Posted on Leave a comment

पंजाबी एक्टर परमीश वर्मा को एक शो के दौरान गोली मारी, इस गैंगस्टर ने हमले का जिम्मा लिया

Gaal Ni Kadni Singer Parmish Verma को मारी गोली

पंजाबी फिल्म इंडस्ट्री और उनके चाहने वालों के लिए एक बुरी खबर है। पंजाबी सिंगर, अभिनेता और निर्देशक परमीश वर्मा किसी अज्ञात युवके के द्वारा गोली मार दी गई है। इसके बाद उनको अस्पताल में भर्ती करवाया गया है। बता दें कि उनको देर रात गोली मारकर हमलावर मौके से फरार हो गया। बैसाखी की मुबारकबाद के साथ अक्षय कुमार ने शेयर किया केसरी का नया लुक बता दें कि परमीश को मोहाली में गोली मारी गई थी और वहीं के अस्पताल में वो भर्ती है।

बता दें कि पंजाबी इंडस्ट्री का उभरता हुआ स्टार परमीश को कहा जा रहा है और उनका हाल ही में रिलीज हुआ गाना गाल नी कडनी काफी बड़ा हिट हुआ है। मिली जानकारी के मुताबिक वो मोहाली में शो करने गए और शो के दौरान ही किसी ने उनके ऊपर गोली चला दी। आनन फानन में उनको मोहाली के फोर्टिस अस्पताल में भर्ती करवाया गया था। इसके अलावा उनके परिवार वाले फैंस काफी परेशान है क्योंकि उनको एमरजेंसी में भर्ती करवाया गया है और उनका अभी भी इलाज चल रहा है। क्षेत्रीय एसएसपी ने बताया कि उनको मोहाली के सेक्टर 19 मे गोली मारी गई है और वहीं पर उनका प्रोग्राम चल रहा था।

परमीश के फैंस के लिए खुशखबरी ये है कि उनके घुटने में गोली लगी थी और वो अब खतरे से बाहर आ चुके है और अस्पताल में उनको कुछ और समय तक रहना पड़ सकता है। बता दे कि परमीश को गोली मारने का जिम्मा एक गैंगस्टर दिलप्रीत सिंह ने लिया है और वो एक लोकल गैंगस्टर बताया जा रहा है।

इस शख्स ने फेसबुक पर पोस्ट डाला है और हमले का जिम्मा लेते हुए लिखा है कि हां मैने गोली मारी है और तुझे जहां मिलना हो मिल लेना। आगे उसने कहा है कि इस बार तो तू बच गया लेकिन अब नहीं बचेगा।परमीश के जानने वालों की माने तो उनकी किसी से कोई दुश्मनी नहीं थी।  बता दें कि इस समय पंजाबी सिनेमा और संगीत की माने तो परमीश युवाओं के दिलों पर राज रहा है और युवा परमीश वर्मा को काफी ज्यादा पसंद कर करते है। शुक्रवार की रात कुछ ऐसा हुआ जिसने अचानक लोगों की खुशी को डर में बदल दिया और परमीश को गोली मार दी गई। हालांकि जिस शख्स ने इस हमले की जिम्मेदारी लेते हुए ये पोस्ट डाला था उसको परमीश के फैंस ने खूब गालियां दी है और बुरा भला कहा था। फिलहाल परमीश अब खतरे से बाहर है और बहुत जल्द फिर से अपने फैंस के सामने अपनी आवाज और अभिनय के साथ वापस लौटेंगे।

Posted on Leave a comment

भगत सिंह के केस से जुड़ी सभी फाइलें पाक में सार्वजनिक, दस्तावेजों से सामने आई एक अनोखी बात

शहीद भगत सिंह और उनके साथियों पर चल रहे मुकदमे और फांसी से जुड़ी सभी फाइलों को पाकिस्तान के पंजाब प्रांत की सरकार ने सार्वजनिक कर दिया है। इस केस से जुड़ी कुछ फाइलें हफ्ते की शुरआत में ही सार्वजनिक कर दी गई थीं। पंजाब सरकार ने भगत सिंह की फांसी के 87 साल गुजर जाने के बाद यह फैसला लिया था।

(वीडियो: पाक मीडिया रिपोर्ट)

भगत सिंह और उनके साथी सुखदेव व राजगुरु को ब्रिटिश पुलिस अधिकारी सांडर्स की हत्या में 23, मार्च, 1931 को लाहौर में फांसी दी गई थी। सार्वजनिक किए गए नए रिकार्ड में केस से जुड़ी खबरों की क्लिपिंग, सांडर्स की पोस्टमार्टम रिपोर्ट, सुखदेव व राजगुरु को फांसी देने का वारंट समेत ब्रिटिश पुलिस द्वारा सिंह और उनके साथियों के अड्डे पर छाप मारने में बरामद हुए पिस्टल व बुलेट की तस्वीरें समेत कई अन्य दस्तावेज शामिल हैं।

भगत सिंह द्वारा 27 अगस्त, 1930 को कोर्ट के फैसले की कॉपी मांगने के साथ सिंह की सजा के खिलाफ उनके पिता सरदार किशन सिंह की कोर्ट में दाखिल की गई याचिका को पहले ही सार्वजनिक कर दिया गया था।

23 मार्च, 1931 को जेल निरीक्षक द्वारा बनाए गए मुत्यु प्रमाण पत्र को भी सार्वजनिक किया गया है। साथ ही जेल में किताबों और अखबार मुहैया कराने की मांग के लिए भगत सिंह के पत्र को भी आम नागरिकों के सामने प्रत्यक्ष किया गया है। कई दस्तावेज भगत सिंह के साथियों के ठिकानों पर ब्रिटिश पुलिस की छापेमारी से भी संबंधित हैं।

दस्तावेज सार्वजनिक होने के बाद भगत सिंह से जुड़ी एक अनोखी बात भी सामने आई है। सिंह अपने किसी भी पत्र में आपका आभारी या आज्ञाकारी लिखने की जगह आपका आदि, आदि लिखा करते थे। पंजाब के अभिलेख विभाग का कहना है कि अभी सिंह के केस से जुड़ी कुछ फाइलों को ही सार्वजनिक किया जा रहा है। बाकी दस्तावेज मंगलवार को सार्वजनिक किए जाएंगे।

Posted on Leave a comment

10 बयान, जो बताते हैं सिद्धू कितने बड़े पलटबाज, हो रही जग-हंसाई

कांग्रेस के 84वें अधिवेशन में नवजोत सिंह सिद्धू बीजेपी पर जरूर जमकर बरसे हों, लेकिन उनका भाषण सोशल मीडिया पर ट्रोल हो रहा है. कुछ वक़्त पहले तक भारतीय जनता पार्टी में रहते हुए सिद्धू ने जितना बुरा-भला कांग्रेस और उसके नेताओं को का अब उन्हीं बातों पर वे पलट चुके हैं. आइए जानते हैं कब-कब क्या बोले सिद्धू
10 बयान, जो बताते हैं सिद्धू कितने बड़े पलटबाज, हो रही जगहंसाई

2013: नरेंद्र भाई के जन्म दिन पर यहां आना ठीक वैसा ही है जैसा कोई मिट्टी का ढेला गुलाबों की क्यारी में आ गया हो. जैसे कोई तिनका नर्मदा में बहता-बहता शिवलिंग के ऊपर टिक जाए. वैसे सिद्धू आज नरेंद्र भाई के जन्म दिन पर आकर महसूस कर रहा है. 2018: कांग्रेस अधिवेशन में सिद्धू ने वही शेर का इस्तेमाल किया जो कभी नरेंद्र मोदी के लिए उन्होंने 2013 में कहा था. उन्होंने कहा कि सिद्दू कांग्रेस अधिवेशन में ठीक वैसा ही महसूस कर रहा है जैसे कोई तिनका नर्मदा में बहता-बहता शिवलिंग के ऊपर टिक जाए. वैसा सिद्धू महाकुंभ में आकर महसूस कर रहा है.

10 बयान, जो बताते हैं सिद्धू कितने बड़े पलटबाज, हो रही जगहंसाई

2013: नरेंद्र भाई मोदी के साथ आकर मैं खुद को बड़ा भाग्यवान मानता हूं. मैं आपके सामने शीश झुकाता हूं. वो लोग आपके सामने कभी नहीं झुकते जो अकड़ में होते हैं. अकड़ना तो मुर्दों की पहचान होती है. ये कांग्रेस वालों की पहचान है जम के लूटेंगे और तुम विरोध करोगे तो डट के कूटेंगे. 2018: मैं मनमोहन सिंह के सामने शीश झुकाता हूं. झुकते वो लोग आपके सामने कभी नहीं है जिनमें अकड़ होती है.

10 बयान, जो बताते हैं सिद्धू कितने बड़े पलटबाज, हो रही जगहंसाई

2013: मौनी बाबा…मौनी बाबा…मोबाइल साइलेंट मोड़ पर करना हो तो उसे मनमोहन सिंह मोड़ पर कर दो. बोलो सही है की नहीं है. 2018: मनमोहन सिंह. जो आपके मौन ने कर दिया वो बीजेपी का शोर शराबा नहीं कर पाया.

10 बयान, जो बताते हैं सिद्धू कितने बड़े पलटबाज, हो रही जगहंसाई

2013: प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह सरदार है ये मैं नहीं कह सकता. 2018: मनमोहन सिंह जी आप सरदार भी हैं और असरदार भी हैं.

10 बयान, जो बताते हैं सिद्धू कितने बड़े पलटबाज, हो रही जगहंसाई

2013: कांग्रेस, मुन्नी से ज़्यादा बदनाम है. अब तो ख़ुद मुन्नी भी इन पर शर्मिंदा है.2018: कांग्रेस कोई बर्फ की कली नहीं है जो पिघल जाएगी. कांग्रेस 70 साल पुरानी पार्टी है. इसे हिलाना आसान नहीं.

10 बयान, जो बताते हैं सिद्धू कितने बड़े पलटबाज, हो रही जगहंसाई

2013: जब भारत माता का चीरहरण हो रहा है. जब भारत माता की लाज, भारत माता की शान उनका गौरव और सिर का पल्लू उछल रहा हो और ये कांग्रेस वाले 50 साल से ऐसा कर रहे हो तो हमें प्रण करना होगा की आजादी की शाम नहीं होने देंगे. जब तक तन में एक लहू भी बाकी है भारत माता का आँचल नीलाम नहीं होने देंगे. 2018: हम कांग्रेसियों को प्रण करना होगा की आजादी की शाम नहीं होने देंगे. जब तक तन में एक लहू भी बाकी है भारत माता का आँचल नीलाम नहीं होने देंगे.

10 बयान, जो बताते हैं सिद्धू कितने बड़े पलटबाज, हो रही जगहंसाई

2013: नरेंद्र भाई का कद दोगुन- तिगुना हर दिन बढ़ रहा है. आज अनिल अंबानी, धीरूभाई अंबानी से भी उनका कद अमीर हो गया है. 2018: कमाए होंगे अम्बानियों ने पैसे बने होंगे बड़े-बड़े सेठ. यदि किसी ने 20 साल में सबसे ज्यादा इज्जत कमाई है तो वो है हमारी अध्यक्षा सोनिया गांधी.

10 बयान, जो बताते हैं सिद्धू कितने बड़े पलटबाज, हो रही जगहंसाई

2013: मेरी एक ही तमन्ना इच्छा है. एक ही लालसा है कि भारतीय जनता पार्टी वाले लाल किले पर तिरंगा फैराते दिखाई दे.2018: अपने पूर्वजों का आशीर्वाद है. जब तक मेरे बदन में लहू होगा तब तक मैं राहुल भैया से लाल किले पर झंडा फहराए बिना नहीं मानूंगा मैं.

10 बयान, जो बताते हैं सिद्धू कितने बड़े पलटबाज, हो रही जगहंसाई

2013: है अंधेरा बहुत. उजाला होना चाहिए सूरज निकलना चाहिए. जैसे भी हो मौसम बदलना चाहिए. जो लोग बदलते हैं नकाब उनका जनाजा निकलना चाहिए. (ये बात सिद्धू ने कांग्रेस के लिए कही थी.)2018: है अंधेरा बहुत. उजाला होना चाहिए सूरज निकलना चाहिए. जैसे भी हो मौसम बदलना चाहिए. जो लोग बदलते हैं नकाब उनका जनाजा निकलना चाहिए. (यही बात दोबारा सिद्धू ने बीजेपी के लिए कही.)

10 बयान, जो बताते हैं सिद्धू कितने बड़े पलटबाज, हो रही जगहंसाई

2013: बुलबुला चाहे छोटा हो लेकिन पानी के ऊपर वह जीता है. नरेंद्र मोदी का जीवन भी इसी तरह है. 2018: कांग्रेस के अधिवेशन का ये पल ठीक उस बुलबुले की तरह है जो पानी के ऊपर होता है. ये पल मेरे लिए भी ठीक उसी तरह है.

Posted on Leave a comment

दीपिका-रणवीर के पेरेंट्स की हुई मुलाकात, कुछ महीनों में होगी शादी!

पिछले साल अनुष्का शर्मा और विराट कोहली की शादी के बाद खबरें आई कि इस साल दीपिका पादुकोण और रणवीर सिंह भी शादी के बंधन में बंध जाएंगे. अब रिपोर्ट्स की मानें तो दोनों के पेरेंट्स ने मिल कर शादी की डेट भी फिक्स कर ली है.

SpotboyE की खबर के मुताबिक, पिछले हफ्ते दीपिका के पेरेंट्स बंगलुरू से मुंबई रणवीर के माता-पिता से मिलने आए थे. दोनों परिवारों की मुलाकात दीपिका के घर में हुई और वहां शादी की डेट के बारे में भी बात हुई. इसके बाद दोनों परिवार डिनर करने बाहर गए.

वेबसाइट ने सूत्रों के हवाले से लिखा है- रणवीर-दीपिका डेस्टिनेशन वेडिंग चाहते हैं, लेकिन रणवीर के पेरेंट्स चाहते हैं कि शादी मुंबई में हो क्योंकि उनके ज्यादातर रिश्तेदार वहीं रहते हैं. वो नहीं चाहते कि डेस्टिनेशन वेडिंग के कारण उनके रिश्तेदार शादी में शामिल न हो पाए.

सूत्र ने आगे बताया- शादी साउथ इंडियन रीति-रिवाजों से होगी. वेन्यू के लिए ताज लैंड्स एंड, फोर सीजन्स और सेंट रेजिस को देखा जा रहा है. शादी के बाद एक ग्रैंड रिसेप्शन भी होगा.

कहा जा रहा है कि शादी अगले कुछ महीनों में हो सकती है और दीपिका ने इसके लिए शॉपिंग भी शुरू कर दी है. दीपिका, रणवीर के पेरेंट्स के साथ शॉपिंग के लिए 2 मार्च को लंदन भी निकल चुकी हैं, जहां तीनों ज्वैलरी की शॉपिंग कर रहे हैं.

रणवीर, जोया अख्तर की फिल्म ‘गली बॉय’ की शूटिंग में बिजी होने के कारण लदंन नहीं जा सके.

Posted on Leave a comment

मुरैना: खेत में बैठ कर शराब पी रहा था युवक, नशे में सांप को काटा, सांप की मौत

मध्य प्रदेश के मुरैना जिले से एक बेहद हैरतअंगेज खबर सामने आई है. सबलगढ़ तहसील के पचेर गाँव में शराब के नशे में धुत एक युवक ने एक सांप को दबोच लिया और उसे काट लिया, जिससे सांप की मौत हो गई. हाल ही में एक ऐसा मामला यूपी से भी सामने आया था.

शराबी युवक भी बाद में बेहोश होकर गिर पड़ा. जिला अस्पताल में भर्ती युवक को इलाज के बाद डिस्चार्ज कर दिया गया है.

जिला अस्पताल के चिकित्सा विशेषज्ञ डॉ राघवेंद्र यादव ने बताया कि युवक कल्याण जालिम सिंह कुशवाह अपने खेत पर शराब पी रहा था. तभी वहां एक जहरीला सांप निकला. सांप को देखते ही वह बौखला गया और उसने झपट्टा मार सांप को दबोच लिया और उसे काट लिया. सांप ने कुछ देर बाद ही दम तोड़ दिया.

डॉ यादव ने बताया कि सांप का जहर जैविक प्रोटीन होता है. बॉडी में इंजेक्ट होने और खून में मिलने के बाद ही इसका असर होता है. युवक को ज़हर का असर नहीं हुआ. वह अधिक शराब पीने और घबराहट की वजह से बेहोश हो गया था. होश में आने के बाद उसे डिस्चार्ज कर दिया गया.

यूपी के हरदोई में भी हुआ था ऐसा मामला

उत्तर प्रदेश के हरदोई जिले में किसान सोनेलाल (40) अपने जानवरों के लिए खेत से चारा लेने गए थे. चारा बीनते समय झाड़ियों में छुपे सांप ने सोनेलाल को काट लिया. सांप के काटने के बाद सोनेलाल ने बिना डरे उसे पकड़ लिया और सांप के फन को दांत से काटकर खा गया, और गांव लेकर आ गया.

गांव के लोगों ने उसे समझाया मगर उसका गुस्सा शांत नहीं हुआ. जब गुस्सा शांत हुआ तो उसने सांप को फेंक दिया. किसान के इस काम को देखकर लोग हैरत में पड़ गए. परिजनों ने सीएचसी में उसे भर्ती कराया जहां उसे प्राथमिक उपचार के बाद छुट्टी दे दी गयी. अब उसकी हालत ठीक है लेकिन चिकित्सक भी इस घटना को लेकर हैरान है.

Posted on Leave a comment

आप सांसद पर 5000 करोड़ की मानहानि का मुकदमा

फ्रांस से खरीदे गए लड़ाकू विमान राफेल के सौदे को लेकर देश के जाने-माने उद्योगपति अनिल अंबानी ने आम आदमी पार्टी (आप) के राज्यसभा सांसद संजय सिंह पर 5000 करोड़ रुपए की मानहानि का मुकदमा दायर किया है। अंबानी का आरोप है कि संजय सिंह ने झूठे आरोप लगाकर उनकी कंपनी को राफेल सौदे में खींचा था। उद्योगपति ने यह भी दलील दी है कि आप सांसद संजय सिंह के आरोपों से उनकी छवि को नुकसान पहुंचा है। उद्योगपति अंबानी दिल्ली के दो तिहाई हिस्से में बिजली की आपूर्ति करने वाली निजी बिजली कंपनी बीएसईएस के मालिक भी हैं।

आम आदमी पार्टी के नेता व सांसद संजय सिंह ने बीते 13 फरवरी को कहा था कि भारत और फ्रांस के बीच 36 राफेल विमानों को लेकर 56000 करोड़ रुपए का सौदा हुआ है। उन्होंने आरोप लगाया कि इसमें रिलायंस डिफेंस लिमिटेड फ्रांस की एविएशन कंपनी डसॉल्ट एविएशन को 22000 करोड़ का ठेका मिला। उन्होंने सौदे की गोपनीयता पर भी सवाल उठाए थे। इस सौदे पर भ्रष्टाचार करने का आरोप लगाते हुए संजय सिंह ने ट्वीट कर लिखा- राफेल डील ही साबित होगी मोदी सरकार के ताबूत में आखिरी कील, 500 करोड़ का जहाज 1500 करोड़ में, अनुभवहीन रिलायंस कंपनी को जहाज के पार्ट बनाने का 22000 करोड़ का ठेका मिला।

सांसद के इसी आरोप को अपनी मानहानि करार देते हुए अंबानी ने संजय सिंह को मानहानि का नोटिस भेजा है। मानहानि का दावा किए जाने पर संजय सिंह ने अंबानी पर पलटवार किया। उन्होंने ट्वीट कर कहा कि उद्योगपतियों की दबंगई चरम पर है, पहले घोटाला करेंगे, फिर उसके खिलाफ आवाज उठाने वालों पर मानहानि करेंगे। राफेल रक्षा सौदे का घोटाला उजागर करने पर अंबानी ने मेरे ऊपर देश का सबसे बड़ा 5000 करोड़ का मानहानि नोटिस भेजा है। मैं अपनी बात पर कायम हूं। बंदर घुड़की नहीं चलेगी। पार्टी के एक अन्य नेता आशतोष ने ट्वीट करके कहा कि अब तो डर लग रहा है कहीं नीरव मोदी भी 11400 करोड़ का मानहानि का मुकदमा न कर दे।

बता दें कि राफेल सौदे को लेकर कांग्रेस ने भी केंद्र की राजग सरकार को लगातार कठघरे में खड़ा कर रखा है। खुद पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी बार-बार, संसद के भीतर और बाहर आकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से इस मामले में जवाब मांग रहे हैं। आम आदमी पार्टी नेताओं ने भी इस मुद्दे को बार-बार उठाया है। अब पार्टी सांसद पर मानहानि का मुकदमा होने के बाद इस मुद्दे पर नए सिरे से सियासत गरमा गई है।

उद्योगपतियों की दबंगई चरम पर है। पहले घोटाला करेंगे, फिर उसके खिलाफ आवाज उठाने वालों पर मानहानि करेंगे। राफेल रक्षा सौदे का घोटाला उजागर करने पर अंबानी ने मेरे ऊपर देश का सबसे बड़ा 5000 करोड़ का मानहानि नोटिस भेजा है। मैं अपनी बात पर कायम हूं।

– संजय सिंह का ट्वीट

Posted on Leave a comment

BOX OFFICE: 10 करोड़ की ओपनिंग के साथ अय्यारी, अक्षय कुमार का रोकेगी रास्ता!

सिद्धार्थ मल्होत्रा और मनोज बाजपेयी की बहुप्रतीक्षित फिल्म अय्यारी आखिरकार इस शुक्रवार, 16 फरवरी को रिलीज हो रही है। नीरज पांडे के निर्देशन में बनी यह फिल्म एक्शन- क्राइम थ्रिलर फिल्म है। लिहाजा, फैंस को इसका बेसब्री से इंतजार है।

25 जनवरी से पोस्टपोंड होते होते आखिकार फिल्म 16 फरवरी को रिलीज होने के लिए तैयार है। देखना दिसचस्प होगा कि क्या अय्यारी बॉक्स ऑफिस पर अब पैडमैन का रास्ता रोक देगी? या पैडमैन अपनी जबरदस्त गति बनाएगी रखेगी! ट्रेड पंडितों की मानें तो अय्यारी 8-10 करोड़ तक की ओपनिंग दे सकती है। जबकि पॉजिटिव वर्ड ऑफ माउथ का फायदा फिल्म को वीकेंड पर मिल सकता है।

सच कहा जाए नीरज पांडे के फिल्मों की शानदार फैन फॉलोइंग है, जिन्हें उनकी फिल्म का इंतजार होता है।  लिहाजा, देखना दिलचस्प होगा कि अय्यारी बॉक्स ऑफिस पर कैसा कमाल दिखाती है।

Posted on Leave a comment

युवराज सिंह को मिली डॉक्टरेट की मानद उपाधि

स्टार क्रिकेटर युवराज सिंह को खेल में दिये योगदान के लिये ग्वालियर के आईएमटी विश्वविद्यालय ने आज दर्शनशास्त्र में डाक्टरेट की मानद् उपाधि से नवाजा। युवराज को यह सम्मान मैदान में असाधारण खेल कौशल दिखाने के अलावा कैंसर जैसी गंभीर बीमारी से निजात पाने के बाद दूसरों को हौसला देने के लिये दिया गया।

यहा जारी एक विज्ञप्ति के मुताबिक युवराज के अलावा यह सम्मान डा. ए.एस किरण कुमार (अंतरिक्ष विज्ञान), गोविंद निहलानी (फिल्म), डा. अशोक वाजपेयी (कवि), रजत शर्मा ( मीडिया), डा. आर.ए माशेलकर (विज्ञान एवं तकनीक) और अरुणा राय (सामाजिक कार्य) को भी दिया गया।

युवराज ने कहा, ‘‘ डाक्टरेट की उपाधि पाकर मैं सम्मानित महसूस कर रहा हूं। इससे मुझे अतिरिक्त जिम्मेदारी का अहसास होता है और मैं अपने कार्यों से दूसरों के लिये उदाहरण बनना चाहता हूं।’’ युवराज ने देश के लिये 400 से ज्यादा अंतरराष्ट्रीय मैचों में 10,000 से ज्यादा रन बनाये हैं। उन्होंने भारत के टी20 विश्व कप 2007 और एकदिवसीय क्रिकेट विश्व कप 2011 जीतने में अहम भूमिका निभाई थी।

Posted on Leave a comment

शहीद भगत सिंह की 110वीं वर्षगांठ पर नमन करें उनकी शहादत को

 

The date of Singh’s birth is subject to dispute. Commonly thought to be born on either 27 or 28 September 1907, some biographers believe that the evidence points to 19 October 1907. His family disclose the date 28 on the occasion of his sister’s death, that was his 107th birth anniversary.

 

तेरा वैभव अमर रहे माँ।

हम दिन चार रहे न रहें।।