Posted on

Box Office Report: आलिया की राज़ी ने चार दिन में इतना पैसा कमाया

राज़ी ने बॉक्स ऑफ़िस पर चौथे दिन भी कमाल का प्रदर्शन किया है। हरिंदर सिक्का ने उस दौरान हुई एक सच्ची घटना को किताब के पन्नों में कैद किया था। सहमत का वो किरदार आलिया भट्ट ने निभाया और फिल्म में विक्की कौशल, रजित कपूर, सोनी राजदान, अमृता खानविलकर, शिशिर शर्मा और जयदीप अहलावत ने काम किया है। करीब दो घंटे 18 मिनट की इस फिल्म को प्रचार के खर्च के साथ 30 करोड़ रूपये में बनाया गया और देश में 1200 व वर्ल्ड वाइड 450 स्क्रीन्स में रिलीज़ किया गया।

पाकिस्तानी हरकतों की जासूसी कर भारत को ख़ुफ़िया जानकारी देने की बहादुरी करने वाली सहमत का रोल निभा कर आलिया भट्ट इन दिनों देश-दुनिया में अपने नाम की तालियां बजवा रही हैं और यही कारण हैं कि उनकी फिल्म राज़ी ने सोमवार को भी कलेक्शन का कमाल दिखाया है। मेघना गुलज़ार के निर्देशन में बनी फिल्म राज़ी ने घरेलू बॉक्स ऑफ़िस पर रिलीज़ के चौथे दिन छह करोड़ 30 लाख रूपये का कलेक्शन किया है। राज़ी ने सात करोड़ 53 लाख से ओपनिंग ली थी यानि हफ़्ते के पहले सामान्य दिन पर सिर्फ साढ़े 16 प्रतिशत की गिरावट आई है जो बेहतरीन मानी जा रही है। सबसे बड़ी बात कि फिल्म को देश के सभी इलाकों में सराहा गया है और तगड़ी माउथ पब्लिसिटी भी मिल रही है। राज़ी को चार दिनों में अब 39 करोड़ 24 लाख रूपये का कलेक्शन हासिल हो चुका है।

राज़ी के पास अब ये पूरा हफ़्ता है, शुक्रवार के पहले तक जब वो अपना कलेक्शन और बेहतर साबित कर सकती है। शुक्रवार को हॉलीवुड की फिल्म डेडपूल रिलीज़ हो रही है और माना जा रहा है कि एवेंजर्स इनफिनिटी वॉर की तरह इस फिल्म को भी जबरदस्त सफलता मिल सकती है। राज़ी का 75 करोड़ लाइफ़ टाइम कलेक्शन होने का अनुमान लगाया गया है। फिल्म राज़ी पहले ही इस साल की पांचवी सबसे अधिक वीकेंड कमाई करने वाली फिल्म बन चुकी है। राज़ी, साल 2008 में आई हरिंदर सिक्का की किताब ‘कॉलिंग सहमत’ की कहानी पर आधारित है। राज़ी कहानी है साल 1971 की जब भारत और पाकिस्तान के बीच सीमा पर तनाव चरम पर था। तभी आये एक ‘सीक्रेट कोड’ ने भारतीय सेना के हौसलों को बुलंद कर दिया था। कश्मीर की कॉलेज जाने वाली एक लड़की सहमत ने ऐसा कर दिखाया था। पिता की अंतिम इच्छा को पूरा करने निकली वो लड़की अपनी देशभक्ति के लिए जासूस बन जाती है। पाकिस्तान के आर्मी जनरल के लड़के से शादी कर लेती है और उसका मिशन होता है कि वो हर रोज़ भारतीय ख़ुफ़िया तंत्र को पाकिस्तान गतिविधियों की जानकारी पहुंचाये।

 

Posted on

भारत की ‘सुपरस्टार’ चीन में ऐसे बनी ‘बाहुबली’

आमिर खान फिल्म सीक्रेट सुपरस्टार ने चीन के बॉक्स ऑफ़िस पर 500 करोड़ का कलेक्शन करने के साथ अपना बाहुबल दिखा दिया है। आमिर खान ने 14वें दिन ये मुकाम हासिल किया है।

इस फिल्म को अब चीन का बाहुबली भी कहा जा सकता है क्योंकि एस एस राजमौली की बाहुबली 2 को इंडियन बॉक्स ऑफ़िस पर 510 करोड़ 99 लाख रूपये का लाइफ़ टाइम कलेक्शन मिल चुका है और ये फिल्म भारत की सबसे ज़्यादा कमाई करने वाली फिल्म बन चुकी है। आमिर खान प्रोडक्शन में बनी ज़ायरा वसीम स्टारर फिल्म सीक्रेट सुपरस्टार ने चीन के बॉक्स ऑफ़िस पर रिलीज़ के 14वें दिन 2.82 मिलियन डॉलर यानि करीब साढ़े 18 करोड़ रूपये का कलेक्शन किया और इसी के साथ चीन में इस भारतीय फिल्म ने 500 करोड़ रूपये के जादूई आंकड़े को छू लिया है। सीक्रेट सुपरस्टार का चीन के बॉक्स ऑफ़िस पर अब कुल कलेक्शन 79.42 मिलियन डॉलर यानि 509 करोड़ रूपये हो गया है।

हाल के दिनों में चीन के बॉक्स ऑफ़िस पर रिलीज़ दुनिया की कई बेहतरीन फिल्मों को पटखनी दे कर आमिर खान की सीक्रेट सुपरस्टार पहले ही नंबर वन का स्थान हासिल कर चुकी है। लेकिन एक मामले में सीक्रेट सुपरस्टार पीछे रह गई है और वो भी आमिर खान से ही, जिनकी दंगल ने चीन के बॉक्स ऑफ़िस पर 14दिनों में 91.61 मिलियन डॉलर यानि 587 करोड़ 17 लाख रूपये जमा कर लिए थे। दंगल, चीन में 13वें दिन ही 500 करोड़ रूपये के आंकड़े को छू गई थी। सीक्रेट सुपरस्टार एक ऐसी लड़की की इमोशनल कहानी है जो अपने भीतर के गायकी के हुनर को दुनिया के सामने लाना चाहती है लेकिन उसके पिता, समाज के डर से उसे ऐसा करने से रोकते हैं। बाद में वो इंटरनेट पर वीडियो डाल कर फेमस हो जाती है। और इसी कारण फिल्म चीन वालों के दिल को छू गई।

फिल्म सीक्रेट सुपरस्टार ने चीन के बॉक्स ऑफ़िस पहले चार दिन में ही 200 करोड़ रूपये का आंकड़ा पार कर लिया था।

Posted on

मूवी रिव्यू: कमजोर कहानी के बावजूद इंटरटेन करती है ‘फुकरे रिटर्न्स’

स्टार कास्ट: ऋचा चड्ढा, पुलकित सम्राट, अली फज़ल, मनजोत सिंह, पंकज त्रिपाठी, मकरंद देशपांडे
डायरेक्टर: मृगदीप सिंह लांबा
रेटिंग: 3 स्टार

क्या आपको पास कोई ऐसा दोस्त है जो डेटिंग के लिए चिड़िया घर जाता है. लड़की के बड़े नाखून देखकर इतना खुश हो जाता है उसे पीठ खुजलाने को कहता है. सुनकर थोड़ा अजीब लग रहा है ना… लेकिन जब आप ऐसा होते बड़े पर्दे पर देखेंगे तो अजीब नहीं लगेगा बल्कि हंसी आएगी. ऐसी हरकतें कोई और नहीं बल्कि ‘चूचा’ करता है जो कि ‘फुकरे रिटर्न्स’ के जरिए आपको फिर गुदगुदाने आ गया है.

 

ये फिल्म 2013 में रिलीज हुई ‘फुकरे’ का सीक्वल है. ऐसी फिल्मों के साथ यही परेशानी होती है कि दर्शक हमेंशा एक उम्मीद लिए सिनेमाहॉल में जाता है कि ये पहली वाली फिल्म से अच्छी है या खराब. लेकिन आज रिलीज हुई ये फिल्म दर्शकों की उम्मीद पर खरी उतरती है और हंसाने में कामयाब होती है. फिल्म का सेकेंड हाफ काफी लंबा होने के बावजूद ये फिल्म इंटरटेन करती है.

कहानी-

फुकरों की वजह से भोली पंजाबन (ऋचा चड्डा) को जेल की हवा खानी पड़ती है. वो किसी तरह जेल से बाहर आती है और अपने नुकसान की भरपाई के लिए फुकरों को ही पकड़ती है. चूचा (वरुण शर्मा) प्रीमनिशन का शिकार है, यानि उसे आगे क्या होने वाला है इस बात के सपने आते हैं. उसके दोस्त हनी (पुलकित सम्राट), लाली (मनजोत सिंह) और जफर (अली फजल) चूचा की वजह से सोचते हैं कि अगर वो लॉटरी का धंधा शुरू करें तो जल्दी से जल्दी पैसा कमाकर भोली पंजाबन को वापस कर सकते हैं. ये टीम लोगों से पैसे लेकर लॉटरी पर लगाती है. लेकिन इनकी वजह से एक जाने माने लीडर को नुकसान होता है और लॉटरी में कुछ ऐसा करता है कि ये लोग हार जाते हैं.

 

fukrey5

 

फिर क्या जिनके पैसे लगे हैं वो लोग इन्हें दौड़ा-दौड़ाकर मारते हैं. फनी ये है कि ये मारने वाला सपना भी चूचा पहले ही देखकर बता चुका होता है.

 

लोग तो ठीक हैं लेकिन भोली पंजाबन को तो आप जानते हैं कि वो कितना टॉर्चर करती है. अब ये लोग उसे कैसे कर्ज चुकाते हैं, ये जानने के लिए आपको फिल्म देखनी पड़ेगी. इतना ही नहीं इस चक्कर में ये चारों बड़ी मुसीबत में फंस जाते हैं और उनके साथ भोली पंजाबन भी. ये चारों दोस्त कैसे उस मुसीबत से बाहर निकलते हैं और साथ ही अपने ऊपर लगे बदनामी से वे खुद को परिवार को कैसे बचाते हैं. यही कहानी है.

इस फिल्म का क्लाइमैक्स तो ऐसा है कि चूचा की तरह आप भी ‘प्रीमनिशन’ (क्या होने वाला है) के शिकार हो जाते हैं. फिल्म का सेकेंड हाफ बहुत ही लंबा है लेकिन गनीमत ये है कि पंकज त्रिपाठी और वरूण शर्मा की बदौलत आप इस फिल्म को देख जाएंगे.

डायरेक्शन

इस फिल्म के डायरेक्टर मृगदीप सिंह लांबा ने ही पिछली फिल्म को भी डायरेक्ट किया था. उन्होंने इस फिल्म में कुछ गंभीर बातें भी बहुत ही हल्के-फुल्के में दिखाई हैं जो कि गहरा असर छोड़ती हैं. इसमें दिखाया गया है कि चिड़िया घर में जानवरों का हक कैसे मारा जाता है. उन्हें खाना खिलाने उन जानवरों के साथ कैसे गलत व्यवहार करते हैं. उनके बच्चों की तस्करी कर दी जाती है…इत्यादि. बस एक बात खलती है कि ये फिल्म बहुत ही लंबी है. 2.15 मिनट की इस फिल्म का फर्स्ट हाफ बहुत ही मजबूत है लेकिन सेकेंड हाफ को खींच दिया गया है जिसकी ज्यादा कुछ जरूरत थी नहीं.

एक्टिंग

इस फिल्म की कहानी ऐसी है कि अगर आप लॉजिक लगाएंगे तो कुछ समझ नहीं आएगा. कहानी में ही ये फिल्म मात खा जाती है जो अक्सर ही कॉमेडी फिल्मों के साथ होता है. इस फिल्म में जो हो रहा है उसका वास्तविक दुनिया से ज्यादा कुछ लेना देना नहीं है. लेकिन इन सब कमियों के बावजूद वरूण शर्मा और पंकज त्रिपाठी ने देखने लायक बना दिया है. फिल्म में अगर हंसी आती है तो चूचा की वजह से, उसकी उलूल जुलूल हरकतों की वजह से और उसके चेहरे की भाव को देखकर… उसके बाद जब पंकज त्रिपाठी की फिल्म में एंट्री होती है तो ये फिल्म और भी फनी हो जाती है.

fukrey2

 

इसके बाद भोली पंजाबन का नंबर आता है जिन्होंने अच्छा किया है. एक तेज तर्रार और बोल्ड किरदार को ऋचा चड्ढा से अच्छा कोई नहीं निभा  सकता. पुलकित सम्राट तो हीरो की तरह है. उन्होंने एक्टिंग पर कम और अपने लुक पर ज्यादा ध्यान दिया है. अली फजल भी इऩ सभी में कहीं खो जाते हैं.

म्यूजिक

फिल्म का गाना ‘महबूबा-महबूबा’ काफी अच्छा है और बहुत ही खूबसूरत तरीके से फिल्माया भी गया है लेकिन ये गाना फिल्म देखने के बाद तक याद नहीं रह जाता है. एक गाना जो आप काफी दिनों तक याद रखने वाले हैं वो है- ‘तु मेरा भाई नहीं है..’. ये गाना पूरी फिल्म के बैकग्राउंड में भी चलता रहता है. ये गाना ऐसा है जो हर किसी को पसंद आएगा क्योंकि सबकी जिंदगी में एक ना एक चूचा जैसा दोस्त होता ही है.

क्यों देखें

पिछले हफ्ते बॉक्स ऑफिस पर दो फिल्में फिरंगी और तेरा इंतजार रिलीज हुईं., दोनों ही फिल्में इतनी बेकार थीं कि उन्हें बर्दाश्त करना दर्शकों के लिए मुश्किल हो गया है. ऐसे में अब फुकरे वापस आपको हंसाने और इंटरटेन करने आए हैं. ये फिल्म फनी है, साफ सुथरी है और इंटरटेनिंग है जिसे आप परिवार के साथ देख सकते हैं.