंद पर उनका कैच बरिंदर ने पकड़ा। सैम बिलिंग्स 9 रन बनाकर अश्विन की गेंद पर एलबीडब्ल्यू आउट हुए। अंबाती रायडू सिर्फ एक रन से अपने अर्धशतक से चूक गए। रायडू ने 35 गेंदों पर 49 रन बनाए और रन आउट हो गए। रवींद्र जडेजा 19 रन बनाकर एंड्रयू टे की गेंद पर अश्विन के हाथों कैच आउट हुए। कप्तान धौनी ने 44 गेंदों पर नाबाद 79 रन की पारी खेली पर टीम को जीत नहीं दिला पाए। ब्रावो एक रन बनाकर नाबाद रहे।

पंजाब की तरफ से एंड्रयू टे ने दो जबकि मोहित शर्मा और अश्विन ने एक-एक विकेट लिए।

गेल ने खेली तूफानी पारी

पंजाब का पहला विकेट लोकेश राहुल के तौर पर गिरा। राहुल ने 22 गेंदों पर 37 रन बनाए। उन्होंने पहले विकेट ले लिए गेल के साथ 96 रन की साझेदारी की। राहुल को हरभजन सिंह ने क्लीन बोल्ड कर दिया। क्रिस गेल ने अपने पहले ही मैच में 33 गेंदों पर 63 रन की पारी खेली। उन्हें शेन वॉटसन ने इमरान ताहिर के हाथों कैच आउट करवा दिया। मयंक अग्रवाल 30 रन बनाकर इमरान ताहिर की गेंद पर बोल्ड हो गए जबकि एरोन फिंच इमरान ताहिर की गेंद पर एलबीडब्ल्यू आउट हो गए। वो अपना खाता भी नहीं खोल पाए थे। युवराज सिंह इस मैच में भी नहीं चल पाए। वो 20 रन बनाकर शर्दुल ठाकुर की गेंद पर विकेट के पीछे धौनी के हाथों लपके गए। कप्तान अश्विन ने 14 रन पर अपना विकेट गवां दिया। वो शर्दुल की गेंद पर अपना कैच धौनी को थमा बैठे। करुण नायर 29 रन बनाकर ब्रावो की गेंद पर रवींद्र जडेजा के हाथों लपके गए।

चेन्नई की तरफ से शर्दुल और इमरान ताहिर ने दो-दो जबकि हरभजन सिंह और ब्रावो ने एक-एक विकेट लिए।