Posted on

कुली का कमाल: स्‍टेशन के फ्री वाई फाई की मदद से पास की UPSC की परीक्षा

सपने पूरे करने के लिए हौंसला चाहिए सुविधा नहीं इस सच को सुनाती है इस कुली कीकहानी जो स्‍टेशन के फ्री वाईफाई की मदद से सिविल सेवा परीक्षा में पास हुआ।

केरल में एर्नाकुलम स्टेशन पर कुली का काम करने वाले श्रीनाथ के. की कहानी कुछ अनोखी है, जिन्होंने रेलवे स्टेशन पर उपलब्ध मुफ्त वाईफाई सुविधा के सहारे इंटरनेट के जरिये पढ़ाई की और केरल पब्लिक सर्विस कमीशन, केपीएससी की लिखित परीक्षा पास की। सबसे बड़ी बात ये है कि तैयारी के दौरान वह किताबों में नहीं डूबे रहे बल्‍कि अपना काम करते हुए स्मार्ट फोन और ईयरफोन के सहारे पढ़ाई करते रहे। अब अगर श्रीनाथ साक्षात्‍कार में सफल हो जाते हैं तो वह भूमि राजस्व विभाग के तहत विलेज फील्ड असिस्टेंट के पद पर नियुक्‍त्‍त हो जायेंगे।

तीसरे प्रयास में मिली सफलता

श्रीनाथ पिछले पांच वर्ष से कुली के रूप में काम कर रहे हैं और उनका सिविल परीक्षा के इम्‍तिहान में बैठने का ये तीसरा प्रयास था। उनका कहना है कि यह पहला मौका था, जब उन्‍होंने स्टेशन पर उपलब्ध वाईफाई सुविधा का इस्तेमाल किया। उन्‍होंने ये भी बताया कि कुली का काम करने के दौरान वे हमेशा ईयरफोन कान में लगाए रखते थे और इंटरनेट पर अपने संबंधित विषयों पर लेक्चर सुना करते थे। उसे मन ही मन दोहराते भी रहते थे और रात को मौका मिलते ही फिर रिवाइज कर लेते थे। इसी वाईफाई की मदद से उन्‍होंने ऑनलाइन अपना परीक्षा फार्म भरा और देश दुनिया की ताजा जानकारियों से खुद को अपडेट किया साथ ही अपने विषयों की जम कर तैयारी की।

Posted on

ट्राई ने दी अनुमति: हवाई यात्रा के दौरान यात्रियों को मिलेगी इंटरनेट की सुविधा

हवाई जहाज में यात्रा के दौरान इंटरनेट की सुविधा न मिलने से अक्सर लोग परेशान रहते थे लेकिन अब परेशानी खत्म होने वाली है. दरअसल ट्राई इस पक्ष में है कि हवाई यात्रा के दौरान इंटरनेट की सुविधा उपलब्ध हो.

ट्राई, हवाई यात्रा के दौरान विमान में इंटरनेट सेवा की अनुमति देने को लेकर काफी समय से विचार कर रहा था ताकि इस विषय पर नियम तय किए जा सकें. लेकिन अब ट्राई ने हवाई सेवा प्रदान करने वाली कंपनियों की सिफारिशों को मान लिया है.

अब आप यात्रा के दौरान विमान में इंटरनेट इस्तेमाल कर सकेंगे. इस दौरान आपका फोन फ्लाईट मोड पर ही रहेगा और आप विमान में लगे वाईफाई की मदद से इंटरनेट की सुविधा का लाभ उठा सकेंगे.हांलाकि ट्राई ने कहा है कि मोबाईल डाटा के इस्तेमाल को अनुमति नहीं दी जा सकती है. माना जा रहा है कि ट्राई के इस कदम से हवाई यात्रा करने वाले लाखों यात्रियों को इसका लाभ मिलेगा.

यात्रा के दौरान वाईफाई के जरिए ऑनलाइन कॉल की सुविधा मुहैया कराई जाएगी वे भी तब जब विमान तीन हजार मीटर की उंचाई पर हो. इसके पीछे ट्राई की दलील है कि यात्रियों को टैक्सी बुक करने के लिए वाईफाई की जरुरत पड़ती है ऐसे में इंटरनेट की सुविधा का होना जरूरी है.