Posted on

कुली का कमाल: स्‍टेशन के फ्री वाई फाई की मदद से पास की UPSC की परीक्षा

सपने पूरे करने के लिए हौंसला चाहिए सुविधा नहीं इस सच को सुनाती है इस कुली कीकहानी जो स्‍टेशन के फ्री वाईफाई की मदद से सिविल सेवा परीक्षा में पास हुआ।

केरल में एर्नाकुलम स्टेशन पर कुली का काम करने वाले श्रीनाथ के. की कहानी कुछ अनोखी है, जिन्होंने रेलवे स्टेशन पर उपलब्ध मुफ्त वाईफाई सुविधा के सहारे इंटरनेट के जरिये पढ़ाई की और केरल पब्लिक सर्विस कमीशन, केपीएससी की लिखित परीक्षा पास की। सबसे बड़ी बात ये है कि तैयारी के दौरान वह किताबों में नहीं डूबे रहे बल्‍कि अपना काम करते हुए स्मार्ट फोन और ईयरफोन के सहारे पढ़ाई करते रहे। अब अगर श्रीनाथ साक्षात्‍कार में सफल हो जाते हैं तो वह भूमि राजस्व विभाग के तहत विलेज फील्ड असिस्टेंट के पद पर नियुक्‍त्‍त हो जायेंगे।

तीसरे प्रयास में मिली सफलता

श्रीनाथ पिछले पांच वर्ष से कुली के रूप में काम कर रहे हैं और उनका सिविल परीक्षा के इम्‍तिहान में बैठने का ये तीसरा प्रयास था। उनका कहना है कि यह पहला मौका था, जब उन्‍होंने स्टेशन पर उपलब्ध वाईफाई सुविधा का इस्तेमाल किया। उन्‍होंने ये भी बताया कि कुली का काम करने के दौरान वे हमेशा ईयरफोन कान में लगाए रखते थे और इंटरनेट पर अपने संबंधित विषयों पर लेक्चर सुना करते थे। उसे मन ही मन दोहराते भी रहते थे और रात को मौका मिलते ही फिर रिवाइज कर लेते थे। इसी वाईफाई की मदद से उन्‍होंने ऑनलाइन अपना परीक्षा फार्म भरा और देश दुनिया की ताजा जानकारियों से खुद को अपडेट किया साथ ही अपने विषयों की जम कर तैयारी की।

Posted on

इलाज के लिए लंदन पहुंचे इरफान खान ने पोस्ट की इमोशनल तस्वीर और कविता

न्यूरोएंडोक्राइन ट्यूमर से पीड़ित बॉलिवुड ऐक्टर इरफान खान ने अपने इंस्टाग्राम अकाउंट पर एक तस्वीर पोस्ट की है, जो उन्हीं की परछाई है। इस तस्वीर के साथ इरफान ने फेमस पोएट रेनर मरिया रिल्का की दिल छू जानेवाली एक कविता भी पोस्ट की है।

‘हिन्दी मीडियम’ ऐक्टर इरफान ने यह पोस्ट लंदन के किसी होटेल से किया है। बता दें कि इरफान खान अपने इलाज के लिए ब्रिटेन गए हैं, जहां एक भारतीय डॉक्टर उनका इलाज करेंगे। उन्होंने इरफान की बीमारी के बारे में काफी रिसर्च किया है और वह ऐसे मामलों के विशेषज्ञ हैं।

बीते शुक्रवार को इरफान ने सोशल मीडिया पर एक स्टेटमेंट जारी करते हुए जानकारी दी है कि उन्हें न्यूरोएंडोक्राइन ट्यूमर है। दरअसल, हाल ही में बॉलिवुड को तब जोरदार झटका लगा जब श्रीदेवी के निधन के तुरंत बाद इरफान खान ने किसी दुर्लभ बीमारी से घिरने का संकेत दिया। हालांकि, तब उन्होंने अपनी इस बीमारी का कोई जिक्र नहीं किया था और कहा था कि मेडिकल रिपोर्ट्स आ जाने के बाद वह खुद अपनी बीमारी के बारे में फैन्स से शेयर करेंगे।

irrfan-khan

इरफान खान के बारे में ये बातें नहीं जानते होंगे आप…

बीमारी के बारे में इरफान के ट्विटर हैंडल से लिखा गया था, ‘जिसकी उम्मीद न हो वह आपको आगे बढ़ने में मदद करता है, बीते कुछ दिन ऐसे ही गुजरे हैं। मुझे न्यूरोएंडोक्राइन ट्यूमर का पता चला है और यह काफी मुश्किल रहा है लेकिन मेरे आसपास के लोगों के प्यार और ताकत ने मुझमें उम्मीद जगाई है। इस जर्नी में मुझे विदेश भी जाना पड़ेगा और मैं आप सबसे प्रार्थना करता हूं कि अपनी शुभकामनाएं भेजते रहें। जैसी कि अफवाहें उड़ रही हैं न्यूरो का मतलब हमेशा दिमाग से नहीं होता, पता लगाने का सबसे अच्छा तरीका है कि आप गूगल पर थोड़ी रीसर्च कर लें। जो लोग मेरी तरफ से यह खबर पढ़ने का इंतजार कर रहे थे, उम्मीद है कि इसके बाद और ज्यादा स्टोरीज के साथ वापस आऊंगा।’

Posted on

तेजप्रताप ने भूतों के डर से छोड़ा बंगला, सुशील मोदी बोले- वे लोग खुद भूत हैं

राजद प्रमुख लालू प्रसाद के बड़े पुत्र एवं पूर्व मंत्री तेजप्रताप यादव ने सरकारी बंगले को खाली कर दिया है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने इस बंगले में भूत छोड़ दिया है। इसलिए यहां रहना अब ठीक नहीं है। तेज प्रताप के बयान पर पलटवार करते हुए सुशील मोदी ने कहा कि जो लोग खुद भूत हैं, वे भूत की बात करते हैं।

दरअसल, राज्य की महागठबंधन सरकार में तेजप्रताप जब स्वास्थ्य मंत्री थे तो उन्हें देशरत्न मार्ग स्थित तीन नंबर का बंगला आवंटित किया गया था। वास्तुविदों और ज्योतिषियों की सलाह पर उन्होंने उक्त बंगले में कई बदलाव भी किए थे। जुलाई में महागठबंधन में बिखराव के बाद राज्य सरकार ने सभी पूर्व मंत्रियों को सरकारी बंगले खाली करने का नोटिस जारी किया था। फिर भी कई पूर्व मंत्रियों ने अभी तक बंगला खाली नहीं किया है।

तेजप्रताप ने कहा कि उन्हें सरकारी भीख की जरूरत नहीं है। उनके पास पहले से ही 10 सर्कुलर रोड का बंगला है, जो उनकी मां राबड़ी देवी के नाम से आवंटित है।