Posted on

उत्तराखण्ड बोर्ड के 12वीं के रिजल्ट घोषित, दिव्यांशी ने किया टॉप

उत्तराखंड बोर्ड ने आज अपने 12वीं के नतीजे की घोषणा कर दी है. छात्र परीक्षा के रिजल्ट आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर रिजल्ट देख सकते हैं. इस 12वीं की परीक्षा 5 मार्च से 24 मार्च तक चली थी. बता दें, रिजल्ट 11 बजे जारी होनेा था पर रिजल्ट घोषित होने में देरी की गई. देहरादून स्थित शिक्षा निदेशालय में रिजल्ट की घोषणा शिक्षा मंत्री अरविंद पांडे ने की.

इस साल 12वीं में ऑवरोल 78.97 प्रतिशत छात्र पास हुए हैं. इस साल 12वीं की परीक्षा में 75.03 प्रतिशत लड़के पास हुए हैं और 82.83 प्रतिशत लड़कियां पास हुई है. 12वीं में इस साल दिव्यांशी राज ने 98.4 प्रतिशत अंक हासिल कर टॉप किया है.

ऐसे देखें रिजल्ट

– सबसे पहले उत्तराखंड बोर्ड की आधिकारिक वेबसाइट www.ubse.uk.gov.in और www.uaresults.nic.in. पर जाएं.

–  उत्तराखंड बोर्ड रिजल्ट 2018 कक्षा 12 पर लिंक पर क्लिक करें.

– अपना रोल नंबर और सभी जरूरी जानकारियां भरें.

– रिजल्ट स्क्रीन पर दिखने लगेगा.

– भविष्य के लिए प्रिंटआउट लेना न भूलें.

आपको बता दें,  इस साल 12वीं में 130094 छात्र शामिल हुए थे. पिछले साल 12वीं में 78.89 प्रतिशत छात्र पास हुए थे.

देखें पांच साल का कक्षा 12वीं  उत्तराखंड रिजल्ट

2013- 79.82 प्रतिशत

2014- 70.39 प्रतिशत

2015- 74.54 प्रतिशत

2016-  78.41 प्रतिशत

2017-  78.89 प्रतिशत

Posted on

आज सरकार बनाने का दावा पेश करेंगे येदियुरप्पा, BJP सबसे बड़ी पार्टी लेकिन बहुमत से 8 सीट दूर

चुनाव के नतीजे आ गए हैं. लेकिन किसी भी पार्टी को बहुमत नहीं मिला है. 104 सीटों के साथ बीजेपी सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी है. कर्नाटक में बीजेपी के मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार येदुरप्पा ने आज सुबह साढे दस बजे विधायक दल की बैठक बुलाई है. बैठक के बाद, येदुरप्पा विधायक दल के नेता चुने जाने की जानकारी राज्यपाल को देंगे और सरकार बनाने का आधिकारिक दावा पेश करेंगे.

राज्यपाल के पाले में है गेंद

वहीं, एचडी देवेगौड़ा की पार्टी जेडीएस की बैठक भी आज है. जेडीएस कांग्रेस के समर्थन से सरकार बनाने का दावा कर रही है. बता दें कि कांग्रेस को 78 सीटें मिली है वो दूसरे नंबर की पार्टी बनी है. जबकि जेडीएस को सिर्फ 38 सीटें मिली हैं. अब गेंद राज्यपाल के पाले में है और देखना होगा कि वह सरकार बनाने का न्योता किसे देते हैं.

हम सबसे बड़ी पार्टी, मौका मिले- येदियुरप्पा

बीएस येदियुरप्पा ने कहा है, ‘’हम सबसे बड़ी पार्टी हैं और ऐसे में सरकार बनाने का मौका मिलना चाहिए. बीजेपी 100 प्रतिशत सरकार बनाएगी और विधानसभा में बहमत भी साबित करेगी.’’

पहली प्राथमिकता सरकार का गठन, शर्तों पर फैसला बाद में- सिद्धारमैया

उधर, राज्यपाल से मिलकर सरकार बनाने का दावा पेश करने के बाद मीडिया से मुखातिब सिद्धारमैया ने कहा, कांग्रेस ने बिना शर्त जेडीएस को समर्थन दिया है. सिद्धारमैया ने कहा कि गठबंधन की शर्तों पर बाद में फैसला होगा. पहली प्राथमिकता सरकार का गठन है. सिद्धारमैया ने दावा किया कि उनके पास मैजिक नंबर है.  उन्होंने कहा कि दो निर्दलीय विधायकों का भी समर्थन जेडीएस-कांग्रेस गठबंधन के साथ है

बता दें कि अगर कांग्रेस और जेडीएस का गठबंधन का दावा चल गया तो जेडीएस के एचडी कुमारस्वामी कर्नाटक के सीएम भी बन सकते हैं.

कौन हैं कुमारस्वामी?

कुमारस्वामी साल 2006 से 2007 तक कर्नाटक के सीएम रह चुके हैं. कुमारस्वामी रामानगरम से तीन बार विधायक रह चुके हैं. रामानगरम सीट कुमारस्वामी का गढ़ मानी जाती है. साल 2013 में कुमारस्वामी रामानगरम से 40 हजार वोटों से जीते थे. कुमारस्वामी दो बार लोकसभा सांसद भी रह चुके हैं.

Posted on

UPSC 2017 RESULT: उन होनहारों की कहानी जिन्होंने UPSC में लहराया परचम

Posted on

एबी डीविलियर्स ने बैंगलोर रॉयल चैलेंजर्स को दिलाई शानदार जीत, दिल्ली डेयर डेविल्स 6 विकेट से हारा

IPL 2018 का 19वां मुकाबला रॉयल चैलेंजर बैंगलोर और दिल्ली डेयरडेविल्स के बीच खेला गया। इस मैच में बैंगलोर ने एबी की नाबाद 90 रन की पारी के दम पर दिल्ली को 6 विकेट से हरा दिया।

इस मैच में बैंगलोर के कप्तान विराट कोहली ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी का फैसला किया। पहले बल्लेबाजी करते हुए दिल्ली ने रिषभ पंत और श्रेयस अय्यर की अर्धशतकीय पारी के दम पर 20 ओवर में 5 विकेट के नुकसान पर 174 रन बनाए। बैंगलोर को जीत के लिए 175 रन बनाने थे जिसे इस टीम ने 18 ओवर में 4 विकेट के नुकसान पर बना डाला। एबी को मैन ऑफ द मैच का खिताब मिला। दिल्ली के खिलाफ मिली जीत के बाद बैंगलोर अंक तालिका में 4 अंक के साथ 5वें नंबर पर आ गया है। वहीं दिल्ली डेयरडेविल्स के 2 अंक हैं और वो सबसे नीचे यानी 8 वें नंबर पर है।

एबी ने खेली नाबाद 90 रन की पारी

दिल्ली की टीम ने दूसरी पारी में बैंगलोर को पहला झटका जल्द ही दे दिया। ओपनर बल्लेबाज मनन वोहरा सिर्फ 2 रन बनाकर मैक्सवेल की गेंद पर जेसन रॉय के हाथों कैच आउट हो गए। बैंगलोर का दूसरा विकेट डी कॉक के तौर पर गिरा। 18 रन बनाकर डी कॉक रन आउट हो गए। कप्तान विराट कोहली ने 26 गेंदों पर 30 रन की पारी खेली। हर्षल पटेल की गेंद पर विराट का कैच ट्रेंट बोल्ट ने बाउंड्री पर लपक लिया। कोरी एंडरसन को तेज गेंदबाज ट्रेंट बोल्ट ने 15 रन पर क्लीन बोल्ड कर दिया। एबी डीविलियर्स ने 39 गेंदों पर 10 चौके और 5 छक्के की मदद से नाबाद 90 रन बनाए और अपनी टीम को जीत दिलाई। मनदीप सिंह भी 17 रन बनाकर नाबाद रहे।

ऋषभ पंत ने खेली तूफानी पारी

दिल्ली की टीम को पहला झटका कप्तान गौतम गंभीर के तौर पर लगा। गंभीर 10 गेंदों पर 3 रन बनाकर उमेश यादव की गेंद पर चहल के हाथों कैच आउट हुए। दिल्ली के दूसरे ओपनर बल्लेबाज को युजवेंद्र चहल ने 5 रन पर क्लीन बोल्ड कर दिया। श्रेयस अय्यर ने 31 गेंदों पर 4 चौके और 3 छक्कों की मदद से 52 रन की अर्धशतकीय पारी खेली। वो वाशिंगटन सुंदर की गेंद पर मो. सिराज के हाथों लपके गए। टीम के तूफानी बल्लेबाज मैक्सवेल का फ्लॉप होना लगातार जारी है। वो चहल की गेंद पर 4 रन बनाकर सिराज के हाथों कैच आउट हुए। ऋषभ पंत ने अपनी टीम के लिए अहम पारी खेलते हुए 48 गेंदों पर 85 रन की पारी खेली। पंत ने अपनी पारी में 6 चौके और 7 छक्के लगाए। पंत एंडरसन की गेंद पर एबी के हाथों लपके गए। बैंगलोर की तरफ से युवेंद्र चहल ने दो, उमेश यादव, वाशिंगटन सुंदर और कोरी एंडरसन ने एक-एक विकेट लिए।

Posted on

किंग्स XI पंजाब ने कोलकाता नाईट राइडर्स को DLS नियम के आधार पर 9 विकेट के से हराया

IPL 2018 के 18वें मैच में कोलकाता नाइट राइडर्स की टीम का सामना किंग्स इलेवन पंजाब के साथ हुआ और इस मैच में केकेआर को 9 विकेट से हार का सामना करना पड़ा।

इस मुकाबले में पंजाब के कप्तान ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाज़ी करने का फैसला किया। कोलकाता ने पहले बल्लेबाज़ी करते हुए निर्धारित 20 ओवर में 07 विकेट खोकर 191 रन बनाए। इसके बाद पंजाब को जीत के लिए 192 रन का लक्ष्य मिला। दूसरी पारी में पंजाब की टीम ने 8.2 ओवर में 96 रन बनाए थे कि बारिश शुरू हो गई। बारिश खत्म होने के बाद पंजाब को डकवर्थ-लुईस नियम के आधार पर 13 ओवर में जीत के लिए 125 रन का लक्ष्य दिया गया। जीत के लिए मिले इस लक्ष्य को पंजाब ने 11.1 ओवर में एक विकेट के नुकसान पर हासिल कर लिया।

लोकेश राहुल व गेल के अर्धशतक

पंजाब की शुरुआत काफी अच्छी रही। ओपनर बल्लेबाज लोकेश राहुल ने क्रिस गेल के साथ मिलकर पहले विकेट के लिए 116 रन की साझेदारी की। लोकेश राहुल ने 27 गेंदों पर 60 रन की लाजबाव पारी खेली और उनकी पारी का अंत सुनील नरेन ने किया। राहुल का कैच टॉम कुरन ने पकड़ा। टीम के तूफानी बल्लेबाज क्रिस गेल ने 38 गेंदों पर 62 रन बनाए और नाबाद रहे। मयंक अग्रवाल 2 रन बनाकर नाबाद पवेलियन लौटे। कोलकाता की टीम के गेंदबाज सुनील नरेन को एकमात्र विकेट मिला।

क्रिस लीन का शानदार अर्धशतक

मैच की पहली पारी में मुजीब उर्र रहमान ने कोलकाता के ओपनर सुनील नारायण को 01 रन के स्कोर पर करुण नायर के हाथों कैच आउट करवाकर पंजाब को पहली सफलता दिला दी। नारायण 01 रन बनाकर आउट हुए। इसके बाद अश्विन ने 23 गेंदों में 34 रन बनाकर खेल रहे रॉबिन उथप्पा को करुण नायर के हाथों कैच करवाकर कोलकाता को दूसरा झटका दिया। इसके बाद नीतीश राणा 5 गेंदों में 03 रन बनाकर रन आउट हो गए। इसके बाद एंड्रयू टॉए ने खतरनाक होते दिख रहे क्रिस लिन को 74 रन के स्कोर पर विकेटकीपर लोकेश राहुल के हाथों कैच आउट करवा दिया। रसेल 10 रन बनाकर बरिंदर सरन की गेंद पर करुण नायर को कैच थमा बैठे। 43 रन बनाकर दिनेश कार्तिक बरिंदर सरन की गेंद पर टॉए को कैच दै बैठे। इसके बाद टॉम कुर्रन 01 रन बनाकर एंड्रयू टॉए की गेंद पर अंकित राजपूत को कैच दे बैठे। शुभमन गिल 14 और पीयूष चावला 2 रन बनाकर नाबाद रहे। पंजाब की तरफ से बरिंदर सरन और एंड्रयू टे ने दो-दो जबकि मुजीब उर रहमान और अश्विन ने एक-एक विकेट लिए।

Posted on

कोलकाता ने बैंगलोर को 4 विकेट से हराया

आइपीएल 2018 के तीसरे मुकाबले में बैंगलोर और कोलकाता आमने-सामने थे। इस मैच में कोलकाता के लिए पहली बार कप्तानी कर रहे दिनेश कार्तिक ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी का फैसला किया।

बैंगलोर ने पहले बल्लेबाजी करते हुए निर्धारित 20 ओवर में 7 विकेट पर 176 रन बनाए। कोलकाता को जीत के लिए 177 रन बनाने थे। जीत के इस आंकड़े को कोलकाता ने 18.5 ओवर में 4 विकेट शेष रहते हासिल कर लिया। दिनेश कार्तिक पहली बार आइपीएल में कप्तानी करने मैदान पर उतरे और पहले ही मैच में उन्होंने अपनी टीम को जीत दिलाई।

कार्तिक की कमाल की कप्तानी

जीत के लिए मिले 177 रन के लक्ष्य का पीछा करने उतरी कोलकाता की टीम का पहला विकेट क्रिस लीन के तौर पर जल्दी ही गिर गया। 8 गेंदों पर 5 रन बनाने वाले क्रिस लीन को क्रिेस वोक्स ने अपनी गेंद पर एबी के हाथों कैच आउट करवा दिया। सुनील नरेन ने तूफानी अंदाज में 19 गेंदों पर 50 रन बनाए। उन्हें उमेश यादव ने क्लीन बोल्ड कर दिया। रॉबिन उथप्पा 13 रन बनाकर उमेश यादव की गेंद पर कैच आउट हुए। उथप्पा का कैच ब्रैंडन मैकुलम ने पकड़ा। नितिश राणा ने 25 गेंदों पर 34 रन की अच्छी पारी खेली। उन्हें वाशिंगटन सुंदर ने एलबीडब्ल्यू आउट किया। रिंकू सिंह 6 रन बनाकर क्रिस वोक्स का शिकार बने। रिंकू का कैच वोक्स की गेंद पर डी कॉक ने विकेट के पीछे पकड़ा। आंद्रे रसेल 15 रन बनाकर क्रिस वोक्स की गेंद पर एबी डीविलियर्स के हाथों लपके गए। कप्तान दिनेश कार्तिक 35 रन बनाकर नाबाद रहे और विनय कुमार की 6 रन पर नाबाद पवेलियन लौटे।

बैंगलोर की तरफ से क्रिस वोक्स ने तीन, उमेश यादव ने दो जबकि कुलवंत खेजरोलिया ने एक विकेट लिए।

ऐसी रही बैंगलोर की पारी

मैच की पहली पारी में कोलकाता को पीयूष चावला ने पहली सफलता दिलाई। पीयूष ने अपने पहले ओवर की चौथी गेंद पर क्विंटन डिकॉक को विनय कुमार के हाथों कैच आउट कर आरसीबी को पहला झटका दिया। डिकॉक ने 4 रन बनाए। टीम के धुरंधर बल्लेबाज बैंडन मैकुलम को सुनीन नरेन के क्लीन बोल्ड कर दिया। मैकुलम ने 27 गेंदों पर 43 रन बनाए। एबी नितिश राणा की गेंद पर 44 रन बनाकर मिचले जॉनसन के हाथों कैच आउट हुए। टीम के कप्तान विराट कोहली को नितिश राणा ने 31 क्लीन बोल्ड कर दिया। सरफराज खान 6 रन बनाकर मिचेल जॉनसन की गेंद पर रिंकू सिंह के हाथों कैच आउट हुए। मनदीप सिंह ने 18 गेंदों पर 37 रन की पारी खेली। वो विनय कुमार की गेंद पर कुलदीप यादव के हाथों कैच आउट हुए। क्रिेस वोक्स 5 रन बनाकर विनय कुमार की गेंद पर अांद्रे रसेल के हाथों कैच आउट हुए।

कोलकाता की तरफ से विनय कुमार और नितिश राणा ने दो-दो, पीयूष चावला, सुनील नरेन और मिचेल जॉनसन ने एक-एक विकेट लिए।

Posted on

जीत के बाद बोले अखिलेश- उनका घमंड टूट गया, उम्मीद है अब भाषा भी बदल जाएगी

अखिलेश यादव में सभी सहयोगी दलों  और जनता को धन्यवाद दिया। उन्होंने कहा कि उन सभी लोगों के सहयोग के बिना यह जीत संभव नहीं थी। यह जीत बहुत बड़ी है। यह उन तमाम लोगों की जीत है, जो गरीब, मजदूर, किसान, दलित और अल्पसंख्यक है।

बीजेपी पर वार करते हुए उन्होंने कहा कि फूलपुर में तो फूल मुरझा गया। उनका घमंड टूट गया है। उम्मीद है कि अब उनकी भाषा बदल जाएगी। जिन अधिकारियों से हमने काम लिया। उन्हीं पर बीजेपी ने आंख बंद करके भरोषा किया।

कांग्रेस और राहुल गांधी से जुड़े एक सवाल के जवाब में अखिलेश ने कहा कि से संबंधों पर अखिलेश यादव ने कहा कि कांग्रेस से संबंध बने हुए हैं। नौजवान वो भी हैं, हम भी हैं।

ईवीएम पर बोलते हुए अखिलेश यादव ने कहा कि ईवीएम में खामिया न होतीं तो जीत और बड़ी होती। उन्होंने बताया कि कई गांवों में ईवीएम के चलते घंटों मतदान नहीं हो सका। कई ईवीएम जब चेक कराई गई तो उसमें वोट पहले से पड़े थे। अखिलेश  ने तंज कसते हुए कहा कि ईवीएम से पूरा गुस्सा नहीं निकला, अगर बैलेट बॉक्स होता तो आवाज सुनने को मिलती और गुस्सा भी पूरा निकलता।

Posted on

गुजरात चुनाव परिणाम: राज्य में फिर खिला कमल, भाजपा बनाएगी सरकार

गुजरात विधानसभा चुनावों की मतगणना लगभग पूरी हो चुकी है और अब तक आए नतीजों के अनुसार भाजपा एक बार फिर से राज्य में सरकार बनाने जा रही है। खबर लिखे जाने तक भाजपा ने 99 सीटों पर जीत दर्ज कर ली थी वहीं कांग्रेस 80 सीटें जीत चुकी थी। अन्य के खाते में 3 सीटें गईं। राज्य में 22 साल सत्ता में रहने के बाद भाजपा की इस जीत को भाजपा नेता ऐतिहासिक करार दे रहे हैं वहीं कांग्रेस हार के बावजूद इसे अपनी जीत बता रही है।

सुबह शुरू हुई मतगणना के बाद जैसे-जैसे नतीजे आने लगे भाजपा में जीत की खुशी की लहर दौड़ने लगी और पार्टी समर्थक पार्टी दफ्तर के बाहर एकत्रित हो गए और मिठाई के साथ खमण ढोकला बांटने का सिलसिला शुरू हो गया ।

इस चुनाव में कई दिग्गज हार गए जिनमें कांग्रेस नेता शक्ति सिंह गोहिल भी शामिल हैं। इसके पहले शुरुआती रुझानों में कांग्रेस ने एक बार बड़ी टक्कर देते हुए भाजपा को पीछे छोड़ दिया था। एक वक्त कांग्रेस ने 88 सीटों पर बढ़त बना ली थी और भाजपा पीछे रह गई थी लेकिन कुछ देर बाद भाजपा की स्थिति सुधरने लगी। अब तक आए 182 रुझानों में जहां भाजपा 105 सीटों पर आगे है वहीं कांग्रेस 75 सीटों पर पिछड़ गई है। जानकारी के अनुसार उत्तर गुजरात में जहां भाजपा और कांग्रेस के बीच कड़ी टक्कर है वहीं मध्य और दक्षिण गुजरात में भाजपा ने बढ़त बना रखी है।

 

फिलहाल मतगणना जारी है और धीरे-धीरे तस्वीर साफ होती जा रही है। इसे देखकर माना जा रहा है कि भाजपा एक बार फिर से गुजरात में जीत का जश्न मानएगी।

बता दें कि पिछले दिनों आए सभी एग्जिट पोल्स में गुजरात में भाजपा की सरकार का अनुमान जताया गया है। हालांकि इसके बावजूद कांग्रेस अपनी जीत के दावे कर रही है। गुजरात विधानसभा चुनाव के यह नतीजे पीएम नरेंद्र मोदी के गृह राज्य में उनकी व भाजपा की प्रतिष्ठा का और नए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की पहली अग्नि परीक्षा का फैसला करेंगे।

Posted on

शराब पीने के बाद लोग अंग्रेज़ी क्यों बोलते हैं?

गैर-अंग्रेजीभाषियों के साथ आपने अक्सर ऐसा महसूस किया होगा?

अगर आप किसी दूसरी भाषा में बोलने की कोशिश करते हैं तो कई बार आपके साथ ऐसा हुआ होगा. सही शब्द आपको मुश्किल से मिलेंगे और उनका ठीक से उच्चारण करना भी चुनौती जैसा लगेगा.

लेकिन अगर आप थोड़ी सी शराब पी लें तो उस दूसरी भाषा के शब्द अपने आप मुंह से धारा प्रवाह निकलेंगे. लफ्जों की तलाश खत्म हो जाएगी और आपकी बातें लच्छेदार लगने लगेंगी. मानो ये जुबान आपकी अपनी हो.

सांकेतिक तस्वीरइमेज कॉपीरइटGETTY IMAGES

सामाजिक व्यवहार

ये शराब को लेकर कोई अंदाज़े की बात नहीं है. बल्कि इसे लेकर एक अध्ययन आया है. साइंस मैगज़ीन ‘जर्नल ऑफ़ साइकोफ़ार्माकोलॉजी’ में छपे एक अध्ययन के मुताबिक थोड़ी सी शराब किसी दूसरी भाषा में बोलने में मदद करती है.

ये भी सही है कि शराब हमारी याददाश्त और ध्यान केंद्रित करने की क्षमता पर असर डालती है और इस लिहाज से ये एक बाधा है. लेकिन दूसरी तरफ ये हमारी हिचकिचाहट भी दूर करती है, हमारा आत्म-विश्वास बढ़ाती है और सामाजिक व्यवहार में संकोच कम करती है.

जब हम किसी दूसरे शख्स से मिलते हैं और बात करते हैं तो इन सब बातों का असर हमारी भाषाई क्षमता पर पड़ता है. इस विचार अब तक बिना किसी वैज्ञानिक आधार के ही स्वीकार किया जाता था.

सांकेतिक तस्वीरइमेज कॉपीरइटISTOCK

थोड़ा एल्कोहल

लेकिन यूनिवर्सिटी ऑफ लीवरपूल, ब्रिटेन के किंग्स कॉलेज और नीदरलैंड्स के यूनिवर्सिटी ऑफ़ मास्ट्रिच के शोधकर्ताओं ने इस विचार को टेस्ट किया. टेस्ट के लिए 50 जर्मन लोगों के एक समूह को चुना गया जिन्होंने हाल ही में डच भाषा सीखी थी.

कुछ लोगों को पीने के लिए ड्रिंक दिया गया जिनमें थोड़ा एल्कोहल था. लोगों के वजन के अनुपात में एल्कोहल की मात्रा दी गई थी. कुछ के ड्रिंक्स में एल्कोहल नहीं था. टेस्ट में भाग लेने वाले जर्मन लोगों को नीदरलैंड्स के लोगों से डच में बात करने के लिए कहा गया.

डच भाषियों को ये पता नहीं था कि किसने शराब पी रखी है और किसने नहीं. जांच में ये बात सामने आई कि जिन्होंने शराब पी रखी थी वे बेहतर उच्चारण के साथ बात कर रहे थे. शोधकर्ताओं ने ये साफ किया कि उन्हें ये नतीजे शराब की बहुत कम मात्रा में खुराक देने से मिले हैं.