Posted on Leave a comment

तीन दोस्तों द्वारा शुरू की गयी ऑनलाइन फ़ूड डिलीवरी कंपनी को मिला 1 अरब डॉलर का निवेश। जानें कैसे मिली इन्हें सफलता!

देश की सबसे बड़ी फ़ूड डिलीवरी कंपनी स्विगी को हाल ही में 1 अरब डॉलर का निवेश मिला है। इस निवेश में 66 करोड़ डॉलर साउथ अफ्रीका की कंपनी नैस्पर ने किया जबकि बाकी निवेश टेनसेंट & हेज फंड्स और कैपिटल & वेलिंगटन मैनेजमेंट ने किया है। इस नई फंडिंग के समय पांच साल पुरानी स्विगी की कीमत 3.3 अरब डॉलर लगाई गई। इसके साथ ही अब स्विगी भारतीय कंपनियों में वैल्यूएशन के हिसाब से छठे नंबर की स्टार्टअप कंपनी बन गयी है।

Swiggy,team,men,behind
Swiggy team

Swiggy को तीन दोस्तों ने मिलकर 5 साल पहले शुरू किया था। इस तिकड़ी में राहुल जैमिनी IIT खड़कपुर से, श्रीहर्ष IIT कलकत्ता से जबकि नंदन रेड्डी बिट्स से स्नातक हैं। 5 डिलीवरी बॉयज़ से शुरू हुई स्विगी में अब 1.2 लाख डिलीवरी पार्टनर्स हैं और 42 शहरों के 50 हजार से ज्यादा रेस्ट्रोंस स्विगी के साथ जुड़ चुके हैं।

फ़ूड डिलीवरी मार्केट में स्विगी ने जोमाटो से जंग जीत ली है। गुरुग्राम की जोमाटो को इस साल दो फंडिंग राउंड्स में 41 करोड़ डॉलर की फंडिंग मिली है जबकि स्विगी ने इस साल तीन फंडिंग राउंड्स में 1.31 अरब डॉलर की फंडिंग हासिल की है।

Swiggy, slogan, tagline, mantra
Swiggy Slogan

Swiggy में प्रारम्भ में निवेश करने वाली एस्सेल पार्टनर्स, सैफ पार्टनर्स, बेसेमर वेंचर पार्टनर्स और नॉर्वेस्ट वेंचर्स ने इस राउंड में अपनी होल्डिंग्स करीब 20 करोड़ डॉलर में बेची है जबकि किसी भी कंपनी ने अपना पूरा हिस्सा नहीं बेचा है। एवेंडस कैपिटल इस राउंड की फाइनेंशल एडवाइजर रही।

इस फंडिंग के बाद स्विगी ने बताया की ताजा फंडिंग से वो अपने डिलीवरी ओन्ली किचेंस का विस्तार करेंगे, टीम को और मजबूती देंगे। इसके साथ ही आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस पर आधारित नेक्स्ट जेनेरेशन प्लेटफॉर्म बनाया जायेगा।

आपको बता दें स्विगी फिलहाल हर महीने 2.5 करोड़ से ज्यादा ऑर्डर पूरे कर रही है जबकि जोमाटो ने अक्टूबर में 2.1 करोड़ ऑर्डर पूरा करने का दावा किया था।

Posted on Leave a comment

IIT Roorkee: शोधकर्ताओं ने एक अविष्कार किया है जिससे कैंसर कोशिकाओं का पता लगाने और उन्हें नष्ट करने में मदद मिल सकती है।

iit roorkee campus main building

जनसांख्यिकी आंकड़ों के मुताबिक पिछले एक दशक में इस खतरनाक बीमारी ने 8 लाख से भी अधिक लोगों को अपने चपेट में ले लिया। हालांकि वैज्ञानिक लगातार शोध कर रहे हैं और कैंसर से मुक्ति पाने की दवाएं विकसित करने में लगे हैं। भारतीय प्रोद्योगिकी संस्थान के कुछ शोधकर्ताओं ने भी ऐसा ही एक अविष्कार किया है जिससे कैंसर कोशिकाओं का पता लगाने और उन्हें नष्ट करने में मददगार साबित हो सकती है।

आईआईटी रुड़की के शोधकर्ताओं ने फ्लोरोसेंट कार्बन नैनौडॉट विकसित किए हैं जो एक साथ ही कैंसर कोशिकाओं का पता लगा सकते हैं और उन्हें नष्ट भी कर सकते हैं। यह पदार्थ काफी सूक्ष्म आकार का है जिसे एक प्रकार की वनस्पति से निकाला गया है। इस पौधे में गुलाबी रंग के फूल होते हैं। इसलिए इन्हें फ्लोरेसेंट कार्बन नैनो डॉट्स नाम दिया गया है। जिस टीम ने इस पर रिसर्च किया उसका नेतृत्व कर रहे डॉ. पी गोपीनाथ के मुताबिक नैनो आकार (10-9 मीटर) के कार्बन कण को रोजी पेरिविंकल प्लांट की पत्तियों से तैयार किया गया है।

शोधकर्ताओं की इस उपलब्धि को साइंस एंड इंजीनियरिंग रिसर्च बोर्ड, डिपार्टमेंट ऑफ बायोटेक्नोलॉजी और भारत सरकार ने भी सराहा है। गोपीनाथ ने कहा, ‘नैनो कार्बन पार्टिकल की मदद से कैंसर कोशिकाओं को आसानी से देखा जा सकता है। इतना ही नहीं इमेजिंग सिस्टम की मदद से कहां जा रही हैं इसका भी पता लगाया जा सकता है। कैंसर कोशिकाओं की सही स्थिति का का पता चलने के बाद इसे खत्म करने में आसानी हो जाती है। गोपीनाथ के अनुसार नैनोटैग आधारित रिसर्च जानवरों और क्लीनिकल ट्रायल में सफल रही है। यह एक कम लागत नैनो दवा है जो कैंसर जैसे खतरनाक रोग को दूर करने में मदद करेगी। ‘

आईआईटी की टीम के इस शोध को साइंस एंड इंजीनयरिंग रिसर्च बोर्ड (सर्ब) और जैव प्रौद्योगिकी विभाग, केंद्रीय विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी मंत्रालय से सहयोग प्राप्त हुआ है। गोपीनाथ ने कहा कि कैंसर कोशिकाओं की पहचान और उन्हें नष्ट करना कैंसर उपचार और इसकी औषधि पर शोध के क्षेत्र में कई साल से चुनौती है। उन्होंने आगे कहा, ‘हम आगे का मूल्यांकन करने के लिए इन नैनोमटीरियल्स को जानवरों पर प्रयोग करेंगे ताकि जांच और उपचार का पता लगाया जा सके।’ कैंसर कोशिकाओं का पता लगाना काफी मुश्किल काम है और इस पर दुनियाभर के वैज्ञानिक लगातारा शोध कर रहे हैं।

Posted on Leave a comment

दुनिया की इन 10 जगहों पर किसी को भी जाने की नहीं है इजाजत

आज इंसान अंतरिक्ष में रहने की तैयारियां कर रहा है। मगर इतनी तरक्की करने के बाद भी दुनिया में ऐसी कई जगहें हैं, जहां इंसान नहीं पहुंच सकते हैं। इंसानों पर ये पाबंदी वहां की सरकारों ने लगाई है। ऐसे ही कुछ इलाकों की सैर इन तस्वीरों के जरिए करिए।

ग्लोबल सीड वॉल्ट, नॉर्वे- ये एक अंडरग्राउंड बीज भंडारण केंद्र है। जिसे नार्वे के एक आइलैंड पर पहाड़ के अंदर बनाया गया है। यहां दुनिया की 4 हजार प्रजातियों के लगभग 8,40,000 बीज संरक्षित किए गए हैं। यहां पर सिर्फ उन्हीं लोगों को आने की इज़ाजत है, जो इसके सदस्य हैं और अपने बीज सुरक्षित रखना चाहते हैं।

स्नैक आयलैंड, ब्राजील- ब्राजील के साओ पाउलो से कुछ 100 किलोमीटर की दूरी पर मौजूद Ilha da Queimada Granda नाम के आईलैंड पर 5-10 सांप हर 10 वर्ग फ़ीट पर मौजूद हैं। ये सांप बहुत ही ज़हरीले हैं, इसलिए यहां लोगों का जाना मना है।

द क्वींस बेडरूम, यूनाइडेट किंगडम- ब्रिटेन की महारानी Buckingham Palace में रहती हैं और ये 1837 से राजघराने का शाही महल रहा है। इस महल के एक भाग को छोड़ कर बाकी सभी को टूरिस्टों के लिए खोला गया है। जो हिस्सा बचा के रखा गया है, वो है महारानी का बेडरूम। जहां किसी को भी जाने की मंजूरी नहीं है।

नॉर्थ सेंटिनेल आयलैंड, भारत- भारत के अंडमान में मौजूद इस आइलैंड पर कोई भी व्यक्ति नहीं जा सकता, अगर कोई ऐसा करने की कोशिश करता है, तो यहां मौजूद कुछ आदिवासी उसे जान से मारने पर उतारू हो जाते हैं। उनकी मानना है कि ये बहुत ही पवित्र क्षेत्र है, जहां इंसानों को नहीं जाना चाहिए।

एरिया 51, यूएसए- अमेरिका के नेवादा में मौजूद इस इलाके में भी घूमने-फिरना मना है। कुछ रिपोर्ट्स की मानें तो इसे अमेरिकी सेना ने एलियन टेस्टिंग के लिए बनाया है। हालांकि ये बात सही है या नहीं, ये आज तक नहीं पता चल पाया है। लेकिन यहां जाना जान जोखिम में डालने जैसा है, क्योंकि अमेरिकी सेना ने यहां लैंड माइंस बिछा रखी हैं।

निहाऊ, अमेरिका- इसे The Forbidden Island भी कहा जाता है,क्योंकि इसकी झलक आप दिन ढ़लने के बाद ही पा सकते हैं, इसका स्वामित्व 150 सालों से एक ही परिवार के हाथ में है।

पोवेगलिया, इटली- इटली के वीनस शहर के पास ये एक छोटा सा आइलैंड है। यहां 14वीं शताब्दी में प्लेग फैलने के कारण सैंकड़ों लोगों की मौत हो गई थी। ऐसी भी कहानी है कि, 19वीं सदी में यहां एक पागल खाना बना था। इस पागल खाने में बहुत से मरीज़ों पर जानलेवा प्रयोग किए जाते थे। फिलहाल इस डरावनी जगह पर सैलानियों के जाने पर पूरी तरह से पाबंदी है।

किन शी हुआंग मकबरा, चीन- चीन के पहले सम्राट के पास टेराकोटा वारियर्स नाम की एक सेना थी। ये सैनिक अपने राजा की रक्षा के लिए तैनात थे। जब उनकी मौत हुई, तब क्रब में टेराकोटा वॉरियर्स की हजारों मूर्तियां दफन की गई थी। यहां जाना बैन है, क्योंकि इस मकबरे में मौजूद पारे के कारण लोगों की जान जाने का खतरा है।

कोका-कोला रेसिपी वॉल्ट, अमेरिका- सॉफ्ट ड्रिंक कंपनी कोका कोला को बनाने वाली रेसिपी को एक 6.6 फ़ीट की तिज़ोरी में अटलांटा में सुरक्षित रखा गया है। इसकी सुरक्षा में हर दम हथियारबंद गार्ड तैनात रहते हैं। जिमी होफा ने इसकी खोज की थी, जिनकी बाद में हत्या कर दी गई थी। इस तक कोई भी नहीं पहुंच सकता है।

बोहेमियन ग्रोव, अमेरिका- कैलिफोर्निया के मोंटे रियो में ये जगह एक खेल मैदान की तरह है, मगर इस मैदान पर चुनिंदा शख्सियतों को ही जाने की इजाजत है। जिनमें कुछ पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति, संगीतकार और बड़े सरकारी अफसर शामिल हैं। इसकी सदस्यता हासिल करना भी बड़ी टेढ़ी खीर साबित होता है। सदस्यतों की मंजूरी के बाद ही यहां कोई आ सकता है।

Posted on Leave a comment

PAK को ब्रह्मोस की जानकारी देता था DRDO का यंग साइंटिस्ट अवॉर्ड हासिल कर चुके रुड़की के निशांत अग्रवाल, गिरफ्तार

वह ब्रह्मोस मिसाइल की गुप्त जानकारियां पाकिस्तान को पहुंचा रहा था। आशंका यह भी जताई जा रही है कि आईएसआई और अमेरिकी इंटेलिजेंस के लिए वह काम करता था। हाल ही यंग साइंटिस्ट का अवॉर्ड हासिल कर चुके निशांत अग्रवाल पर कई सनसनीखेज आरोप उत्तर प्रदेश पुलिस के आतंकवाद निरोधक दस्ते (यूपी एटीएस) की ओर से लगाए गए हैं। आइए, जानते हैं कथित ISI एजेंट की पूरी कहानी..
ऑफिशल सीक्रेट ऐक्ट के तहत हुआ अरेस्ट
सुरक्षा एजेंसियों द्वारा सोमवार को निशांत अग्रवाल नाम के साइंटिस्ट को नागपुर स्थित ब्रह्मोस ऐरोस्पेस सेंटर से गिरफ्तार किया गया है। आरोपी को उत्तर प्रदेश एटीएस और मिलिटरी इंटेलिजेंस के अधिकारियों द्वारा ऑफिशल सीक्रेट ऐक्ट के तहत गिरफ्तार किया गया है।
‘पाक’ के साथ इस मुल्क के लिए काम करने का आरोप
'पाक' के साथ इस मुल्क के लिए काम करने का आरोप
निशांत अग्रवाल पर आरोप है कि उन्होंने खुफिया जानकारी को पाकिस्तान के साथ-साथ अमेरिका को भी साझा किया है। एक टीम ने उन्हें रविवार रात ट्रैक किया और सोमवार को छापेमारी कर गिरफ्तार कर लिया।
2013 में मिशन ब्रह्मोस से जुड़े थे निशांत
2013 में मिशन ब्रह्मोस से जुड़े थे निशांत
रुड़की के रहने वाले निशांत अग्रवाल मिशन ब्रह्मोस में 31 जुलाई 2013 से काम कर रहे थे। ब्रह्मोस से पहले उन्होंने मुंबई में इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन के साथ भी काम किया। निशांत ने एनआईटी कुरुक्षेत्र से पढ़ाई पूरी की है।
यंग साइंटिस्ट से बन गया ISI एजेंट?
यंग साइंटिस्ट से बन गया ISI एजेंट?
कथित तौर पर आईएसआई एजेंट निशांत अग्रवाल ब्रह्मोस ऐरोस्पेस में सीनियर सिस्टम इंजिनियर के रूप में काम करते थे। उनके पास सिस्टम इंजिनियरों, टेक्निकल सुपरवाइजर्स और टेक्निशन समेत 40 लोगों के प्रबंधन की जिम्मेदारी थी। निशांत को 2017-2018 का यंग साइंटिस्ट अवॉर्ड भी मिला था।
साढ़े 11 घंटे तक ISI कनेक्शन खंगालती रही टीम
साढ़े 11 घंटे तक ISI कनेक्शन खंगालती रही टीम
निशांत के मकान मालिक मनोहर काले ने बताया कि यह इंजिनियर वर्धा रोड पर पिछले वर्ष (2017) से किराये के मकान में रह रहा था। काले ने बताया कि पुलिस टीम सुबह 5:30 बजे इमारत में पहुंची और शाम 5 बजे तक वहां रुकी।
जानिए, क्या है ब्रह्मोस ऐरोस्पेस
जानिए, क्या है ब्रह्मोस ऐरोस्पेस
ब्रह्मोस ऐरोस्पेस का गठन भारत के रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (डीआरडीओ) और रूस के ‘मिलिटरी इंडस्ट्रियल कंसोर्टियम’ (एनपीओ मशीनोस्त्रोयेनिया) के बीच संयुक्त उद्यम के रूप में किया गया है। भारत और रूस के बीच 12 फरवरी, 1998 को हुए एक अंतर-सरकारी समझौते के माध्यम से यह कंपनी स्थापित की गई थी।
निशांत के मकान मालिक ने बताई यह बात
निशांत के मकान मालिक ने बताई यह बात
पाकिस्तान के साथ अहम जानकारी साझा करने के आरोपी निशांत अग्रवाल के मकान मालिक ने यह भी कहा, ‘निशांत यहां पत्नी के साथ रह रहा था और उसने यहां आने पर मुझे अपने आधार कार्ड की प्रति और अपने नियोक्ता का एक प्रमाणपत्र दिया था।’

पाकिस्तान में चैटिंग, कंप्यूटर में संदिग्ध चीजें और…

पाकिस्तान में चैटिंग, कंप्यूटर में संदिग्ध चीजें और...
यूपी एटीएस के आईजी असीम अरुण ने बताया, ‘उसके निजी कंप्यूटर में कई संदिग्ध चीजें मिली हैं। हमें उसके खिलाफ सबूत मिला है कि वह फेसबुक पर पाकिस्तान से जुड़ी कुछ आईडी के संपर्क में है।’
Posted on Leave a comment

फेसबुक पर दिल लगा गायब हुई नाबालिग को मुंबई से रुड़की लेकर पहुंची पुलिस

roorkee,image,photo,best,picture
अपने प्रेमी से शादी करने घर से भागकर मुंबई पहुंची किशोरी को रुड़की पुलिस मंगलवार को ले आई। यहां पुलिस ने परिजनों को कोतवाली में बुलाकर नाबालिग के बयान दर्ज किए। साथ ही उसे परिजनों के सुपुर्द कर दिया। नाबालिग के सकुशल घर पहुंचने पर पुलिस ने भी राहत की सांस ली।

सिविल लाइंस कोतवाली क्षेत्र के एक गांव की किशोरी की मुंबई के युवक से फेसबुक पर दोस्ती हुई थी। फेसबुक पर ही दोनों ने अपने मोबाइल नंबर एक-दूसरे को दिए और फिर बातचीत शुरू हो गई। इस बीच दोनों की दोस्ती प्यार में बदल गई। युवक ने किशोरी को मुंबई में अपने घर का पूरा पता भी बताया। इस बीच वह अपने प्रेमी से शादी करने की जिद करने लगी। इस पर प्रेमी ने शादी करने से इंकार कर दिया। इस बात से नाराज होकर किशोरी घर पर बिना बताए प्रेमी से शादी करने के लिए मुंबई चली गई। परिजनों ने उसकी खोजबीन की, उसका पता नहीं लगने पर परिजनों ने कोतवाली में गुमशुदगी दर्ज कराई। पुलिस भी लगातार उसकी छानबीन कर रही थी। इस बीच करीब तीन दिन पूर्व रुड़की पुलिस के पास मुंबई पुलिस ने कॉल कर पूरे घटनाक्रम की जानकारी दी। साथ ही बताया कि वह मुंबई में नारी निकेतन में रह रही है। इंस्पेक्टर साधना त्यागी ने बताया कि पुलिस नाबालिग को मुंबई से रुड़की ले आई है और उसे परिजनों के सुपुर्द कर दिया है।

Posted on Leave a comment

हैदराबाद का बेहतरीन प्रदर्शन जारी, दिल्ली को मिली 9 विकेट से करारी हार

IPL के 42वें मैच में दिल्ली के कप्तान श्रेयस अय्यर ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया और पहले बल्लेबाजी करते हुए दिल्ली ने निर्धारित 20 ओवर में 5 विकेट के नुकसान पर 187 रन का सम्मानजनक स्कोर खड़ा किया। हैदराबाद ने 188  रन के लक्ष्य को एक विकेट के नुकसान पर 18.5 ओवर में हासिल कर लिया इस मैच में सनराइजर्स हैदराबाद की शुरुआत अच्छी नहीं रही उसके सलामी बल्लेबाज शिखर धवन और एलेक्स हेल्स ने पहले विकेट के लिये मात्र 15 रन ही जोड़े थे कि एलेक्स हेल्स 14 रन बनाकर आउट हो गये। इसके बाद दिल्ली के गेंदबाज पूरे मैच में शिखर धवन और कप्तान केन विलियम्सन के आगे बेबस नजर आए।

शिखर धवन और केन विलियम्स ने लगाए अर्धशतक

88  रन के लक्ष्य का पीछा करने उतरी हैदराबाद की टीम की शुरुआत अच्छी नहीं रही उसका पहला विकेट मात्र 15 रन पर गिर गया लेकिन इसके बाद बल्लेबाजी करने आए कप्तान केन विलियम्सन ने शिखर धवन के साथ मिलकर दिल्ली के गेंदबाजों की बखिया उधेड़ दी। शिखर धवन ने जहां अपनी 50 गेंदों की पारी में  92 रन बनाए उन्होंने इस दौरान 9 चौके और  4  छक्के लगाए। तो वहीं कप्तान केन विलियम्सन ने अपनी 53 गेंदों की पारी में  83 रन बनाए इस दौरान उन्होंने 8 चौके और  2  छक्के लगाए। दोनों ही बल्लेबाज अपनी टीम को विजय दिलाकर नाबाद लौटे।

ऋषभ पंत ने लगाया नाबाद शतक

दिल्ली की ओर से पृथ्वी शॉ और जेसन रॉय पारी की शुरुआत के लिये बल्लेबाजी करने पहले विकेट के लिये मात्र 21 रन जोड़ने के बाद दोनों ही बल्लेबाज शाकिब का शिकार बन गये। इसके बाद दिल्ली के स्टार बल्लेबाज ऋषभ पंत ने कप्तान अय्यर के साथ मौर्चा संभाला एक रन लेने के चक्कर में अय्यर भी रन आउट हो गये अब पंत ने हर्षल पटेल के साथ मिलकर दिल्ली की पारी को आगे बढ़ाया। दोनों ने 55 रन की साझेदारी कर दिल्ली को शुरुआती झटकों से उबारा अब पंत खुल चुके थे और अपना अर्धशतक भी पूरा कर चुके थे। इसके बाद पंत ने ग्लेन मैक्सवेल के साथ 31 गेंदों पर 63 रनों की तेज साझेदारी की। जिसमें मैक्सवेल ने मात्र 9 रन का योगदान दिया। पंत ने आज एंकर की भूमिका निभाते हुए नाबाद शतक जमाया। उन्होंने कुल 63 गेंदों का सामना किया और इस दौरान 15 चौके और  7 छक्के लगाकर नाबाद 128 रन बनाए।

Posted on Leave a comment

एबी डीविलियर्स ने बैंगलोर रॉयल चैलेंजर्स को दिलाई शानदार जीत, दिल्ली डेयर डेविल्स 6 विकेट से हारा

IPL 2018 का 19वां मुकाबला रॉयल चैलेंजर बैंगलोर और दिल्ली डेयरडेविल्स के बीच खेला गया। इस मैच में बैंगलोर ने एबी की नाबाद 90 रन की पारी के दम पर दिल्ली को 6 विकेट से हरा दिया।

इस मैच में बैंगलोर के कप्तान विराट कोहली ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी का फैसला किया। पहले बल्लेबाजी करते हुए दिल्ली ने रिषभ पंत और श्रेयस अय्यर की अर्धशतकीय पारी के दम पर 20 ओवर में 5 विकेट के नुकसान पर 174 रन बनाए। बैंगलोर को जीत के लिए 175 रन बनाने थे जिसे इस टीम ने 18 ओवर में 4 विकेट के नुकसान पर बना डाला। एबी को मैन ऑफ द मैच का खिताब मिला। दिल्ली के खिलाफ मिली जीत के बाद बैंगलोर अंक तालिका में 4 अंक के साथ 5वें नंबर पर आ गया है। वहीं दिल्ली डेयरडेविल्स के 2 अंक हैं और वो सबसे नीचे यानी 8 वें नंबर पर है।

एबी ने खेली नाबाद 90 रन की पारी

दिल्ली की टीम ने दूसरी पारी में बैंगलोर को पहला झटका जल्द ही दे दिया। ओपनर बल्लेबाज मनन वोहरा सिर्फ 2 रन बनाकर मैक्सवेल की गेंद पर जेसन रॉय के हाथों कैच आउट हो गए। बैंगलोर का दूसरा विकेट डी कॉक के तौर पर गिरा। 18 रन बनाकर डी कॉक रन आउट हो गए। कप्तान विराट कोहली ने 26 गेंदों पर 30 रन की पारी खेली। हर्षल पटेल की गेंद पर विराट का कैच ट्रेंट बोल्ट ने बाउंड्री पर लपक लिया। कोरी एंडरसन को तेज गेंदबाज ट्रेंट बोल्ट ने 15 रन पर क्लीन बोल्ड कर दिया। एबी डीविलियर्स ने 39 गेंदों पर 10 चौके और 5 छक्के की मदद से नाबाद 90 रन बनाए और अपनी टीम को जीत दिलाई। मनदीप सिंह भी 17 रन बनाकर नाबाद रहे।

ऋषभ पंत ने खेली तूफानी पारी

दिल्ली की टीम को पहला झटका कप्तान गौतम गंभीर के तौर पर लगा। गंभीर 10 गेंदों पर 3 रन बनाकर उमेश यादव की गेंद पर चहल के हाथों कैच आउट हुए। दिल्ली के दूसरे ओपनर बल्लेबाज को युजवेंद्र चहल ने 5 रन पर क्लीन बोल्ड कर दिया। श्रेयस अय्यर ने 31 गेंदों पर 4 चौके और 3 छक्कों की मदद से 52 रन की अर्धशतकीय पारी खेली। वो वाशिंगटन सुंदर की गेंद पर मो. सिराज के हाथों लपके गए। टीम के तूफानी बल्लेबाज मैक्सवेल का फ्लॉप होना लगातार जारी है। वो चहल की गेंद पर 4 रन बनाकर सिराज के हाथों कैच आउट हुए। ऋषभ पंत ने अपनी टीम के लिए अहम पारी खेलते हुए 48 गेंदों पर 85 रन की पारी खेली। पंत ने अपनी पारी में 6 चौके और 7 छक्के लगाए। पंत एंडरसन की गेंद पर एबी के हाथों लपके गए। बैंगलोर की तरफ से युवेंद्र चहल ने दो, उमेश यादव, वाशिंगटन सुंदर और कोरी एंडरसन ने एक-एक विकेट लिए।

Posted on Leave a comment

हैदराबाद की लगातार तीसरी जीत, कोलकाता को 5 विकेट से हराया

आइपीएल 2018 के 10वें मुकाबले में कोलकाता नाइट राइडर्स को सनराइजर्स हैदराबाद ने 5 विकेट से हरा दिया। इस मैच में सनराइजर्स हैदराबाद ने टॉस जीतकर कोलकाता को पहले बल्लेबाजी का न्यौता दिया। कोलकाता ने 20 ओवर में 8 विकेट खोकर 138 रन बनाए। हैदराबाद को जीत के लिए 139 रन का लक्ष्य मिला था जिसे इस टीम ने 19 ओवर में 5 विकेट खोकर हासिल कर लिया। ये हैदराबाद की लगातार तीसरी जीत थी।

केन विलियमसन का अर्धशतक

साहा अच्छी बल्लेबाजी कर रहे थे लेकिन नरेन की एक गेंद को खेलने की कोशिश में वो अपना कैच दिनेश कार्तिक को थमा बैठे। साहा ने 15 गेंदों पर 24 रन बनाए। शिखर धवन को भी नरेन ने सस्ते में चलता कर दिया और सिर्फ 7 रन के स्कोर पर क्लीन बोल्ड कर दिया। मनीष पांडे को कुलदीप ने अपना पहला शिकार बनाया और 4 रन पर एलबीडब्ल्यू आउट कर दिया। शाकिब अल हसन को पीयूष चावला ने 27 रन पर क्लीन बोल्ड कर दिया। कप्तान विलियमसन ने 44 गेंदों पर 50 रन बनाए। उन्हें मिचेल जॉनसन ने रसेल के हाथों कैच आउट करवाया। यूसुफ पठान 17 रन जबकि दीपक हुडा 5 रन बनाकर नाबाद रहे।

कोलकाता की तरफ से सुनील नरेन ने दो जबकि मिचेल जॉनसन, पीयूष चावला और कुलदीप यादव ने एक-एक विकेट लिए।

क्रिस लीन ने खेली 49 रन की पारी

कोलकाता की शुरुआत अच्छी नहीं रही और टीम के ओपनर बल्लेबाज रॉबिन उथप्पा 8 गेंदों पर 3 रन बनाकर आउट हो गए। नितिश राणा को स्टेनलाक ने अपना शिकार बनाया और 18 रन पर उनका कैच मनीष पांडे ने पकड़ा। सुनील नरेन सिर्फ 9 रन बनाकर शाकिब अल हसन का शिकार बने। नरेन का कैच केन विलियमसन ने पकड़ा। शाकिब ने अपनी ही गेंद पर क्रिस लीन का बेहतरीन कैच लपका। लीन ने 34 गेंदों पर शानदार 49 रन बनाए। आंद्रे रसेल 9 रन बनाकर कैच आउट हो गए। कप्तान कार्तिक को भुवनेश्वर ने अपना शिकार बनाया। उन्होंने 27 गेंदों पर 29 रन बनाए और अपा कैच विकेट के पीछे साहा को थमा बैठे। शिवम मावी 7 रन बनाकर सिद्धार्थ कौल का शिकार बने। मिचेल जॉनसन 4 रन बनाकर नाबाद रहे।

हैदराबाद की तरफ से भुवनेश्वर कुमार ने तीन, बिली स्टेनलाक और शाकिब ने दो-दो जबकि सिद्धार्थ कौल ने एक विकेट चटकाया।

Posted on Leave a comment

दिल्ली ने मुंबई को जबकि हैदराबाद ने कोलकाता को हराया, देखिए तस्वीरें

आइपीएल के इस सीजन का दसवां मुकाबला कोलकाता और हैदराबाद के बीच खेला गया और इस मैच में हैदराबाद ने कोलकाता को पांच विकेट से हरा दिया। इस मैच में पहले बल्लेबाजी करते हुए कोलकाता ने 20 ओवर में 8 विकेट पर 138 रन बनाए। जीत के लिए मिले लक्ष्य को हैदराबाद ने 19 ओवर में पांच विकेट शेष रहते हासिल कर लिया।

केन विलियमन ने अर्धशतक लगाकर अपनी टीम की जीत तय कर दी।

दूसरी पारी में साहा ने 15 गेंदों पर 24 रन बनाकर

हैदराबाद को अच्छी शुरुआत देने की कोशिश की।

कोलकाता के खिलाफ धवन सफल नहीं रहे और 7 रन बनाकर आउट हो गए। कोलकाता के लिए ओपनर बल्लेबाज क्रिस लीन ने सबसे ज्यादा 34 गेंदों पर 49 रन बनाए।

कप्तान दिनेश कार्तिक ने 27 गेंदों पर 29 रन की पारी खेली।

रॉबन उथप्पा फिर से फेल रहे और सिर्फ तीन रन बनाकर कैच आउट हो गए। आइपीएल में शिवम मावी का ये पहला मैच था। उन्होंने 7 रन बनाए और अपना विकेट गवां दिया।

आइपीएल सीजन 11 के नौवें मुकाबले में दिल्ली डेयर डेविल्स का सामना मुंबई इंडियंस से हुआ। इस मुकाबले में मुंबई को दिल्ली के हाथों 7 विकेट से हार का सामना करना पड़ा। मुंबई ने इस मैच में पहले बल्लेबाजी करते हुए 195 रन बनाए थे। इसके बाद जीत के लिए मिले लक्ष्य को दिल्ली ने तीन विकेट पर हासिल कर लिया।

दिल्ली के ओपनर बल्लेबाज जेसन रॉय ने अपनी टीम के लिए तूफानी पारी खेली। उन्होंने 53 गेंदों पर 91 रन बनाए। जेसन की पारी से दिल्ली को जीत मिली।

दिल्ली के कप्तान गौतम गंभीर कुछ खास नहीं कर पाए और 16 गेंदों पर 15 रन बनाकर आउट हो गए।

रिषभ पंत अपने अर्धशतक से चूक गए लेकिन उन्होंने 25 गेंदों पर 47 रन की अच्छी पारी खेली और टीम की जीत में अच्छी भूमिका निभाई।

श्रेयस अय्यर ने 20 गेंदों पर 27 रन की नाबाद पारी खेली।

मुंबई की ताबड़तोड़ शुरुआत

मुंबई की टीम ने सूर्य कुमार यादव को ओपनिंग के लिए भेजकर दिल्ली की टीम को हैरान कर दिया। सूर्य कुमार यादव ने पहले ही ओवर में दिल्ली के ट्रेंट बोल्ट की खबर लेते हुए 15 रन ठोक दिए।

यादव के साथ-साथ इविन लुइस ने भी मुंबई को तेज़-तर्रार शुरुआत दी। लुइस ने 28 गेंदों पर 48 रन की ताबड़तोड़ पारी खेलकर दिल्ली की दिलेरों की हालत खराब कर दी।

तेवतिया ने दिया दोहरा झटका

मुंबई इंडियंस को पहला झटका दिल्ली के स्पिन गेंदबाज़ राहुल तेवतिया ने दिया। तेवतिया ने इविन लुईस को 48 रन के स्कोर पर जेसन रॉय के हाथों कैच आउट करवाया। इसके अगले ही ओवर में तेवतिया ने सूर्य कुमार यादव को 53 रन पर एलबीडब्लयू आउट कर मुंबई को दूसरा झटका दे दिया।

इशान किशन की तेज़-तर्रार पारी

इशान किशन ने दिल्ली के गेंदबाज़ों पर प्रहार करना जारी रखा। किशन 23 गेंदों में 44 रन की पारी खेली। इस दौरान उन्होंने 5 चौके और 2 छक्के भी लगाए।

क्रिस्चियन ने दो गेंदों पर झटके दो विकेट

इसके बाद डेन क्रिस्चियन ने दो गेंदों पर दो विकेट झटककर, दिल्ली की मैच में वापसी करा दी। क्रिस्चियन ने पहले इशान किशन को बोल्ड किया और फिर अगली ही गेंद पर क्रिस्चियन ने पोलार्ड को बोल्ड कर दिया।

इसके बाद दिल्ली के गेंदबाज़ों ने दमदार वापसी करते हुए मुंबई की टीम को निर्धारित 20 ओवर में 194 रन पर रोक दिया। मुंबई ने 7 विकेट गंवाए।

Posted on Leave a comment

D Story behind “Ladies First”

Long ago , a man & woman were madly in luv . Dey wanted 2 marry . Parents didn’t approve. They decided 2 suicide 2gether & planned 2 jump frm a mountain . D man couldn’t bare 2 c his sweetheart fall …

He convinced her dat he wil jump first , he jumpd ….

Dat lady never did …!!!