Posted on

यहां हुई है बादल और बर्फ की चोरी, इस देश पर लगा है आरोप

ईरान में हो रहे जलवायु परिवर्तन को देखते हुए इजरायल संदेह के घेरे में है। अन्‍य देशों के साथ इजरायल की कोशिश है कि ईरान में बारिश न हो। लेकिन ईरानी मौसम विभाग प्रमुख अहद वजीफे इससे सहमत नहीं हैं। उन्‍होंने कहा कि इस तरह के सवाल और आरोपों से समाधान नहीं मिलने वाला है हम अपने इस संकट का सही समाधान करने में जुटे हैं।

अहमदीनेजाद ने भी लगाया था ऐसा आरोप
जलाली ने कहा कि अफगानिस्तान और भूमध्य सागर के बीच का 2200 मीटर का पहाड़ी हिस्सा बर्फ से ढका होता है, लेकिन ऐसा ईरान में नहीं है। हालांकि यह पहला मामला नहीं है कि जब ईरान में किसी अफसर ने अन्य देश पर बारिश चोरी का आरोप लगाया हो। इसके पहले भी 2011 में पूर्व राष्ट्रपति महमूद अहमदीनेजाद ने कहा था कि पश्चिमी देशों के चलते ईरान में सूखा पड़ा हुआ है। यूरोपीय देश एक खास तरह के उपकरण का इस्तेमाल करके बादलों को कैद कर लेते हैं।

ईरान के मौसम विभाग के प्रमुख अहद वजीफे ने इससे स्‍पष्‍ट तौर से इन्कार करते हुए कहा है कि बादल या बर्फ की चोरी नहीं की जा सकती। ईरान लंबे वक्त से सूखे से जूझ रहा है। यह एक वैश्विक समस्या है न कि केवल ईरान की।

Posted on

लंदन में चम्मच चुराते पकड़े गए ममता बनर्जी के साथ गए कई पत्रकार

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के साथ आधिकारिक दौरे पर लंदन में साथ गए वरिष्ठ पत्रकारों पर चांदी का सामान चुराने का आरोप लगा है। यहां जब लग्जरी होटल में मेहमानों के लिए डिनर का आयोजन किया गया तो यह मामला सामने आया। आउटलुक की रिपोर्ट के मुताबिक होटल के सुरक्षा अधिकारी भी इस घटना से काफी हैरत में पड़ गए जब उन्होंने सीसीटीवी में वीवीआईपी मेहमानों को ऐसा करते देखा। उन्होंने सीसीटीवी में देखा कि कुछ लोग चांदी के चम्मच चुराकर पर्स और बैग में डाल रहे थे। जब उन्होंने पता लगाया कि यह लोग कौन है तो अधिकारी हैरान रह गए। ये लोग ममता के साथ गए वरिष्ठ पत्रकार और संपादक थे।

रिपोर्ट के अनुसार सबसे पहले टेबल से जिस शख्स ने चम्मच चुराया वह बंगाल के सम्मानित समाचार पत्र के एक वरिष्ठ पत्रकार थे। एक अन्य वरिष्ठ पत्रकार ने भी वहीं हरकत की। वह अन्य समाचार प्रकाशन के संपादक हैं। यह जानकारी मुख्यमंत्री के अधिकतर विदेशी दौरों पर साथ रहने वाले एक पत्रकार ने दी। बंगाली पत्रकार ने बताया जब पत्रकार चोरी कर रहे थे तो उनको लगा कि उनके आसपास लगे कैमरे काम नहीं कर रहे हैं क्योंकि बंगाल में अक्सर ऐसा होता है कि सीसीटीवी कैमरे काम नहीं करते। यहां उससे उलट हुआ, यहां सारे कैमरे काम भी कर रहे थे और सुरक्षा अधिकारी उन पर नजर भी बनाए हुए थे। सुरक्षा अधिकारियों की नजर में ही सबसे पहले ये हरकत आई।

उन्होंने देखा कि कुछ लोग होटल के सामान की चोरी कर बैग में डाल रहे हैं। जब उनसे पूछताछ हुई तो उन्होंने पहले कहा कि उन्होंने कुछ नहीं लिया है पर जब उनको सीसीटीवी फुटेज दिखाई गई तो सच्चाई सामने आई। होटल के सुरक्षा दस्ते ने सहयोग न करने पर पूरे मामलों को सार्वजनिक करने की धमकी भी दी। इसपर आरोपी ने चोरी की बात को स्वीकारा। इसके बाद उन्हें 50 पौंड का जुर्माना भरना पड़ा। वे कैमरे में चांदी का सामान अपने बैग में डालते दिखे। अभी तक ममता सरकार की ओर से इस बारे में कुछ नहीं कहा गया है।