Posted on

कुली का कमाल: स्‍टेशन के फ्री वाई फाई की मदद से पास की UPSC की परीक्षा

सपने पूरे करने के लिए हौंसला चाहिए सुविधा नहीं इस सच को सुनाती है इस कुली कीकहानी जो स्‍टेशन के फ्री वाईफाई की मदद से सिविल सेवा परीक्षा में पास हुआ।

केरल में एर्नाकुलम स्टेशन पर कुली का काम करने वाले श्रीनाथ के. की कहानी कुछ अनोखी है, जिन्होंने रेलवे स्टेशन पर उपलब्ध मुफ्त वाईफाई सुविधा के सहारे इंटरनेट के जरिये पढ़ाई की और केरल पब्लिक सर्विस कमीशन, केपीएससी की लिखित परीक्षा पास की। सबसे बड़ी बात ये है कि तैयारी के दौरान वह किताबों में नहीं डूबे रहे बल्‍कि अपना काम करते हुए स्मार्ट फोन और ईयरफोन के सहारे पढ़ाई करते रहे। अब अगर श्रीनाथ साक्षात्‍कार में सफल हो जाते हैं तो वह भूमि राजस्व विभाग के तहत विलेज फील्ड असिस्टेंट के पद पर नियुक्‍त्‍त हो जायेंगे।

तीसरे प्रयास में मिली सफलता

श्रीनाथ पिछले पांच वर्ष से कुली के रूप में काम कर रहे हैं और उनका सिविल परीक्षा के इम्‍तिहान में बैठने का ये तीसरा प्रयास था। उनका कहना है कि यह पहला मौका था, जब उन्‍होंने स्टेशन पर उपलब्ध वाईफाई सुविधा का इस्तेमाल किया। उन्‍होंने ये भी बताया कि कुली का काम करने के दौरान वे हमेशा ईयरफोन कान में लगाए रखते थे और इंटरनेट पर अपने संबंधित विषयों पर लेक्चर सुना करते थे। उसे मन ही मन दोहराते भी रहते थे और रात को मौका मिलते ही फिर रिवाइज कर लेते थे। इसी वाईफाई की मदद से उन्‍होंने ऑनलाइन अपना परीक्षा फार्म भरा और देश दुनिया की ताजा जानकारियों से खुद को अपडेट किया साथ ही अपने विषयों की जम कर तैयारी की।

Posted on

व्हाट्सएप का नया QR कोड पेमेंट फीचर पेटीएम और फ्रीचार्ज के लिए बनेगा सिरदर्द

फेसबुक अधिकृत व्हाट्सएप सिर्फ एक मैसेजिंग एप तक ही सीमित नहीं रही है। भले ही इस एप की शुरुआत टेस्टिंग और फोटोज, वीडियोज भेजने से हुई हो। लेकिन इन सालों में व्हाट्सएप ने स्नैपचैट की तरह स्टेटस फीचर्स से लेकर इन-एप यूट्यूब प्लेबैक, वॉयस और वीडियो कालिंग और पेमेंट्स फीचर जोड़ दिया है। इससे यूजर्स का अनुभव और बेहतर हुआ है।

आसानी से भेज पाएंगे पैसे : अब व्हाट्सएप ने QR फीचर पेश किया है। इस फीचर की मदद से यूजर्स आसानी से पैसे भेज पाएंगे। फिलहाल, यह फीचर बीटा वर्जन में है। यह फीचर इससे पहले पेश किए गए सेंड टू यूपीआई आईडी फीचर में जोड़ा गया है।

भारत में QR फीचर पेटीएम, फ्रीचार्ज और मोबिक्विक जैसे ई-वॉलेट एप्स पर पहले से उपलब्ध है। व्हाट्सएप का यह नया पेमेंट फीचर यूजर्स को अपनी ओर आकर्षित करने के साथ-साथ सरकार के डिजिटल इंडिया प्रोग्राम को भी बूस्ट देगा।

कहां उपलब्ध है यह फीचर: यह नया फीचर गूगल प्ले बीटा प्रोग्राम के तहत व्हाट्सएप वर्जन 2.18.93 पर उपलब्ध है। एंड्रॉयड बीटा यूजर्स सेटिंग्स में पेमेंट में जाएं। इसके बाद न्यू पेमेंट्स पर टैप करें। इसमें स्कैन QR कोड का विकल्प दिखाई देगा। इसमें आप जितनी भी राशि भेजना चाहे उसे एंटर कर के सेंड कर दें।

प्रतिस्पर्धियों के लिए खतरा : व्हाट्सएप पे के लॉन्च के कारण भारत में मौजूद लोकल पेमेंट सेवा प्रदाताओं के बीच हलचल मच गई। पेटीएम के सीईओ विजय शेखर शर्मा का डर तो ट्विटर पर सबके सामने भी आ चुका है। उन्होंने कुछ समय पहले ट्ववीट किया था की व्हाट्सएप के इस नए फीचर के आने से यूपीआई सिस्टम आहत होगा।

इस मामले में पेटीएम सीईओ ने किया था ट्ववीट : विजय शेखर शर्मा ने एक बयान में कहा की-”फेसबुक अपना पेमेंट सिस्टम लाकर देश में बड़ा प्लेयर बनकर मोनोपॉली स्थापित करने ओर यूपीआई को अपने फायदे के लिए इस्तेमाल करने का प्रयास कर रहा है।”

हालांकि, अन्य लोकल प्लेयर्स का मानना है की भले ही गूगल ओर व्हाट्सएप जैसी कंपनियों को यूपीआई प्लेटफार्म स्थापित करने के लिए थोड़ी फ्लेक्सिबिलिटी दी जा रही है लेकिन उनसे भी सभी दिशानिर्देशों का पालन करवाया जा रहा है। भारत में व्हाट्सएप लगभग 80 प्रतिशत छोटे बिजनेस को उपभोक्तओं से कनेक्ट करने के लिए मदद करता है।

व्हाट्सएप में जुड़ेंगे ये खास फीचर्स : व्हाट्सएप भविष्य में ऑटो रेस्पोंसेज, बिजनेस प्रोफाइल बनाना, चाट माइग्रेशन ओर एनालिटिक्स जैसे फीचर्स लेकर आएगा। यूजर्स व्हाट्सएप बिजनेस के लिए लैंडलाइन नंबर भी रजिस्टर कर पाएंगे। यह कंपनी द्वारा लिया जाने वाला बड़ा कदम हो सकता है। क्योंकि लोगों को ग्राहकों के साथ अपना निजी नंबर शेयर करना पसंद नहीं होता। बिजनसेज Away का ऑटोमेटेड रिस्पांस भी सेट कर पाएंगे। यह मैसेज उपभोक्ताओं को तब मिलेगा जब वो कंटेट्स करने का प्रयास कर रहे होंगे और आप उपलब्ध नहीं होंगे।

व्हाट्सएप की योजना को ध्यान में रखते हुए यह बात तो साफ है की लोकल ई-वॉलेट कंपनियों के सामने कड़ी प्रतिस्पर्धा है। ग्राहकों को अपनी ओर आकर्षित करने के लिए इन कंपनियों को नए सिरे से योजना बनानी होगी।अन्यथा देश में व्हाट्सएप का एकाधिकार होना संभव है।

Posted on

मोदी से लेकर ट्रंप तक, जानें ये बड़ी हस्तियां किन स्मार्टफोन्स का करते हैं इस्तेमाल

तकनीक के क्षेत्र में स्मार्टफोन्स ने जितनी तरक्की की है वो दूसरे किसी भी गैजेट्स के लिए एक मिसाल है। स्मार्टफोन्स में आए दिन हो रहे बड़े बदलावों ने यूजर्स को हैरान कर दिया है। ऐसे में यूजर्स के दिमाग में हमेशा सवाल उठाता है कि जिन हस्तियों को वो फॉलो करते हैं वो कौन सा स्मार्टफोन इस्तेमाल करते हैं? हम आपको कुछ चुनिंदा हस्तियों के स्मार्टफोन्स के बारे में बताने जा रहे हैं, तो डालते हैं इन नामों पर एक नजर।

नरेन्द्र मोदी- भारत के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी देश के उन लोकप्रिय नेताओं में से एक हैं जिन्हें तकनीक के काफी लगाव है। पीएम मोदी अक्सर सुनहरे पलों को अपने फोन के कैमरे में कैद करते दिखाई देते हैं। कहना गलत नहीं होगा कि भारत में सेल्फी का प्रचलन पीएम मोदी ने ही शुरू किया। पीएम मोदी को अक्सर आईफोन का इस्तेमाल करते देखा गया है। पीएम मोदी आईफोन 6 के साथ कई जगहों पर देखे गए हैं।

डोनाल्ड ट्रंप- दुनिया के सबसे ताकतवर देश अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप को एंड्रायड फोन का इस्तेमाल करते देखा गया है। एक खबर के मुताबिक डोनाल्ड ट्रंप सैमसंग गैलेक्सी एस3 का इस्तेमाल करते पाए गए हैं लेकिन हाल ही में मीडिया रिपोर्ट्स में बताया गया कि उन्होने आईफोन का इस्तेमाल करना शुरू कर दिया है। हालांकि इस खबर की अभी कोई भी पुष्टी नहीं हुई है।

बराक ओबामा- अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति और नोबेल पुरस्कार विजेता बराक ओबामा अपने कार्यकाल के दौरान ब्लैकबेरी स्मार्टफोन का इस्तेमाल करते नजर आए।

किम जोंग उन- उत्तर कोरिया के राष्ट्रपति किम जोंग उन को अक्सर किसी मिसाइल के लॉन्च पर खुशी से झूमते देखा गया है। लेकिन फोन की बात करें जो किम जोंग उन HTC Butterfly फोन के साथ देए गए हैं। ये स्मार्टफोन HTC One का लिमिटेड एडिशन फ्लैगशिप फोन है।

यिंगलक शिनावात्रा- थाईलैंड की पहली महिला प्रधानमंत्री यिंगलक शिनावात्रा को उनके कार्यकाल के वक्त पांच स्मार्टफोन के साथ देखा गया है।